Raj Express
www.rajexpress.co
Aarey Forest Tree Cutting
Aarey Forest Tree Cutting|Social Media
पश्चिम भारत

मुंबई: पेड़ काटने पर मचा बवाल, लगी धारा 144

मुंबई, महाराष्‍ट्र: गोरेगांव स्थित आरे कॉलोनी में मुंबई मेट्रों के निर्माण के लिए करीब 2700 पेड़ काटने का काम शुरू हुआ, जिसका लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। इस विरोध प्रदर्शन के बाद धारा 144 लागू कर दी है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • आरे कॉलोनी में मेट्रो कार शेड के लिए पेड़ काटने का काम शुरू।

  • पेड़ बचाने के लिए आधी रात सड़कों पर उतरे लोग, मचा बवाल।

  • विरोध प्रदर्शन के बाद आरे में धारा 144 लगाई गई।

  • प्रदर्शनकारियों ने मेट्रो रेल साइट पर जमकर नारेबाजी की।

  • मेट्रो कार शेड के लिए अभी तक 800 से ज्यादा पेड़ काटे जा चुके हैं।

राज एक्‍सप्रेस। मुंबई में इस समय पेड़ों को काटने को लेकर बवाल मचा है और ये मामला तूल पकड़ते हुए नजर आ रहा है। यहां गोरेगांव स्थित आरे कॉलोनी में मेट्रों कार शेड के लिए करीब 2700 पेड़ काटने (Aarey Forest Tree Cutting) का काम शुक्रवार देर रात से शुरू हुआ है, जिसका पर्यावरण कार्यकर्ताओं के साथ स्थानीय लोग जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वैसे बॉम्बे हाई कोर्ट के आदेश के बाद ही यहां के पेड़ों की कटाई शुरू की गई हैं।

क्‍यों काटे जा रहे पेड़ :

दरअसल, पेड़ों को मेट्रो कार शेड बनाने के लिए काटा जा रहा है, हरियाली भरे क्षेत्र आरे कॉलोनी में जैसे ही पेड़ों की कटाई शुरू की गई, तो यहां के लोगों ने पेड़ों को बचाने को लेकर घमासान मचने लगा।

क्‍यों हो रहा विरोध व हंगामा :

अन्य विरोध प्रदर्शनकारियों का कहना है कि, ''यह बेहद दुखद है कि, जो पेड़ दूसरों को जीवन देते हैं, उन्हें काटा जा रहा है। वह भी ऐसे समय जब सरकार खुद लोगों से ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने की अपील कर रही है।''

Aarey Forest Tree Cutting
Aarey Forest Tree Cutting
Priyanka Sahu -RE

कई मशहूर हस्तियां भी विरोध करने उतरी :

मुंबई मेट्रों के निर्माण के दौरान पेड़ के कटने को लेकर लगातार हंगामा हो रहा था, इस जंगल को बचाने के लिए पेड़ काटे जाने पर कई मशहूर हस्तियों ने भी विरोध किया है। पहली बार चुनाव लड़ रहे शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने भी केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा-

''इशारों-इशारों में केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, अगर इस तरह से जंगल काटे जा रहे हैं, तो प्लास्टिक प्रदूषण पर बोलने का कोई फायदा नहीं है। शिवसेना नेता ने ये भी कहा कि, मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के अधिकारियों को पीओके भेजा जाना चाहिए, ताकि वे पेड़ काटने के बजाए वहां आतंकी ठिकानों को नष्ट कर सकें।''

शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे

मामले में FIR भी दर्ज, धारा 144 लागू :

बता दें कि, इस मामले पर मचे हंगामें को लेकर आज 5 अक्‍टूबर को आरे में धारा 144 लागू कर दी गई है व लोगों को इलाके में इकट्ठा नहीं होने दिया जा रहा है। इस बीच पुलिस ने आरे की तरफ जाने वाली सभी सड़कों पर बैरिकेड लगा दिए हैं।

पेड़ बचाने के लिए आधी रात को भारी संख्या में लोग इकट्ठा होकर सड़को पर प्रदर्शन के लिए उतरे, चारों तरफ हंगामा मच गया, मेट्रो रेल साइट पर जमकर नारेबाजी की। साथ ही कुछ लोगों ने पुलिस से झड़प भी की, इसके कुछ वीडियो भी सामने आए हैं-

विरोध प्रदर्शन के बाद मुंबई पुलिस ने मामले में FIR भी दर्ज की है और आईपीसी की धारा 353 व अन्य धाराओं के तहत 38 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है व 60 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया हैं।

800 से ज्यादा पेड़ काटे जा चुके :

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार, आरे कॉलोनी में मेट्रो कार शेड के लिए अभी तक 800 से ज्यादा पेड़ काटे जा चुके हैं, पेड़ काटने के लिए और भी मशीन्स साइट पर मंगवाई गई हैं। साथ ही दमकल विभाग की टीम भी मौके पर मौजूद है एवं इलाके के 3 किलोमीटर के रेडियस में किसी को भी जाने की इजाजत नहीं है।

शिवसेना उपनेता को हिरासत में लिया :

शिवसेना की उपनेता प्रियंका चतुर्वेदी मुंबई के हरियाली भरे क्षेत्र आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने पहुंची, यहां प्रदर्शनकारियों को समर्थन किया, हालांकि पुलिस ने हालात को देखते हुए उन्‍हें भी तुरंत हिरासत में ले लिया।

कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर कहा-

"मुंबई में पेड़ काटना अपने फेफड़ों में चाकू गोदने जैसा है, शहर जब अपनी कोस्टलाइन और ग्रीन कवर खत्म करता है, तो वह कयामत का दिन करीब बुला रहा है।"

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा