Bengal Budget Session : स्पीकर ने स्थगन प्रस्ताव किया खारिज, BJP विधायकों ने विरोध प्रदर्शन

BJP MLAs Protested : विधायकों ने CNG रिपोर्ट का हवाला देते हुए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।
 BJP विधायकों ने विरोध प्रदर्शन
BJP विधायकों ने विरोध प्रदर्शनRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • CNG रिपोर्ट पर चर्चा कराने की मांग को लोकसभा अध्यक्ष ने किया खारिज।

  • बीजेपी विधयां ने राज्य सरकार पर भ्रष्टाचार का लगाया आरोप।

  • मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पहले सीएजी रिपोर्ट को "गलत" बताया था।

Bengal Assembly Budget Session 2024 : भाजपा विधायकों ने मंगलवार को बजट सत्र के दौरान पश्चिम बंगाल विधानसभा में स्थगन प्रस्ताव लाने और केंद्र की नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CNG) रिपोर्ट पर चर्चा कराने की उनकी मांग को अध्यक्ष द्वारा खारिज कर दिए जाने के बाद विरोध प्रदर्शन किया। अपनी मांग पर ध्यान नहीं दिए जाने पर विधायकों ने विधानसभा के अंदर और बाहर विरोध प्रदर्शन किया।

विपक्षी विधायकों ने सीएजी रिपोर्ट का हवाला देते हुए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया, जिसमें पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा धोखाधड़ी और धन की हेराफेरी का आरोप लगाया गया।

बीजेपी की मांग स्पीकर ने की खारिज

भाजपा के संसदीय दल ने विधानसभा में स्थगन प्रस्ताव पेश कर सीएजी रिपोर्ट में राज्य सरकार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर चर्चा कराने की मांग की। हालांकि, स्पीकर बिमान बनर्जी ने चर्चा की अनुमति नहीं दी। बिमान बनर्जी ने बताया कि इस पर चर्चा नहीं की जा सकती शुभेदु अधिकारी ने जब स्पीकर से पूछा कि इस विषय पर चर्चा क्यों नहीं कर सकते? स्पीकर बिमान बनर्जी ने कहा, "अब इस मुद्दे पर विधानसभा में चर्चा की जरूरत नहीं है इसके बाद ही भाजपा विध्धयकों ने प्रदर्शन शुरु कर दिया।

सीएजी रिपोर्ट से बनेगी भ्रामक तस्वीर -

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पहले सीएजी रिपोर्ट को "गलत" बताया था। उन्होंने कहा कि इससे एक "भ्रामक तस्वीर" बनेगी और कुछ लोगों द्वारा इसका इस्तेमाल "राज्य प्रशासनिक मशीनरी के खिलाफ गलत प्रचार" के लिए किया जा रहा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र भी लिखा, जिसमें उनसे हस्तक्षेप करने और विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लिए केंद्र सरकार से पश्चिम बंगाल को धन जारी करना सुनिश्चित करने का अनुरोध किया गया। पत्र में, ममता ने लिखा कि यह जानना "वास्तव में चौंकाने वाला" था कि सीएजी जैसी प्रतिष्ठित संवैधानिक संस्था का उच्च कार्यालय ऐसी टिप्पणियां कर सकता है "जो गलत हैं"।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co