दिल्ली में रहेगा वीकेंड कर्फ्यू , CM केजरीवाल के कुछ बड़े ऐलान
दिल्ली में रहेगा वीकेंड कर्फ्यूSyed Dabeer Hussain - RE

दिल्ली में रहेगा वीकेंड कर्फ्यू , CM केजरीवाल के कुछ बड़े ऐलान

अन्य राज्यों की सरकारों की तरह ही दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने भी दिल्ली में कोरोना के संक्रमण पर रोक लगाने के लिए 'वीकेंड कर्फ्यू' का रास्ता आजमा लिया है।

दिल्ली। देशभर में कोरोना से हाहाकार मच रही है। पूरा देश बुरी तरह इस महामारी की चपेट में आचुका है। कई राज्यों में इसका प्रभाव बहुत ज्यादा देखने को मिला है। इन्हीं में शामिल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना से बने हालात दिन प्रति दिन बेकाबू होते जा रहे है। कोरोना के चलते ही कई राज्य पहले ही नाईट कर्फ्यू और वीकेंड कर्फ्यू की राह चुन चुके है। वहीं, अब दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने भी दिल्ली में कोरोना के संक्रमण पर रोक लगाने के लिए 'वीकेंड कर्फ्यू' का रास्ता आजमा लिया है।

दिल्ली में लागु हुआ वीकेंड कर्फ्यू :

दरअसल, दिल्ली के कोरोना के मामलों और मौत के आंकड़ों में हर दिन दर्ज की जा रही तेजी को मद्देनजर रखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर बैठक की और कोरोना वायरस से रोकथाम करने के लिए कुछ खास फैसले कर बड़े ऐलान किए। इन ऐलानों के तहत दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू लगाने की भी घोषणा की गई है।

यह सेवाए की गई बंद :

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि 'दिल्ली सरकार ने दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया है। साथ ही हम जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों और शादियों के लिए लोगों को कर्फ्यू पास देंगे।' बता दें, इस दौरान राज्य के सभी मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम को बंद रखे जाएँगे। इनके अलावा सिनेमा हॉल को 30% की क्षमता के साथ खोलने की अनुमति दी गई है। गौरतलब है कि, दिल्ली में इससे पहले कोरोना वायरस के मामलों पर रोक लगाने के लिए दिल्ली सरकार ने 6 अप्रैल को नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया था, जो 30 अप्रैल तक लागू रहेगा। यह नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू किया गया है। वहीं, अब वीकेंड पर कर्फ्यू लगाने का फैसला सामने आया है।

CM ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया :

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'दिल्ली में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है, लेकिन इसके बावजूद अस्पतालों में पांच हजार से ज्यादा बेड खाली हैं। कुछ अस्पतालों के अंदर अगर बेड भर गए है और अगर आप किसी खास अस्पताल में जाना हैं तो, दिक्कत हो सकती है। बीमार व्यक्ति को को कहीं न कहीं बेड मिलना चाहिए, चाहे वो प्राइवेट हो या सरकारी अस्पताल हो।'

दिल्ली में कोरोना के हालात :

बताते चलें, भारत में महाराष्ट्र के बाद कोरोना का सबसे ज्यादा मामले राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सामने आ रहे है। दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के नए 17282 नए सामने आए है जबकि मरने वालो का आंकड़ा 104 रहा। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि, 'दिल्ली में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 7,67,438 हो गई है और 11540 मरीजों की मौत हो चुकी है। राजधानी में अब कोरोना वायरस संक्रमण के एक्टिव केस भी बढ़कर 50736 हो गए हैं। हालांकि, कोरोना से ठीक हुए लोगों की संख्या 705162 लोगों का रहा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co