सामाजिक ताने बाने को नुकसान पहुंचाने वाले वंचित समाज के अपराधी
सामाजिक ताने बाने को नुकसान पहुंचाने वाले वंचित समाज के अपराधीSocial Media

सामाजिक ताने बाने को नुकसान पहुंचाने वाले वंचित समाज के अपराधी : योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष तक जिन लोगों ने जाति के नाम पर समाज के ताने बाने को छिन्न भिन्न किया और उन्हे सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित किया, वे सभी वंचित समाज की नजर में अपराधी हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष तक जिन लोगों ने जाति के नाम पर समाज के ताने बाने को छिन्न भिन्न किया और उन्हे सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित किया, वे सभी वंचित समाज की नजर में अपराधी हैं। लोकभवन में ग्राम्य विकास विभाग द्वारा आयोजित मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण कार्यक्रम में मंगलवार को श्री योगी ने 426.94 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले 34,500 आवासों के लाभार्थियों को प्रथम किस्त के रूप में 143 करोड़ की धनराशि बटन दबाकर हस्तांतरित की जबकि वहीं 478.49 करोड़ की लागत से निर्मित 39 हजार आवासों के लाभार्थियों को चाबी वितरित करने के साथ गृह प्रवेश की शुभकामनाएं दी।

उन्होने कहा “ आजादी के 75 वर्ष बाद भी करीब 70 वर्ष तक मुसहर जाति के लोग शासन की सुविधाओं से वंचित रहे, यह देख मैं काफी आश्चर्यचकित रहा। वर्ष 2017 में प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार के आते ही इन लोगों को जमीन का पट्टा देने के साथ उन्हे आवास की सुविधा उपलब्ध कराई गई। प्रदेश में 54 ऐसी जातियां ऐसी थीं जिन्हे आजादी के बाद किसी सुविधा का लाभ नहीं मिला, यहां तक कि आजादी के 75 वर्ष बाद विगत वर्ष पंचायत के चुनाव हुए थे, जिसमें उन्होंने पहली बार अपना ग्राम प्रधान चुना अन्यथा उनको देश के संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकार वेटिंग राइट की सुविधा भी नहीं मिल पाई थी। ”

श्री योगी ने कहा “ मुख्यमंत्री बनने के पहले मैं उनके इस आंदोलन से जुड़ा हुआ था। मैंने वनाधिकार कानून भी संसद में संशाेधित कराकर उन्हे अधिकार दिलाने की बात कही, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि इसमें संशोधन होने के बाद भी प्रदेश ने उसे लागू नहीं किया, जिसके कारण 54 से अधिक बस्तियों के लोगों को किसी सरकारी योजना का लाभ नहीं मिल पाया। आज सोनभद्र में ऐसे लोगों को जमीन का पट्टा आवंटित किया जाएगा। आखिर उन्हे यह सुविधाएं पहले क्यों नहीं मिलीं। पहले प्रदेश में मुसहर, थारू, वनटांगिया, कोल, बुंदेलखंड में शहरिया आदि जातियों शासन की सभी योजनाओं से वंचित थीं। मुझे प्रसन्नता है कि प्रधानमंत्री आवास से वंचित उन सभी जातियों को मुख्यमंत्री आवास योजना से लाभान्वित किया जा रहा है।” मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक एक लाख आठ हजार से अधिक परिवारों को योजनाओं का लाभ दिया गया है। इसके साथ ही दिव्यांग और कुष्ठ रोगियों को इन योजनाओं से जोड़ने का काम हुआ है। वास्तव में इन लोगों को जब योजनाओं का लाभ मिलता है तो योजना यशस्वी होती है। वहीं मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत महिला को ही इसका मालिकाना हक दिया जा रहा है। आजादी के 75 वर्ष तक जिन लोगों ने जाति के नाम पर समाज के ताने बाने को छिन्न भिन्न किया और उन्हे योजनाओं के लाभ से वंचित किया, वे सभी आपकी दृष्टि से आपके अपराधी हैं, क्योंकि उन्होंने आपको शासन की सुविधाओं से वंचित किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co