आजमगढ़ में क्रेश होने से चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के हुए कई टुकड़े

UP: उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ से एक चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर सामने आई है। यह हादसा इतना जबरदस्त था कि, चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के छोटे छोटे टुकड़े हो गए। साथ ही पायलट की मौत हो गई।
आजमगढ़ में क्रेश होने से चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के हुए कई टुकड़े
UP Azamgarh Chartered Aircraft CrashSocial Media

उत्तर प्रदेश। उत्तर प्रदेश पहले ही कोरोना की जद में आने से बुरी तरह प्रभावित है। वहीं, अब उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से एक चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर सामने आई है। यह हादसा इतना जबरदस्त था कि, चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के छोटे छोटे टुकड़े हो गए। साथ ही विमान उड़ा रहे पायलट की तुरंत ही मौके पर मौत हो गई।

चार्टर्ड एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त :

दरअसल, आज यानि सोमवार को सुबह लगभग 11 बजे उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में सरायमीर थाना क्षेत्र के कुसहां गांव में एक चार्टर्ड एयरक्राफ्ट बड़ी दुर्घटना का शिकार हो गया। इस हादसे एयरक्राफ्ट की काफी दुर्गती हो गई, इतना ही नहीं विमान कई टुकड़ो में टूट कर तितरबितर हो गया। हादसे में विमान चला रहे ट्रेनी पायलट कोनार्क सरण की जान चली गई। दुर्घटना के बाद स्थानीय लोगों और पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर पायलेट के मृत शरीर को विमान से बाहर निकाला।

हादसे की मुख्य वजह :

खबरों के अनुसार, दुर्घटनाग्रस्त हुआ एयरक्राफ्ट 'टू-सीटर चार्टर्ड एयरक्राफ्ट TB20' बताया जा र्था है। इस हादसे की मुख्य वजह खराब मौसम को माना जा रहा है। यह विमान इतनी तेजी में क्रैश होकर जमीन पर गिरा कि पायलेट को सँभलने का मौका ही नहीं मिला। मौके पर उपस्थित लोगों ने बताया कि, एयरक्राफ्ट के गिरते ही बहुत तेज आवाज हुई जिसे सुनकर गांव के आसपास के लोग मौके पर जमा हो गए। उन्होंने तुंरत पुलिस को जानकारी दी जिसके बाद घटनास्थल पर सरायमीर थाने के साथ ही अन्य थानों की पुलिस फोर्स भी पहुंच गई।

पुलिस ने बताया :

पुलिस ने बताया, यह हादसा ख़राब मौसम के चलते हुए और विमान क्रेश हजार कीचड़ के बीच खेत में जा गिरा जिससे पुलिस को चार्टर्ड एयरक्राफ्ट से पायलेट की बॉडी निकलने के पुलिस को काफी मुश्किल हुई। पुलिस फिलहाल चार्टर्ड एयरक्राफ्ट के टुकड़ो में बड़े पार्ट्स को इकट्ठा कर जानकारी जुटाने में जुटी है। खबरों के अनुसार इस चार्टर्ड एयरक्राफ्ट ने रायबरेली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी से उड़ान भरी थी और वाराणसी के एयर स्पेस से होकर आजमगढ़ से होते हुए वापस लौट रहा था। इसी बिच खराब मौसम के चलते यह हादसा हो गया। बता दें, हादसे में मरने वाले वाले ट्रेनी पायलट कोनार्क सरण की उम्र 30 साल थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co