बांदा नाव हादसे के शिकार 11 के शव मिले
बांदा नाव हादसे के शिकार 11 के शव मिलेSocial Media

Uttar Pradesh : बांदा नाव हादसे के शिकार 11 के शव मिले, चार की तलाश जारी

बांदा, उत्तर प्रदेश : पुलिस शुक्रवार तक नदी में 35 यात्रियों के डूबने की आशंका व्यक्त कर रही थी, जिनमे से 15 को गुरूवार को ही बचा लिया गया था, जबकि दो को बाद में सुरक्षित निकाल लिया गया।

बांदा, उत्तर प्रदेश। बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र में पिछले गुरूवार को नाव हादसे के शिकार 11 यात्रियों के शव अब तक यमुना नदी से निकाले गए हैं, जबकि चार की तलाश की जा रही है।

पुलिस शुक्रवार तक नदी में 35 यात्रियों के डूबने की आशंका व्यक्त कर रही थी, जिनमे से 15 को गुरूवार को ही बचा लिया गया था, जबकि दो को बाद में सुरक्षित निकाल लिया गया। हालांकि बांदा पुलिस द्वारा आज जारी हताहतों की सूची में 32 नाम शामिल किये गए हैं। पुलिस के अनुसार राहत एवं बचाव कार्य मे जुटे एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के जवानों को अभी भी डूबे चार लोगों की तलाश है।

पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने शनिवार को बताया कि गुरुवार को सीमावर्ती फतेहपुर जिले से बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र के मरका गांव की ओर आ रही 32 यात्रियों से भरी नाव यमुना नदी में डूब गई। जिसमें अब तक 17 लोगों को बचा लिया गया है। घटना के बाद तीन शव बरामद किए गए थे। इनमें दो महिलायें और एक बच्चा शामिल था। बचाव अभियान के दौरान गोताखोरों ने शनिवार को आठ और शव बरामद किये। जिससे घटना में मृतकों की संख्या 11 हो गई। अभी चार अन्य की तलाश जारी है।

बांदा नाव हादसे के शिकार 11 के शव मिले
UP के बांदा जिले में यमुना नदी में पलटी नाव: 17 लोग लापता, अब तक 3 लोगों के शव हुए बरामद

सूत्रों ने बताया कि फतेहपुर निवासी फुलवा,राजरानी (46) के अलावा बांदा में दिनेश के पुत्र किशन (सात माह) के शव गुरूवार को ही मिल गए थे, जबकि बाद में फतेहपुर के विजय कुमार उर्फ जयचन्द्र,राजू और झुल्लू के अलावा एक अज्ञात का शव मिला है। इनके अलावा बांदा निवासी माया,मुन्ना उर्फ राम प्रसाद,प्रीति और गीता के शव नदी से निकाले गए हैं।

उन्होने बताया कि जल पुलिस के गोताखोरों को अभी उजरिया,राजकरन,बाबू और सीमा की तलाश है। सभी बांदा जिले के निवासी है। नदी से सुरक्षित निकाले गए यात्रियों में संगीता, महेन्द्र, महेश, पिंटू और किरन के नाम पुलिस की सूची में उपलब्ध कराए गए हैं। मृतकों में फुलवा का नाम दो बार आने से पुलिस के सामने भी कुछ समय तक भ्रम की स्थिति बन गयी थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co