कश्मीर में कोरोना के मद्देनजर लोगों की आवाजाही पर पाबंदी
कश्मीर में कोरोना के मद्देनजर लोगों की आवाजाही पर पाबंदीSocial Media

कश्मीर में कोरोना के मद्देनजर लोगों की आवाजाही पर पाबंदी

जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रसार को रोकने के लिए शुक्रवार को लोगों की आवाजाही और परिवहन पर फिर से पाबंदियां लगा दी गयीं, जिसके कारण सड़कों पर फिर से सन्नाटा छा गया।

राज एक्सप्रेस। जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रसार को रोकने के लिए शुक्रवार को लोगों की आवाजाही और परिवहन पर फिर से पाबंदियां लगा दी गयीं, जिसके कारण सड़कों पर फिर से सन्नाटा छा गया। केंद्र शासित प्रदेश में गुरुवार को इस संक्रमण के 1,117 नए मामले दर्ज किये गये, जिनमें से 785 कश्मीर क्षेत्र में तथा 332 जम्मू क्षेत्र के मामले शामिल हैं। इस घातक विषाणु के कारण 25 मरीजों की मौत हुयी, जिनमें से 12 कश्मीर क्षेत्र में तथा 13 जम्मू क्षेत्र में लोगों ने इस महामारी के कारण जान गंवाई।

प्रशासन ने घाटी में कोरोना के नए मामलों में भारी गिरावट के बाद एक महीने तक चले कर्फ्यू में 31 मई को कुछ ढील दी थी। अधिकांश जिला प्रशासन ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सप्ताहांत के कर्फ्यू के अलावा शुक्रवार को भी प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। घाटी में आज बाजार बंद हैं क्योंकि घाटी में दुकानों तथा व्यापारी प्रतिष्ठानों को सोमवार से गुरुवार तक खोलने की अनुमति है। घाटी में पिछले तीन सप्ताह से संक्रमण के नये मामलों में काफी कमी आई है, लेकिन इसके कारण होने वाली मौतों में कमी नहीं देखने को मिली है।

श्रीनगर जिला प्रशासन ने कोई औपचारिक आदेश जारी नहीं किया है। इसके बावजूद, ग्रीष्मकालीन राजधानी के लाल चौक तथा मुख्य व्यापारिक केंद्र सहित अधिकांश सड़कों और बाजारों को लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए शुक्रवार की सुबह से ही सील कर दिया गया था। सप्ताहांत के कर्फ्यू के मद्देनजर पुराना श्रीनगर में, सिविल लाइंस, नया श्रीनगर कुछ निजी वाहन और तिपहिया वाहन सड़कों पर चलते दिखाई दिए, लेकिन दुकानें और व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। मध्य कश्मीर के बडगाम तथा गंदेरबल जिले में भी व्यावसायिक तथा अन्य गतिविधियां ठप रहीं। वाहनों तथा लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए सड़कों को कंटीले तारों से बंद कर दिया गया है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co