उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक
उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठकSocial Media

स्वामी प्रसाद मौर्य पर बोले यूपी के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक- सपा तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है

समाजवादी पार्टी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा दिए गए रामचरितमानस पर बयान को लेकर विवाद छिड़ गया है। अब इस पर उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक का बयान सामने आया है।

राज एक्सप्रेस। समाजवादी पार्टी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) इन दिनों चर्चा में बने हुए हैं। उनके द्वारा दिया गया रामचरितमानस (Ramcharitmanas) पर विवादित बयान से, यूपी की सियासत में भूचाल आ गया है। समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी (BJP) एक दूसरे पर जमकर जुबानी हमले कर रही है। इसी बीच इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक (Brajesh Pathak) का बयान सामने आया है। उन्होंने अपने बयान में समाजवादी पार्टी को कहा कि, सपा तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है।

ब्रजेश पाठक ने कही यह बात:

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने लखनऊ में कहा कि, "सपा तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है। आज हम गेहूं, दूध, चीनी के उत्पादन में देश में नंबर 1 पर है। भाजपा परिवर्तन के लिए काम कर रही है। सपा जब-जब सत्ता में रही है गुंडे, माफिया, मवालियों को संरक्षण मिला है।"

स्वामी प्रसाद मौर्य पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि, "स्वामी प्रसाद मौर्य के पास अब कहने के लिये कुछ बचा नहीं है। सब निराश हो चुके हुए लोग हैं। जनता ने बुरी तरह से इन्हें नकार दिया है, ये बस समाज को बांट कर सुर्खियों में आना चाहते हैं।"

उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने आगे कहा कि, "भारतवंशी और हिंदू धर्म को मानने वाले शुभ कामों को रामचरितमानस का पाठ करने के बाद ही शुरू करते हैं। इसमें भारतीय दंड संहिता की भी विस्तृत चर्चा की गई है। यह केवल धर्म ग्रंथ ही नहीं है। यह जो लोग भारत को और हिंदू धर्म को कमजोर करने के लिए तरह-तरह की साजिश रच रहे हैं, यह अपनी साजिशों में कभी सफल नहीं होंगे।"

अखिलेश यादव ने साधा सीएम योगी पर निशाना:

वहीं, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने सीएम योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि, "हमारे मुख्यमंत्री योगी हैं जो एक संस्था से आए हैं। उसका अपना एक इतिहास रहा है। मैं रामचरितमानस और शूद्र पर सीधा पूछूंगा कि सदन में बताइए की शूद्र कौन-कौन हैं। ये हमारा और आपका सवाल नहीं है, ये धार्मिक लोगों का सवाल है।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co