वाराणसी में PM मोदी
वाराणसी में PM मोदी Social Media

वाराणसी में PM मोदी ने विश्व की सबसे लम्बी रिवर क्रूज का शुभारम्भ व टेंट सिटी का किया उद्घाटन

उत्‍तर प्रदेश के वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व की सबसे लम्बी रिवर क्रूज का शुभारम्भ व मां गंगा के पावन तट पर टेंट सिटी का उद्घाटन किया।

दिल्‍ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज-एमवी गंगा विलास (वाराणसी से डिब्रूगढ़ तक 3,200 किमी.) और वाराणसी में टेंट सिटी का उद्घाटन किया। इस दौरान कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शामिल हुए। तो वहीं, उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल समेत कई दिग्गज मौजूद रहे।

आज 'गंगा विलास' ​क्रूज का शुभारंभ हुआ :

उत्‍तर प्रदेश के वाराणसी में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व की सबसे लम्बी रिवर क्रूज का शुभारम्भ व मां गंगा के पावन तट पर टेंट सिटी का उद्घाटन किया। इसके अलावा PM मोदी ने आज हल्दिया मल्टी मॉडल टर्मिनल और उत्तर प्रदेश तथा बिहार की सामुदायिक जेटी का उद्घाटन एवं गुवाहाटी में पांडु टर्मिनल में एक जहाज मरम्मत सुविधा और एक एलिवेटेड रोड का लोकार्पण किया है। इसके बाद PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा- आज लोहड़ी का उमंग भरा त्योहार है। आने वाले दिनों में हम उत्तरायण, मकर संक्रान्ति, भोगी, बिहू, पोंगल जैसे अनेक पर्व मनाएंगे। मैं देश-दुनिया में इन त्योहारों को मना रहे लोगों को बधाई देता हूं। आज काशी से डिब्रूगढ़ के बीच दुनिया की सबसे बड़ी नदी जल यात्रा 'गंगा विलास' ​क्रूज का शुभारंभ हुआ है। इससे पूर्वी भारत के अनेक पर्यटक स्थल वर्ल्ड टूरिज्म मैप में और प्रमुखता से आने वाले हैं।

नदी जलमार्गों को बनाने के महान पर्व के साक्षी बनना हम सभी के लिए प्रसन्नता की बात है। गंगा जी हमारे लिए सिर्फ एक जलधारा भर नहीं हैं, बल्कि प्राचीन काल से इस महान भारत भूमि की तप-तपस्या की साक्षी हैं। भारत की स्थितियां-परिस्थितियां कैसी भी रही हों, मां गंगे ने हमेशा कोटि-कोटि भारतीयों को पोषित किया है। गंगा विलास का उद्घाटन पूर्वी भारत के लिए पर्यटन के विश्व मानचित्र पर और अधिक उज्ज्वल उभरने के लिए नए मार्ग खोलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM के संबोधन की प्रमुख बातें-

  • क्रूज़ टूरिज्म का ये नया दौर इस क्षेत्र में हमारे युवा साथियों को रोजगार-स्वरोजगार के नए अवसर देगा। विदेशी पर्यटकों के लिए तो ये आकर्षण होगा ही, देश के भी जो पर्यटक पहले ऐसे अनुभवों के लिए विदेश जाते थे… वो भी अब पूर्वी-उत्तर पूर्वी भारत का रुख कर पाएंगे।

  • यह क्रूज हर किसी को आध्यात्मिकता को संजोने, पर्यटन का आनंद लेने और भारत में नदियों की व्यवस्था को समझने से लेकर हर चीज का सही अनुभव कराने में मदद करेगा।

  • ये क्रूज 25 अलग-अलग नदियों से होकर गुजरेगा और जो लोग भारत के समृद्ध खान-पान का अनुभव लेना चाहते हैं, उनके लिए भी ये बेहतरीन अवसर है। यानी भारत की विरासत और आधुनिकता का अद्भुत संगम हमें इस यात्रा में देखने को मिलेगा।

  • 21वीं सदी का ये दशक, भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर के कायाकल्प का दशक है। इस दशक में भारत के लोग आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर की वो तस्वीर देखने जा रहे हैं, जिसकी कल्पना करना तक मुश्किल थी। यह क्रूज 25 विभिन्न नदी प्रणालियों से होकर गुजरेगा, जिससे खुशी का एहसास होगा। यह पर्यटकों को भारत के बहुमूल्य और प्रसिद्ध व्यंजनों का अनुभव भी करने देगा।

  • भारत अपने आधुनिक अवतार में एक अत्यधिक विकसित परिवहन प्रणाली के लिए अपनी विरासत की ताकत को प्रज्वलित कर रहा है। 2014 में सिर्फ 5 राष्ट्रीय जलमार्ग भारत में थे, आज 24 राज्यों में 111 राष्ट्रीय जलमार्गों को विकसित करने का काम हो रहा है। इनमें से लगभग दो दर्जन जलमार्गों पर सेवाएं चल रही हैं।

  • गंगा पर बन रहा राष्ट्रीय जलमार्ग पूरे देश के लिए एक मॉडल की तरह विकसित हो रहा है। ये राष्ट्रीय जलमार्ग ट्रांसपोर्ट, ट्रेड और टूरिज्म के लिए एक महत्वपूर्ण माध्यम बन रहा है।

  • मजबूत कनेक्टिविटी विकसित भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और हम इस पर मिशन मोड में काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मैं सभी पर्यटकों के लिए सुखद यात्रा की कामना करता हूं और आशा करता हूं कि हमारी नदियां और जल शक्ति व्यापार और पर्यटन को बहुत जरूरी बढ़ावा देंगी।

तो वहीं, कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा- पिछले तीन दिनों में रिवर क्रूज एमवी गंगा विलास के पर्यटकों ने वाराणसी और आसपास के स्थानों का दौरा कर संस्कृति का अनुभव किया। प्रधानमंत्री आज राज्य में 5 नए घाटों का उद्घाटन करेंगे। काशी आज एक नई पहचान के साथ आगे बढ़ रही है।

क्रूज राज्य के 6 स्थलों बक्सर, छपरा, पटना, सिमरिया, मुंगेर, सुल्तानगंज और कहलगांव में रुकेगा। क्रूज के बिहार से गुजरने पर पर्यटकों का संस्कृति और इतिहास से परिचय होगा। यात्रा को सुगम और गतिमान बनाने के लिए जिलों में एक-एक नोडल अधिकारी बनाए गए हैं।

बिहार उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव

PM मोदी ने आज विश्व के सबसे बड़े रिवर क्रूज की शुरूआत की है। ये रिवर क्रूज वाराणसी से होते हुए असम के डिब्रूगढ़ तक आएगा। इस रिवर क्रूज से उत्तर पूर्व भारत एक बहुत बड़े पर्यटन मान चित्र में शामिल होगा। तमाम विकास कार्यों के लिए मैं PM को धन्यवाद देता हूं।

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co