दिव्य आध्यात्म महोत्सव में CM पुष्‍कर सिंह धामी
दिव्य आध्यात्म महोत्सव में CM पुष्‍कर सिंह धामी Raj Express

दिव्य आध्यात्म महोत्सव में बोले CM पुष्‍कर सिंह धामी- आज का दिव्य महोत्सव आध्यात्मिक जागरण का कार्य करेगा

हरिद्वार में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 'दिव्य आध्यात्म महोत्सव' को संबोधित कर अपने संबोधन में कही ये बातें...

हाइलाइट्स :

  • हरिद्वार में 'दिव्य आध्यात्म महोत्सव' में CM पुष्कर सिंह धामी

  • आज का दिव्य महोत्सव आध्यात्मिक जागरण का कार्य करेगा: CM पुष्कर सिंह धामी

  • CM धामी ने कहा, संत समाज का उद्देश्य प्राचीन सांस्कृतिक परंपरा को संरक्षित करना है

उत्तराखंड, भारत। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Pushkar Singh Dhami) ने आज सोमवार को हरिद्वार में 'दिव्य आध्यात्म महोत्सव' में प्रतिभाग किया। इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी हरिद्वार पहुंचे। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उनका स्वागत किया।

दिव्य आध्यात्म महोत्सव में CM पुष्कर का संबोधन :

हरिद्वार में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 'दिव्य आध्यात्म महोत्सव' को संबोधित करते हुए अपने संबोधन में कहा- देश दुनिया से इस कार्यक्रम में पहुंचे सभी पूज्य संतगणों एवं भक्तगणों का मैं देवभूमि उत्तराखण्ड के मुख्य सेवक के रूप में स्वागत करता हूँ। सनातन संस्कृति के प्रहरी के नाते इस मार्ग के लिए पूरा जीवन समर्पित करने वाले पूज्य संतगणों को मैं दंडवत प्रणाम करता हूँ। आशा करता हूँ कि धर्म और संस्कृति की दिशा में आगे भी हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे।

मुझे पूर्ण विश्वास है कि, आज का दिव्य महोत्सव आध्यात्मिक जागरण का कार्य करेगा। इस समारोह में हज़ारों वर्ष की महान संत परंपरा के साक्षात दर्शन एक साथ हुए हैं।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

संत समाज का उद्देश्य प्राचीन सांस्कृतिक परंपरा को संरक्षित करना है :

इतना ही नहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आगे यह भी कहा कि, हमारे संतों ने प्राचीन काल से लंबा संघर्ष कर पूरे विश्व को जोड़ते हुए “वसुधैव कुटुम्बकम्” का संदेश दिया है। संत समाज का उद्देश्य प्राचीन सांस्कृतिक परंपरा को संरक्षित करना है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co