मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथRE

सीएम योगी ने UPSSSC द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्निशियन को वितरित की नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में UPSSSC द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्नीशियन अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरण किया।

हाइलाइट्स-

  • आज लखनऊ में द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्नीशियन अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम।

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कार्यक्रम हुए शामिल।

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरित किया।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश। आज लखनऊ में UPSSSC द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्नीशियन अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हुए। उन्होंने इस कार्यक्रम में UPSSSC द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्नीशियन अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरत किया। इस दौरान जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और जल शक्ति राज्यमंत्री रामकेश निषाद भी मौजूद रहे। कार्यक्रम का आयोजन बजेलोक भवन में किया गया।

बता दें कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ में 'मिशन रोजगार' के अंतर्गत उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा चयनित 242 सहायक बोरिंग टेक्नीशियन को नियुक्ति-पत्र वितरित किया। यह 'नियुक्ति-पत्र' आपके और आप सभी के परिवार के साथ ही समाज की खुशहाली का आधार बनेगा। इस मौके पर सीएम ने कहा, निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के अंतर्गत चयनित सभी टेक्नीशियनों को हृदय से बधाई और शुभकामनाएं।

योगी आदित्यनाथ ने कही यह बात:

इस मौके पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, सहायक बोरिंग टेक्नीशियन के रूप में ट्यूबवेल ऑन और ऑफ करने तक ही जिम्मेदारी नहीं है, बल्कि...अपने अन्नदाता किसानों को राहत देने के लिए सरकार ने व्यापक पैमाने पर तैयारी की है। उन्होंने कहा कि, "वर्ष 2022 में दूसरी बार प्रदेश के अंदर जब डबल इंजन की सरकार आई, हम लोगों ने इन नियुक्तियों को कुशलतापूर्वक संपन्न कराया।"

इससे पहले योगी आदित्यनाथ अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस' के अवसर पर लखनऊ स्थित डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि, "दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित करने और सामाजिक संस्थाओं व विशेष विद्यालयों की प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के साथ ही विशेष विद्यालयों के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित करने का अवसर भी प्राप्त हुआ। आप सभी को मेरी ओर से हार्दिक बधाई और शुभकामनाए।"

उन्होंने आगे कहा कि, "आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी के द्वारा दिया गया शब्द 'दिव्यांग' अपने आप में एक सम्मान है। पहले दिव्यांगजन को ₹300 प्रतिमाह पेंशन की सुविधा मिलती थी। वर्तमान सरकार ने इसे ₹1,000 मासिक करने की कार्यवाही की है। आज प्रदेश के लगभग 10 लाख दिव्यांगजन इस सुविधा का लाभ प्राप्त कर रहे हैं। वर्तमान में दिव्यांग पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार का बजट ₹1,120 करोड़ है। उत्तर प्रदेश पहला राज्य है, जहां दिव्यांगजन के लिए एक नहीं, दो-दो विश्वविद्यालय हैं।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co