प्रधानमंत्री से मिलना गुनाह है तो मैं सज़ा भुगतने को तैयार - आचार्य प्रमोद कृष्णम

Acharya Pramod Krishnam : कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा भारत के प्रधानमंत्री से मिलना और उन्हें श्री कल्कि धाम के शिलान्यास समारोह के लिए आमंत्रित करना कोई गुनाह नहीं।
आचार्य प्रमोद कृष्णम
आचार्य प्रमोद कृष्णमRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • आचार्य प्रमोद कृष्णम के निष्कासन का आदेश सोशल मीडिया पर वायरल।

  • निष्कासन की ख़बरों के बीच कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम का बयान।

  • कहा - पीएम को कार्यक्रम में बुलाना कोई गुनाह है?

  • बोले में इसकी सजा भुगतने के लिए तैयार हूँ।

Acharya Pramod Krishnam : उत्तर प्रदेश। कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम के निष्कासन की ख़बरों के बीच उनका बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात को लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि,अगर प्रधानमंत्री से मिलना कोई जुर्म या गुनाह है तो मैं इसकी सजा भुगतने को तैयार हूँ।

दरअसल, बीते दिन गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक निष्कासन का आदेश खूब वायरल हो रहा था। यह आदेश आचार्य प्रमोद कृष्णम के नाम पर था। आदेश में कहा गया था कि, आचार्य प्रमोद कृष्णम को कांग्रेस पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। हालांकि इस पत्र को लेकर कांग्रेस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया था और न ही इसका खंडन किया गया था। इस सम्बन्ध में शुक्रवार को मीडिया बात करते हुए कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने बयान दिया है।

मीडिया को बयान देते हुए कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि, भारत के प्रधानमंत्री से मिलना कोई गुनाह नहीं है, उन्हें श्री कल्कि धाम के शिलान्यास समारोह के लिए आमंत्रित करना भी कोई गुनाह नहीं है और अगर यह गुनाह है तो मैं इसकी सज़ा भुगतने के लिए तैयार हूं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co