कोरोना से हो रही भयावह त्रासदी, दिल्‍ली के CM ने किया छोटे लॉकडाउन का ऐलान
कोरोना से हो रही भयावह त्रासदी, दिल्‍ली के CM ने किया छोटे लॉकडाउन का ऐलानSyed Dabeer Hussain - RE

कोरोना से हो रही भयावह त्रासदी, दिल्‍ली के CM ने किया छोटे लॉकडाउन का ऐलान

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर लॉकडाउन का ऐलान किया और कहा- मुझे उम्मीद है कि यह छोटा लॉकडाउन है और छोटा ही रहेगा और शायद इसे बढ़ाने की जरूरत नहीं पडे़गी।

दिल्ली, भारत। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में कोविड-19 तेजी से पैर पसार रहा है, जिससे हालात ये हो गए है कि, दिल्ली के अस्पतालों में आईसीयू बेड फुल हो चुके हैं, दूसरी तरफ ऑक्सीजन की किल्‍लत को लेकर भी हाहाकार जारी है। दिल्ली में तेज़ी से बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर महत्वपूर्ण घोषणा की।

दिल्ली में लगा लॉकडाउन :

कोरोना से हो रही भयावह त्रासदी के चलते दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने यह घोषणा की है कि, ''दिल्ली में आज रात 10 बजे से अगले सोमवार को सुबह 5 बजे तक 6 दिन के लिए लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। लोगों की शादियां केवल 50 लोगों के साथ सम्पन्न होंगी, उसके लिए अलग से पास दिए जाएंगे। मुझे उम्मीद है कि यह छोटा लॉकडाउन है और छोटा ही रहेगा और शायद इसे बढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।''

हमारी गुजारिश है कि लॉकडाउन का पूरा पालन करें, घर से बाहर नहीं निकलें। आपने हर बार मेरी अपील मानी है, पूरी उम्मीद है कि इस बार भी हमारा साथ देंगे।
अरविंद केजरीवाल, दिल्‍ली के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा- दिल्ली के अस्पतालों में अब जगह नहीं बच पा रही है। स्वास्थ्य सुविधाएं चरमरा जाएं और कोई भयावह त्रासदी का सामना करना पड़े, इससे पहले हमें कड़े कदम उठाने होंगे।

  • प्रति 10 लाख टेस्ट के लिहाज से तुलना की जाए तो दिल्ली में शायद दुनिया में सबसे ज्यादा टेस्ट हो रहे हैं। हमने न नए कोरोना केस के आंकड़े कम करके बताए और न ही मौतों को कम करके बताया। हमने ईमानदारी से सारी बातें बताईं, इस कारण आपने हमारा भरपूर साथ दिया।

  • तीन-चार दिनों से 25 हजार के आपास केस आ रहे हैं। पॉजिटिविटी रेट बढ़ गया है। दिल्ली में बेड की भारी कमी हो गई है, आइसीयू बेड्स लगभग खत्म हो गए हैं, ऑक्सिजन भी खत्म होने की स्थिति पैदा हो रही है। दवाइयों की भी कमी हो रही है, खासकर रेमडेसिविर की। ये सब हम आपको डराने के लिए नहीं बताए। हमें आगे क्या करना होगा, इसकी चर्चा के लिए हमने ये बातें बताईं।

  • अगर 25-25 हजार केस आते रहे तो कोई भी सिस्टम कॉलेप्स कर जाएगा। अगर अब हमने कड़े कदम नहीं उठाए तो हमारे अस्पतालों की व्यवस्था चरमरा जाएगी। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि अभी सिस्टम कॉलेप्स कर गया है, लेकिन अगर कदम नहीं उठाए तो यह हो जाएगा।

  • छह दिन का बहुत छोटा लॉकडाउन लगा रहे हैं। प्रवासी मजदूरों से अपील है कि, वो दिल्ली छोड़कर नहीं जाएं। मैं हूँ ना, मुझ पर भरोसा रखिए। दिल्ली सरकार आपका पूरा ख्याल रखेगी। छोटा सा Lockdown है, मुझे यकीन है कि हम सब मिलकर लड़ेंगे तो इस आपदा से जल्दी निकल जाएंगे।

  • हमने आपके सामने सभी तथ्यों को हमेशा ईमानदारी से रखा, आपसे कभी झूठ नहीं बोला। हमनें Test कम नहीं होने दिए, हमनें मौत के आंकड़े नहीं छिपाए। कितने ICU Beds है, क्या परिस्थितियां है? हर चीज़ जनता के सामने रखी इसलिए हमेशा जनता का सहयोग मिला।

  • दिल्ली में कोरोना से स्थिति गंभीर है। मैंने तथ्य डराने के लिए नहीं बताए। बड़े शहरों में 6K Case होने पर ही System Collapse कर गया था। दिल्ली में 4th Wave है, हमारा Health System तनाव में है, 25K Case होने पर भी हमारा System Collapse नहीं किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co