मणिपुर से सुरक्षित यूपी लौटे छात्र
मणिपुर से सुरक्षित यूपी लौटे छात्रRaj Express

Uttar Pradesh : मणिपुर से अब तक 130 छात्रों की सकुशल यूपी वापसी

गुरुवार को 32 और छात्र लौटे अपने घर। 12 छात्रों को शुक्रवार को लाया जाएगा उत्तर प्रदेश। मणिपुर में छिड़ी हिंसा के बीच यूपी के बच्चों के लिए योगी सरकार चला रही है अभियान।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश। मणिपुर में छिड़ी हिंसा (Manipur Violence) के बीच उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के छात्रों को वहां से तेजी से निकालने का काम युद्धस्तर पर जारी है। योगी सरकार इसे लेकर सभी जरूरी एहतियात बरतने के साथ ही अबतक 130 छात्रों को सकुशल वापस ला चुकी है। गुरुवार को भी 32 छात्रों को यूपी लाया गया है। वहीं शुक्रवार को 12 छात्र यूपी वापस लाए जाने वाले हैं। ये सभी छात्र अलग-अलग रूट से दिल्ली लाए जा रहे हैं। वहीं गुरुवार को सभी 32 छात्र सीधे लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे हैं। इससे पहले, मंगलवार और बुधवार को योगी सरकार ने विशेष अभियान चलाकर 98 छात्रों को वापस लाने में कामयाब रही है। ये सभी छात्र मणिपुर के अलग-अलग शिक्षण संस्थानों में अध्ययन कर रहे थे और वहां उपजे हिंसा के हालातों के चलते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें तत्काल वापस लाने का निर्देश दिया था।

एक्शन मोड में जुटी हैं टीमें

प्रदेश के राहत आयुक्त प्रभु नारायण सिंह ने बताया कि ज्यादातर छात्रों को मणिपुर से निकाल लिया गया है। गुरुवार को 32 छात्रों के आने के बाद अब शुक्रवार को 12 छात्रों को वापस लाने की कवायद चल रही है। अब वहां केवल 16 बच्चे रह जाएंगे। जिनमें से 5 ने वापस आने से मना कर दिया है, जबकि 11 छात्र अपने स्तर से ही वापस आ रहे हैं। राहत आयुक्त ने बताया कि हमारी प्राथमिकता है कि यूपी के जो भी छात्र मणिपुर में पढ़ाई कर रहे हैं, उन्हें जल्द से जल्द सुरक्षित ढंग से वापस लाना है। पहले हमें 136 छात्रों के मणिपुर में होने की जानकारी मिली थी, जिस पर अभियान चलाकर उन्हें वापस लाने की कार्रवाई शुरू की गई। इसके बाद 22 और छात्रों के बारे में पता लगा। अब उन्हें भी वापस लाने के लिए एक्शन मोड में टीमें जुटी हुई हैं।

लग्जरी बसों और कार से घर भेजे जा रहे छात्र

राहत आयुक्त ने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से लग्जरी बसों और कारों से सुरक्षित उनके घरों के लिए रवाना किया जा रहा है। इस अभियान के तहत मणिपुर से आने वाले सभी छात्रों की उचित देखभाल की जा रही है। दिल्ली उतरने वाले छात्रों को पहले एयरपोर्ट से आरसी ऑफिस और फिर यूपी भवन पहुंचाया जा रहा है, जहां इनके खाने-पीने और सोने की व्यवस्था है। इसके बाद छात्रों को उनके घरों के लिए भेजने की व्यवस्था की गई है। वहीं लखनऊ एयरपोर्ट पर उतरे छात्रों को वोल्वो बसों द्वारा उनके घरों तक भेजा जा रहा है, जबकि जो छात्र पास के इलाकों से हैं उनके लिए कार का प्रबंध किया गया है।

किसी छात्र को खरोच तक नहीं आई

राहत आयुक्त के अनुसार प्रदेश सरकार की ओर से 24x7 हेल्पलाइन 1070 स्थापित की गई है। इसमें यदि किसी और छात्र के वहां होने की जानकारी मिलेगी तो उसे भी वहां से निकालने के लिए जो भी संभव होगा वो कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि मणिपुर की सरकार की ओर से यूपी के छात्रों को निकालने में भरपूर सहयोग मिला है। यूपी के छात्रों को वहां एक बस से एयरपोर्ट लाने की सुविधा प्रदान की गई है। इसलिए कोई भी छात्र किसी तरह की हिंसा का शिकार या इंजर्ड नहीं हुआ है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co