CM पुष्कर धामी ने की हल्द्वानी पीड़ितों से की मुलाकात, बोले- किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा

Haldwani Violence: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा की घटना के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी हल्द्वानी पहुंचे और यहां घायलों व पीड़ितों से हाल-चाल जाना।
CM पुष्कर धामी ने की हल्द्वानी पीड़ितों से की मुलाकात
CM पुष्कर धामी ने की हल्द्वानी पीड़ितों से की मुलाकातRE
Submitted By:
Sudha Choubey

हाइलाइट्स-

  • मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने की हलद्वानी पीड़ितों से की मुलाकात।

  • मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने कहा- किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

  • सीएम धामी ने कहा- उपद्रवियों ने कानून तोड़ा है और देवभूमि की छवि को खराब करने का काम किया है।

Haldwani Violence: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा की घटना के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी हल्द्वानी पहुंचे और यहां घायलों व पीड़ितों से हाल-चाल जाना। साथ ही पुलिस अधिकारियों से इस मामले की जानकारी भी ली।

पुष्कर सिंह धामी ने कही यह बात:

हल्द्वानी में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि, "न्यायलय के आदेश पर अतिक्रमण हटाने का काम चल रहा था। अतिक्रमण हटाने के दौरान हमला हुआ है। कल हमारी महिलाकर्मियों को मारा पीटा गया है, पत्थरों और बंदुकों से उन पर हमला किया है। इसके बारे में जितना खराब कहा जाए वे कम है। उत्तराखंड देवभूमि है, यहां कभी ऐसा नहीं हुआ है, इन्होंने देवभूमि की हवा खराब करने का काम किया है। पत्रकारों के साथ मारपीट हुई है, बुरी तरह से उनके कैमरे तोड़े गए हैं। पत्रकारों को जिंदा आग में झोंकने तक का प्रयास किया गया है। कानून अपना काम करेगा। जिन लोगों ने भी सरकारी संपत्ति जलाई है उनपर कार्रवाई की जाएगी।"

उन्होंने कहा कि, "प्रशासन द्वारा न्यायालय के आदेश के क्रम में अतिक्रमण हटाने का काम चल रहा था। वहां पर सुनियोजित तरीके से प्रशासन के लोगों पर हमला हुआ, जान से भी मारने की कोशिश की गई। सख्ती से कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने ये गलत काम किया है उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी।"

जानकारी के लिए बता दें कि, इससे पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शान्ति एवं कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए एडीजी कानून और व्यवस्था ए.पी अंशुमान को प्रभावित क्षेत्र में कैंप करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने अवैध निर्माण को हटाये जाने के दौरान पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों एवं कार्मिकों पर हुए हमले तथा क्षेत्र में अशान्ति फैलाने की घटना को सख्ती से लेते हुए, अराजक तत्वों के विरुद्ध सख्त करवाई करने के निर्देश दिए हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co