प्रेस वार्ता के दौरान सूर्य प्रताप शाही
प्रेस वार्ता के दौरान सूर्य प्रताप शाहीRaj Express

एक अप्रैल से किसानों से खरीदेंगे सरसों, चना : सूर्य प्रताप शाही

लखनऊ, उत्तर प्रदेश : मंगलवार को यहां पत्रकारों को बताया कि प्रदेश में कृषि उत्पादन तथा उत्पादकता बढ़ाकर किसानों की आय को बढ़ाया जाएगा।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश। प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि किसानो को उनकी फसल का लाभकारी मूल्य प्रदान करने के लिये एक अप्रैल से रबी सीजन में एमएसपी पर राई / सरसों, चना एवं मसूर के क्रय केन्द्र स्थापित किये जाएंगे।

श्री शाही ने मंगलवार को यहां पत्रकारों को बताया कि प्रदेश में कृषि उत्पादन तथा उत्पादकता बढ़ाकर किसानों की आय को बढ़ाया जाएगा। एक अप्रैल से एमएसपी पर राई / सरसों, चना एवं मसूर के क्रय केन्द्र स्थापित किये जा रहे हैं। जिसमें 3.94 लाख मी.टन सरसों / तोरिया, 2.12 लाख मी.टन चना एवं 1.49 लाख मी.टन मसूर क्रय करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। सरकार द्वारा एमएसपी पर राई / सरसों 5450 रूपये प्रति कुंतल, चना 5335 रूपये एवं मसूर 6000 रूपये प्रति कुंतल की दरें स्वीकृत की गयी हैं। जायद सीजन में ज्वार, बाजरा एवं मक्का के आच्छादन के लिये संकर बीजों पर कुल 15000 रूपये प्रति कुंतल का अनुदान एवं अधिकतम 50 प्रतिशत की धनराशि अनुमन्य की गयी है।

कृषि मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना एक दिसम्बर 2018 से प्रारम्भ हुई था और अभी तक 26 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खाते में 52000 करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि हस्तांतरित की जा चुकी हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सभी पात्र किसानों के संतृप्तीकरण का महाअभियान 10 से 31 मई तक प्रारम्भ किया जा रहा है।

श्री शाही ने बताया कि खेत तालाब योजना वित्तीय वर्ष 2022-23 में 5104 खेत तालाब पूर्ण किये जा चुके हैं एवं 1458 खेत तालाब निर्माणाधीन हैं। इसके अतिरिक्त माह अप्रैल से जून तक 5550 खेत तालाब निर्माण के लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है तथा लाभार्थियों का चयन के लिये पोर्टल 20 फरवरी से खुला हुआ है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में कृषि उत्पादकता और उत्पादन बढ़ाकर कृषकों की आय में वृद्धि करने के लिए प्रत्येक विकासखण्ड के चार प्रमुख फसलों का चयन किया जाएगा जिनका क्षेत्राच्छादन सर्वाधिक है। वर्ष 2019-20 से 03 वर्ष की औसत उत्पादकता कितनी रही है ऐसे सर्वाधिक उत्पादन करने वाले पांच कृषकों का चयन विकासखण्ड / जिला तथा राज्य स्तर पर चिन्हीकरण किया जायेगा। इन किसानों को प्रचार-प्रसार के लिए जोड़ा जायेगा तथा कृषि गोष्ठियों में उनकी भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co