लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन
लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शनSocial Media

लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन, कई अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश

लखनऊ के लेवाना होटल अग्निकांड मामले पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) एक्शन में आ गए हैं। यूपी सरकार के कई अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरु करने के आदेश जारी हो गये हैं।

लखनऊ, भारत। लखनऊ के लेवाना होटल अग्निकांड मामले पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) एक्शन में आ गए हैं। योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के होटल लेवाना में आग लगने की घटना में प्रथम दृष्टया अनियमित और लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार गृह विभाग, ऊर्जा विभाग, नियुक्ति विभाग, लखनऊ विकास प्राधिकरण एवं आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबित कर विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

इतने अधिकारियों के खिलाफ की जा रही है कार्रवाई:

बता दें कि, बीते दिनों उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित हजरतगंज के लेवाना होटल (Levana Hotel Fire) में हुए अग्निकांड में कई लोग फंस गये थे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे में झुलसे और घायल लोगों से अस्पताल में जाकर मुलाकात भी की थी। अब सरकार ने इस अग्निकांड में 19 अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

वहीं, सरकार ने 17 अफसरों के खिलाफ सस्पेंशन और विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं। इनमें सीएफओ, तत्कालीन आबकारी अधिकारी, तत्कालीन विहित अधिकारी सहित कई अधिकारी शामिल हैं।

लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन, कई अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश
लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन, कई अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेशSocial Media

शासन ने लखनऊ के मौजूदा CFO विजय कुमार सिंह और फायर ऑफिसर  योगेंद्र प्रसाद को भी सस्पेंड किया है। वहीं, बिजली विभाग के तीन अधिकारी- सहायक निदेशक विद्युत सुरक्षा विजय कुमार राव, अवर अभियंता आशीष मिश्रा, उपखंड अधिकारी राजेश मिश्रा सस्पेंड किए गए हैं। एलडीए में तैनात तत्कालीन विहित प्राधिकारी महेंद्र कुमार मिश्रा सस्पेंड हुए हैं।

लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन, कई अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश
लेवाना होटल हादसे में योगी सरकार का बड़ा एक्शन, कई अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेशSocial Media

वहीं, इनके अलावा आवास एवं शहरी नियोजन विभाग (लखनऊ विकास प्राधिकरण) के राकेश मोहन तत्कालीन सहायक अभियन्ता, जितेंद्र एन दुबे तत्कालीन अवर अभियन्ता, रवींद्र श्रीवास्तव तत्कालीन अवर अभियन्ता, जयवीर सिंह तत्कालीन अवर अभियन्ता तथा राम प्रताप लखनऊ विकास प्राधिकरण एवं आबकारी विभाग के संतोष तिवारी तत्कालीन जिला आबकारी अधिकारी लखनऊ, अमित श्रीवास्तव तत्कालीन आबकारी निरीक्षक सेक्टर-1 लखनऊ तथा जैनेंद्र उपाध्याय उप आबकारी आयुक्त लखनऊ मण्डल को निलम्बित करते हुए विभागीय कार्यवाही संस्थित की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co