मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथRE

गोरखपुर में सीएम योगी ने 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन किया वितरण

गोरखपुर में 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन के वितरण हेतु कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हुए।

हाइलाइट्स-

  • गोरखपुर में 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन के वितरण हेतु कार्यक्रम का आयोजन।

  • सीएम योगी ने 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन किया वितरण।

  • सीएम योगी ने कहा- आत्मनिर्भर बनाना सबसे जरूरी।

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन के वितरण हेतु कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हुए, उन्होंने इस मौके पर 1150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन का वितरण किया।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में 1150 महिलाओं को सिलाई मशीनें वितरित किए। इस अवसर पर गोरखपुर, वाराणसी, चन्दौली और सोनभद्र क्षेत्रों में गरीबों व जरूरतमंदों के लिए दो मोबाइल मेडिकल वैन को फ्लैग ऑफ किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मौके पर सभी को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि, हम सभी जानते हैं कि, देश की आधी आबादी (महिलाओं) को सशक्त किए, बिना हम भारत को 'सशक्त' और 'समर्थ' नहीं बना सकते। इसके लिए हमें उन्हें एक सुरक्षित वातावरण प्रदान करना होगा और उन्हें आत्मनिर्भर बनाना होगा। उन्होंने कहा कि, यह सिलाई मशीन उन परिवारों के स्वावलंबन का आधार बनेगी। आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की Top Priority में महिलाओं की सुरक्षा, उनका सम्मान और स्वावलंबन है। महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए उत्तर प्रदेश में आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से हम लोगों ने अनेक कार्यक्रम प्रारंभ किए हैं।

वहीं, गोरखपुर में 1,150 जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन के वितरण हेतु आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, "हम सब जानते हैं कि आधी आबादी का सशक्तिकरण किए बगैर हम भारत को सशक्त और समर्थ नहीं बना सकते। आज यहां केवल सिलाई मशीन ही नहीं मिल रहा है बल्कि 10 दिवसीय प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। ये एक अभिनव प्रयास है। आज जो सिलाई मशीने दी जा रही है, वे परिवारों के स्वावलंबन का आधार बनेंगी।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co