उत्तर प्रदेश: कारगिल शहीद स्मृति वाटिका कार्यक्रम में CM योगी, दिया यह संबोधन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कारगिल शहीद स्मृति वाटिका कार्यक्रम को संबोधित किया और अपने संबोधन में कहा- आज पूरा देश कारगिल विजय दिवस मना रहा है।
उत्तर प्रदेश: कारगिल शहीद स्मृति वाटिका कार्यक्रम में CM योगी
उत्तर प्रदेश: कारगिल शहीद स्मृति वाटिका कार्यक्रम में CM योगीSocial Media

उत्तर प्रदेश, भारत। कारगिल विजय दिवस की आज 26 जुलाई को 23वीं वर्षगांठ है। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज मंगलवार को लखनऊ में कारगिल विजय दिवस के अवसर पर कारगिल शहीद स्मृति वाटिका कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें CM योगी ने प्रतिभाग किया।

सभी महान सपूतों को नमन :

इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम को संबोधित भी किया और अपने संबोधन में कहा- आज पूरा देश कारगिल विजय दिवस मना रहा है। कारगिल विजय भारत माता के महान सपूतों के सर्वोच्च बलिदान के कारण प्राप्त हुई थी। आज इस अवसर पर भारत माता के उन सभी महान सपूतों को नमन करते हुए मैं अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

कारगिल युद्ध भी स्वतंत्र भारत का एक ऐसा युद्ध था जो भारत पर पाकिस्तान ने जबरन थोपा था। मई 1999 में कारगिल युद्ध प्रारंभ हुआ था और 26 जुलाई 1999 को यानी आज ही के दिन इस युद्ध में भारत की विजय की घोषणा हुई थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

भारत पर युद्ध जबरन थोपा है :

CM योगी ने यह भी बताया कि, "इस विजय के साथ पाकिस्तान पूरी दुनिया में एक्सपोज हुआ था कि, वह भारत के अंदर कैसे घुसपैठ करता है, कैसे भारत पर युद्ध जबरन थोपा है, कैसे पाकिस्तान पूरी दुनिया में एक सिरदर्द बना हुआ है।"

बता दें कि, कारग‍िल युद्ध दो महीनों से अध‍िक समय तक लड़ा गया। इस युद्ध में पाक‍िस्‍तान के ख‍िलाफ जीत को ऑपरेशन व‍िजय का नाम द‍िया गया था। साल 1999 में पाकिस्तानी घुसपैठिए आतंकवादी और सैनिक चोरी-छिपे कारगिल की पहाड़ियों में घुस आए थे। इस घुसपैठ के खिलाफ भारतीय सेना ने 'ऑपरेशन विजय' शुरू किया और एक-एक घुसपैठिए को मौत के घाट उतार दिया या भागने पर मजबूर कर दिया। इस युद्ध को हुए 23 साल हो चुके हैं, इस वर्ष हम कारगिल विजय दिवस की 23वीं वर्षगांठ मना रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co