केजरीवाल सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में खर्च करेगी 1544 करोड़ रुपए
केजरीवाल सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में खर्च करेगी 1544 करोड़ रुपएSocial Media

केजरीवाल सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में खर्च करेगी 1544 करोड़ रुपए

दिल्ली केबिनेट ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को लेकर सरकार की तरफ से चल रही विभिन्न गतिविधियों पर होने वाले खर्च के लिए 1544 करोड़ रुपए के फंड को मंजूरी दे दी है।

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने राजधानी में कोरोना संक्रमण को काबू करने और कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूती से लड़ने के लिए वित्त वर्ष 2021-22 में करीब 1544 करोड़ रुपए खर्च करेगी।

दिल्ली केबिनेट ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को लेकर सरकार की तरफ से चल रही विभिन्न गतिविधियों पर होने वाले खर्च के लिए शुक्रवार को 1544 करोड़ रुपए के फंड को मंजूरी दे दी है। यह बजट परीक्षण और लैब सुदृढ़ीकरण करने, दवा एवं उपकरण खरीदने, अतिरिक्त मानव संसाधन जुटाने, अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने और कोविड देखभाल केंद्रों के प्रबंधन आदि पर खर्च किया जाएगा।

श्री केजरीवाल ने कहा कि एक जिम्मेदार सरकार होने के नाते हम लोग सभी महत्वपूर्ण कदम उठा रहे हैं। कोरोना की संभावित अगली लहर के मद्देनजर सरकार हर स्तर पर अपनी तैयारियों को मजबूत करने में लगी है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि एक जिम्मेदार और संवेदनशील सरकार के रूप में केजरीवाल सरकार दिल्ली के लोगों की सुरक्षा के लिए कोविड के खिलाफ कड़े कदम उठा रही है। अब हम राज्य आपातकालीन कोविड प्रतिक्रिया पैकेज के माध्यम से कोरोना के खिलाफ लड़ाई को और मजबूत कर रहे हैं। यह पैकेज दिल्ली में संसाधनों के प्रबंधन को और बढ़ाएगा और कोविड की भविष्य की किसी भी लहर से निपटने में महत्वपूर्ण साबित होगा।

केबिनेट बैठक में कोविड-19 के प्रबंधन पर होने वाले खर्च का प्रस्ताव रखा गया। केबिनेट ने यह महसूस किया कि अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है और तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है इसलिए नियंत्रण और रोकथाम को लेकर किसी भी तरह की कोताही नहीं बरतनी चाहिए। इसके बाद केबिनेट ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए सर्व सम्मति से राज्य ईसीआरपी 2021-22 के लिए 1544.24 करोड़ रुपए के फंड को मंजूरी प्रदान कर दी। इस फंड में से दिल्ली सरकार परीक्षण और लैब के सुदृढ़ीकरण मद में 415.54 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इसी तरह, दवा व उपकरणों आदि की खरीद मद में 445 करोड़, अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के मद में 280 करोड़ रुपए, अतिरिक्त मानव संसाधन जुटाने पर 150 करोड़ रुपए और कोविड देखभाल केंद्रों के प्रबंधन के मद में 125 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा अन्य गतिविधियों पर बजट खर्च किया जाना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co