Raj Express
www.rajexpress.co
Gujarat CAA Protest
Gujarat CAA Protest|Priyanak Sahu -RE
पश्चिम भारत

गुजरात में प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों पर बरसाए पत्थर

गुजरात के अहमदाबाद में CAA व NCR के खिलाफ सड़क पर प्रदर्शनकारियों ने जो विरोध किया, वह काफी भयावह था। सड़कों पर मचे इस उपद्रव से लोगों की रूह कांप उठी, क्‍योंकि लोगों ने पुलिस पर जमकर पत्‍थर बरसाए।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) लागू होने के बाद से ही पूरा देश जल रहा है, लोगों के आक्रोश ने हाहाकार मचा रखा है। वह उग्र हिंसक प्रदर्शन कर रहे हैं, प्रदर्शनकारी कहीं पत्‍थर बरसा रहें हैं, तो कहीं वाहनों को आग के हवाले कर रहे हैं, साथ ही सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं। अब गुजरात के अहमदाबाद में भी CAA और NCR के खिलाफ बवाल मचना शुरू हो गया है, यहां उग्र प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर ही पथराव (Gujarat CAA Protest) किया है, यहां प्रदर्शनकारियों द्वारा किया गया उपद्रव देखते ही देखते इतना अधिक हो गया कि, लोगों की रूह कांप उठे।

प्रदर्शकारियों के हमले से बचने के प्रयास में रही पुलिस :

अहमदाबाद में प्रदर्शन के नाम पर सड़क पर उपद्रव मच गया, प्रदर्शनकारियों ने अहमदाबाद के पुलिसकर्मियों पर बड़े-बड़े पत्‍थर फेंके, यहां काफी बड़ी संख्‍या में लोग इकट्ठा होकर पुलिस पर पथराव करने लगे। इस पथराव में प्रदर्शकारियों के इस हमले से पुलिस ने अपने-आप को बचाने की कोशिश की। हालांकि, अभी वहां तनाव बना हुआ है, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है।

ट्विटर पर जगदीश असोदरिया नाम से बने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें आप देख सकते हैं कि, पुलिसवाले प्रदर्शकारियों के इस हमले से किस तरह से बचते नजर आ रहे हैं।

5 हजार लोगों पर केस दर्ज :

अहमदाबाद, बनासकांठा सहित कई स्‍थलों पर प्रदर्शन के लिए उतरे प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर जब पथराव किया, तो पुलिस ने भी उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया, साथ ही आंसू गैस के गोले दागने पड़े। इस दौरान कईं प्रदर्शनकारियों को चोट आई, वहीं 20 पुलिसकर्मियों के घायल होने की सूचना है, जिन्‍हें अस्‍पताल पहुंचाया गया। हालांकि, पुलिस ने इस हिंसा के मामले में 5,000 लोगों पर केस दर्ज किया है।

अहमदाबाद की सड़कों पर हाथों में बड़े-बड़े पत्थर लिए उपद्रवियों ने जिस तरह पुलिस एवं सरकारी संपत्ति को निशाना बनाया उससे भारी नुकसान हुआ है।

देश में आपातकाल जैसे हालात :

नागरिकता कानून के खिलाफ देश में मचे हाहाकार व हिंसा की आग से आपातकाल जैसे हालत बनते नजर आ रहे हैं और ऐसी स्थिति को काबू में लाने का एकमात्र रास्ता आपातकाल ही है।

बताते चलें कि, देश के कई राज्‍यों व प्रदेशों में CAA के कारण बवाल मच रहा है। इसके अलावा कई राज्‍यों मेंं धारा 144 भी लगाई गई हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।