यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री रामवीर उपाध्याय का निधन
यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री रामवीर उपाध्याय का निधनSocial Media

यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री रामवीर उपाध्याय का निधन, CM योगी आदित्यनाथ ने जताया शोक

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता एवं पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय (Ramveer Upadhyay) का शुक्रवार देर रात यहां एक अस्पताल में उपचार के दौरान निधन हो गया।

आगरा, भारत। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता एवं पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय का शुक्रवार देर रात यहां एक अस्पताल में उपचार के दौरान निधन हो गया। वे 65 वर्ष के थे। उनका अंतिम संस्कार आज शनिवार को हाथरस में किया जायेगा। मंत्री रामवीर उपाध्याय के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शोक व्यक्त किया है।

योग आदित्यनाथ ने जताया दुख:

वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व कैबिनेट मंत्री रामवीर उपाध्याय के निधन पर शोक व्यक्त किया है। योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करते हुए कहा कि, "उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ राजनेता श्री रामवीर उपाध्याय जी का निधन अत्यंत दुःखद है। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि, दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान तथा शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति!"

लंबे समय से बीमार थे रामवीर उपाध्याय:

बता दें कि, मायावती सरकार में ऊर्जा मंत्री रहे रामवीर उपाध्याय का इलाज रेनबो हॉस्पिटल में चल रहा था। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे, अस्वस्थता के चलते काफी समय से वह राजनीति में सक्रिय नहीं थे। रामवीर उपाध्याय के निधन की सूचना से उनके परिजनों-समर्थकों में भारी शोक का माहौल बना हुआ है। रामवीर उपाध्याय लगातार 5 बार विधायक रहे हैं और 4 बार प्रदेश में बसपा सरकार में ऊर्जा, सहित कई अहम विभागों के मंत्री रह चुके थे। रामवीर उपाध्याय वर्तमान में भाजपा में थे।

उन्होंने पिछले विधानसभा चुनाव से पहले अपने आगरा में शास्त्रीपुरम स्थित आवास पर भाजपा की सदस्यता हासिल की थी। उसके बाद से उन्हें सार्वजनिक रूप से नहीं देखा गया। उस समय भी अस्वस्थ होने के कारण वे भाजपा कार्यालय नहीं जा सके थे। इसलिए भाजपा ब्रज क्षेत्र अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी ने उनके आवास पर पहुंच पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। उन्हें लोगों के अभिवादन के लिए व्हील चेयर पर बैठ कर आना पड़ा था।

वहीं, अगर रामवीर उपाध्याय के बारे में बात करे, तो रामवीर उपाध्याय का जन्म 1 अगस्त 1957 को हुआ था। रामवीर उपाध्याय हाथरस सहित पूरे प्रदेश में ब्राह्मण नेता के रूप में जाने जाते थे। रामवीर उपाध्याय 1996, 2002, 2007, 2012, 2017 में लगातार 5 बार विधानसभा चुनाव जीत कर विधायक बने। वह बसपा सरकार में 4 बार कैबिनेट मंत्री रहे थे। रामवीर उपाध्याय का बसपा सरकार में उत्तर प्रदेश में दबदबा हुआ करता था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co