Raj Express
www.rajexpress.co
Kota Hospital Children Died
Kota Hospital Children Died|Social Media
पश्चिम भारत

कोटा अस्पताल में मासूमों की मौत पर राजनीति शुरू

कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा जिले में मासूम बच्चों की मौत की संख्‍या बढ़कर 100 हो चुकी है, मासूमों की मौत से मांओं का गोद उजड़ना अति-दुःखद व दर्दनाक है, हालांकि इस मामले पर राजनीति शुरू हो गई है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। राजस्थान में कोटा के अस्पताल में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है और अब तक 100 बच्चों की मौत हो चुकी है। नवजात शिशुओं की मौत के मामले ने तूल पकड़ लिया है, इस पर राजनीति भी शुरू हो गई, यहां विपक्ष पार्टियां बयानों से कांग्रेस सरकार पर निशाना साध रही हैं।

बीजेपी व बीएपी ने साधा निशाना :

विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (BJP) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने राज्‍य में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित कांग्रेस पार्टियों के वरिष्‍ठ नेताओं को निशाने पर लिया है।

मायावती ने ट्वीट के जरिए साधा निशाना :

राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत खुद और उनकी सरकार इसके प्रति अब भी उदासीन, असंवेदनशील और गैर-जिम्मेदार बने हुए हैं, जो अति-निन्दनीय।
बीएसपी अध्यक्ष मायावती

इस दौरान मायावती ने प्रियंका गांधी का नाम लिए बगैर यह भी कहा, ''कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व और खासकर महिला महासचिव की इस मामले में चुप्पी साधे रखना बेहद दुःखद है, अच्छा होता कि वो यूपी की तरह उन गरीब पीड़ित मांओं से भी जाकर मिलतीं, जिनकी गोद केवल उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही के कारण उजड़ गई है।''

राजस्थान के CM से कोई सवाल नहीं पूछे :

वहीं विपक्ष पार्टी बीजेपी की ओर से आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लिखा- ''एक महीने में 100 नवजात शिशुओं की मौत हो जाती है और राजस्थान के मुख्यमंत्री से कोई सवाल नहीं पूछे जाते। कोटा इतनी भी दूर नहीं कि, सोनिया और राहुल गांधी वहां जा ना सकें और यह घटना इतनी भी मामूली नहीं की मीडिया कांग्रेस सरकार की इस लापरवाही पर आंख मूंद ले।''

लगातार बढ़ रही बच्चों की संख्या :

बता दें कि, कांग्रेस शासित राजस्थान में 2 दिन में 9 बच्चों की मौत के साथ कोटा के जेके लोन हॉस्पिटल में वर्ष 2019 के आखिरी माह दिसंबर में मरने वाले शिशुओं की संख्या बढ़कर 100 हो चुकी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।