अयोध्‍या:प्राण प्रतिष्ठा से पहले सौर ऊर्जा संयंत्र पर काम
अयोध्‍या:प्राण प्रतिष्ठा से पहले सौर ऊर्जा संयंत्र पर काम Raj Express

अयोध्‍या:प्राण प्रतिष्ठा से पहले सौर ऊर्जा संयंत्र पर काम-नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा देने लगेगी ज्यादा सोलर लाइट

अयोध्‍या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए सजावट, सौंदर्यीकरण एवं सौर ऊर्जा संयंत्र पर काम चल रहा है। इसी बीच जैन पीठाधीश्वर हस्तिनापुर रवींद्र कीर्ति स्वामी ने अयोध्या का दौरा किया।

हाइलाइट्स :

  • अयोध्‍या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए सजावट और सौंदर्यीकरण का काम चल रहा

  • NTPC द्वारा सोलर प्लांट लगाया जाएगा, हम बड़े पैमाने पर सोलर स्ट्रीट लाइट लगा रहे: अयोध्या के DM नीतीश कुमार

  • जैन पीठाधीश्वर हस्तिनापुर रविंद्र कीर्ति स्वामी ने किया अयोध्या का दौरा

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश के अयोध्‍या में भव्‍य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा की घड़ी करीब आ रही, आने वाले साल 2024 में, 22 जनवरी को 'प्राण प्रतिष्ठा' समाराेह होगा, जिसके लिए अयोध्या में सजावट और सौंदर्यीकरण का काम चल रहा है। साथ ही सौर ऊर्जा संयंत्र पर भी काम चल रहा है।

NTPC द्वारा सोलर प्लांट लगाया जाएगा :

अयोध्या DM नीतीश कुमार ने कहा, "हम लोगों ने 168 एकड़ भूमि चिह्नित की है। इसे नवीकरणीय ऊर्जा विभाग को दिया गया है, वहां NTPC द्वारा सोलर प्लांट लगाया जाएगा।हम बड़े पैमाने पर सोलर स्ट्रीट लाइट लगा रहे हैं और अयोध्या के पार्कों में सोलर ट्री लगाया जा रहा है। हमारा प्रयास है कि, हम ज्यादा से ज्यादा सोलर लाइट लगाकर नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा दें।"

इस दौरान अयोध्या में जैन पीठाधीश्वर हस्तिनापुर रविंद्र कीर्ति स्वामी ने बुधवार को आयोध्या पहुंचे, यहां उन्‍होंने 22 जनवरी, 2024 को राम जन्मभूमि मंदिर के भव्य अभिषेक समारोह से पहले तैयारियों का निरीक्षण किया और कहा, हम 15 से 24 जनवरी तक मुफ्त भोजन (भंडारा) प्रदान करेंगे। हम भगवान राम के भक्तों का खुले दिल से स्वागत करेंगे।

बता दें कि, प्राण प्रतिष्ठा समारोह की सभी तैयारियां 15 जनवरी 2024 तक पूरी कर ली जाएंगी। प्राण प्रतिष्ठा के लिए पूजा 16 जनवरी 2024 को शुरू होगी और 22 जनवरी तक चलेगी। इस समारोह में विभिन्न परंपराओं के 150 साधु-संतों और छह दर्शन परंपराओं के शंकराचार्य समेत 13 अखाड़े हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में करीब चार हजार संतों को आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा 2200 अन्य मेहमानों को भी निमंत्रण भेजा गया है। काशी विश्वनाथ और वैष्णोदेवी जैसे प्रमुख मंदिरों के प्रमुखों और धार्मिक और संवैधानिक संस्थानों के प्रतिनिधियों को भी समारोह में आमंत्रित किया गया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co