प्रयागराज में CM योगी ने 284 विकास योजनाओं की दी सौगात
प्रयागराज में CM योगी ने 284 विकास योजनाओं की दी सौगात Social Media

प्रयागराज में CM योगी ने 284 विकास योजनाओं की दी सौगात एवं प्रबुद्ध जन सम्मेलन को किया संबोधित

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रयागराज में 284 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास किया एवं प्रबुद्ध जन सम्मेलन को संबोधित कर संबोधन में कही ये बातें...

उत्‍तर प्रदेश, भारत। उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आज गुरूवार को जनपद प्रयागराज में प्रबुद्धजन सम्मेलन में सम्मिलित में हुए। यहां उन्‍होंने ₹1,295 करोड़ की 284 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास किया। इस मौके पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे।

तीर्थराज प्रयाग संपूर्ण भारतवासियों की आस्था का केंद्र है :

प्रयागराज में CM योगी आदित्यनाथ ने विकास योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करने के बाद और प्रबुद्ध जन सम्मेलन को संबोधित किया और कहा- यह हमारा सौभाग्य है कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व व उनके मार्गदर्शन में अक्टूबर, 2018 में प्रयागराज कुंभ से एक दिन पहले प्रयागराज को उसका पुरातन नाम प्रदान करने का गौरव हमें प्राप्त हुआ। तीर्थराज प्रयाग संपूर्ण भारतवासियों की आस्था का केंद्र है। तीर्थराज प्रयाग की बात जब हम करते हैं तो इस सृष्टि की उस धरा की संकल्पना सामने आ जाती है जिसे स्वयं भगवान विष्णु ने रचा हो।

  • जब से बीजेपी की सरकार आई है, तबसे हर गरीब को आवास की सुविधा, शौचालय की सुविधा, विद्युत कनेक्शन की सुविधा, उज्जवला योजना की सुविधा इत्यादि मिल रही है।

  • स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत अनेक कार्यक्रम प्रयागराज में संपन्न हुए हैं और संपन्न हो रहे है जैसे ग्रामीण क्षेत्र में हर घर नल योजना जल जीवन मिशन के अंतर्गत पूरी हो रही है।

  • मैं आज यहां आपको आश्वस्त करने आया हूं कि, राज्य सरकार विकास के कार्यक्रमों को तेजी के साथ आगे बढ़ाने के लिए पूरी तत्परता के साथ आपके साथ मिलकर कार्य करेगी। हमारे जन प्रतिनिधि पूरी प्रतिबद्धता और मजबूती एवं संवेदनशीलता के साथ इन कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं। आप सभी का मैं सहयोग चाहूंगा आप सभी इसमें रूचि लें और विकास की इस प्रक्रिया के साथ जुड़े।

  • साथ ही निकाय चुनाव में भाजपा के पक्ष में माहौल बनाते हुए CM योगी ने कहा, अब वह समय चला गया जब केंद्र में किसी और, प्रदेश में किसी और तथा निकाय में किसी और की सरकार होती थी। ऐसा होने पर आपसी तालमेल का अभाव रहता था और नतीजा विकास की रफ्तार भी सुस्त रहती थी। समन्वय और तारतम्यता बने रहने के लिए जरूरी है कि स्थानीय निकाय, राज्य और केंद्र तीनों स्तरों पर जब एक विचारधारा के लोग हों तो विकास की गति को तेजी के साथ आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।

  • इन नगर निकायों की तकदीर और तस्वीर बदलने के लिए अगर हमारे सारे प्रबुद्ध जन सहयोग दे सकें तो भाइयों बहनों हमारे नगर निकाय देश में एक नये गौरव के रूप में प्रस्तुत हो सकते हैं। उस मॉडल को प्रस्तुत करने की दिशा में हम समय मिलकर काम आगे बढ़ा सकेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co