कोरोना टेस्टिंग में टॉप पर रहा उत्तर प्रदेश, किए गए 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट
कोरोना टेस्टिंग में टॉप पर रहा उत्तर प्रदेश, किए गए 5 करोड़ से ज्यादा टेस्टSocial Media

कोरोना टेस्टिंग में टॉप पर रहा उत्तर प्रदेश, किए गए 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट

राज्यों में कोरोना की टेस्टिंग तेजी से जारी है। जिससे रोगियों की पुष्टि हो सके और उनका सही समय पर इलाज कर उनकी जान बचाई जा सके। इसी बीच उत्तर प्रदेश देश का सबसे ज्यादा टेस्ट करने वाला राज्य बन गया।

उत्तर प्रदेश, भारत। देशभर में पिछले साल से ही कोरोना का कहर जारी था, लेकिन इस साल आई कोरोना की लहर ने देशभर में जम कर आतंक मचाया है। इस साल लाखों लोगों की जान चली गई। हालांकि, इस दौरान देश के राज्यों में कोरोना की टेस्टिंग भी तेजी से जारी रही। जिससे कोरोना के रोगियों की पुष्टि हो सके और उनका सही समय पर इलाज कर उनकी जान बचाई जा सके। इसी बीच उत्तर प्रदेश देश का सबसे ज्यादा टेस्ट करने वाला राज्य बन गया। यहां अब तक 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट किए जा सके हैं।

देश का पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश :

देश में जहां कोरोना के बीच वैक्सीनेशन जारी है। वहीं, देश में कोरोना की टेस्टिंग भी जारी है। सभी राज्य प्रतिदिन ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करने की कोशिश कर रहे हैं। इसी बीच उत्तर प्रदेश में मंगलवार को हुए 3.32 लाख टेस्ट के बात यहां 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट हो चुके हैं। इस प्रकार उत्तर प्रदेश 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला पहला राज्य बन गया है। ऐसा माना जा रहा है कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ट्रिप्पल टी फार्मूला काफी कारगर साबित हुआ है और इसके कारण ही राज्य में कोरोना की दूसरी लहर पर काफी हद तक काबू पाया जा सका है।

उत्तर प्रदेश में अब तक 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट :

इस दौरान उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद द्वारा ये भी बताया गया है कि, ''प्रदेश में 3 लाख 32 हजार टेस्ट किए गए हैं। जिससे केस को प्रथम चरण पर चिन्हित करके आइसोलेट किया जा सके। अब तक कुल 5 करोड़ 32 हजार टेस्ट हो चुके हैं।" इस प्रकार उत्तर प्रदेश 5 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है।

बच्चों के लिए उठाए जाएंगे विशेष कदम :

मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया हैं कि, 'कोरोना की तीसरी लहर से पहले बच्चों के लिए यूपी सरकार की ओर से विशेष कदम उठाए जा रहे हैं। मंगलवार से UP के वैक्सीनेशन सेंटर्स पर उन अभिभावकों के लिए अलग व्यवस्था होगी, जिनके बच्चे 12 साल से कम उम्र के हैं। हर जनपद में कम से कम 2 ऐसे केंद्र बनाए गए हैं जहां ऐसे लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। प्रदेश में 1,51,62,374 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज और 35,03,949 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। कुल मिलाकर 1,86,66,323 डोज दी जा चुकी है।

प्रदेश में एक्टिव मामले :

बताते चलें, जहां देश में कोरोना का आंकड़ा पिछले कुछ दिनों की तुलना में कम हुआ है। वहीं, उत्तरा प्रदेश से पिछले 24 घंटे में मात्र 1500 मामले सामने आये है। इसके अलावा प्रदेश का रिकवरी रेट भी 97.1% पर पहुंच गया है। यहां फिलहाल एक्टिव मामले भी पहले से घटकर 28,000 हो गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co