जो लोग UCC 2024 का विरोध कर रहे वे सच्चे मुसलमान नहीं - उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स

UCC 2024 : अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा, बिल में ऐसी कोई रेखा नहीं है जो इस्लामी आस्था के साथ छेड़छाड़ करती हो और खुद एक मुस्लिम होने के नाते मैं यह कह सकता हूं।
उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स
उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्सRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • UCC 2024 के विरोध किए जाने पर बोले उत्तराखंड वक्फ बोर्ड अध्यक्ष शादाब शम्स।

  • कहा - विधेयक में इस्लाम विरोधी कुछ भी नहीं ।

  • जो इस विधेयक का विरोध कर रहे वे राजनीतिक मुसलमान।

Uniform Civil Code Uttarakhand 2024 : देहरादून। कुरान, यूसीसी का पालन करने में कोई समस्या नहीं है। जो लोग विरोध कर रहे हैं, वे सच्चे मुसलमान नहीं हैं। वे राजनीतिक मुसलमान हैं, जो कहीं न कहीं कांग्रेस या समाजवादी पार्टी से संबंधित हैं। यह बात उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने समान नागरिक संहिता उत्तराखंड-2024 विधेयक के राज्य विधानसभा में पारित होने पर गुरुवार को कही है। इसके साथ ही उन्होंने इसका समर्थन किया है।

दरअसल, समान नागरिक संहिता उत्तराखंड 2024 विधेयक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य विधानसभा में पेश किया था जिसे सर्वसमत्ति से पारित कर दिया है। इसके पारित होते हुए कुछ विशेष समुदायों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है। उनका कहना है कि, यह विधेयक इस्लाम का उल्लंघन करता है, इसलिए इसे पारित नहीं किया जाना चाहिए। इस पर उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा कि, मैं फिर से पूरी जिम्मेदारी के साथ कह रहा हूं कि यह विधेयक इस्लाम का उल्लंघन नहीं करता, और मुसलमान यूसीसी का पालन कर सकते हैं।

कुरान, यूसीसी का पालन करने में कोई समस्या नहीं- अध्यक्ष शादाब शम्स

अध्यक्ष शादाब शम्स ने आगे कहा कि, मुझे विश्वास है कि देश इस विधेयक को हाथों-हाथ स्वीकार करेगा। जिस तरह की अफवाहें फैलाई जा रही हैं मुस्लिम समुदाय, कि यह बिल इस्लाम विरोधी है, मैं कह सकता हूं कि बिल में ऐसी कोई रेखा नहीं है जो इस्लामी आस्था के साथ छेड़छाड़ करती हो और खुद एक मुस्लिम होने के नाते मैं यह कह सकता हूं। कुरान, यूसीसी का पालन करने में कोई समस्या नहीं है। जो लोग विरोध कर रहे हैं, वे सच्चे मुसलमान नहीं हैं। वे राजनीतिक मुसलमान हैं, जो कहीं न कहीं कांग्रेस या समाजवादी पार्टी से संबंधित हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co