परिजनों ने बीएसएफ जवान के पार्थिव शरीर को लेने से किया इन्कार
परिजनों ने बीएसएफ जवान के पार्थिव शरीर को लेने से किया इन्कारSocial media

परिजनों ने बीएसएफ जवान के पार्थिव शरीर को लेने से किया इन्कार

राजस्थान के जिला सीकर से एक सीमा सुरक्षा बल जवान के पार्थिक शरीर को परिजनों द्वारा लेने से इंकार करने का मामला सामने आ रहा है। परिजनों का आरोप है कि जवान की हत्या की गई है।

राजएक्सप्रेस। राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर निवासी एवं सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान बीरबल राम यादव के आत्महत्या के बाद पैतृक गांव पहुंचे उनके पार्थिव शरीर को परिजनों के लेने से मना कर देने से मामले ने तूल पकड़ लिया हैं।

जवान का पार्थिव शरीर त्रिपुरा से आज तड़के जैसे ही उनके पैतृक गांव पृथ्वीपुरा पहुंचा तो परिजनों ने शव लेने से इन्कार कर दिया। परिजनों का कहना है कि वह पहले जवान बीरबल राम की मेडिकल रिपोर्ट देखेंगे। उसमें आत्महत्या की पुष्टि के बाद ही वह अंतिम संस्कार करेंगे। परिजनों का आरोप है कि जवान ने आत्महत्या नहीं की। बल्कि, उसकी हत्या की गई है। जिसके बाद उसका पार्थिव शरीर फांसी के फंदे पर लटकाया गया है। बीएसएफ कमांडेंट एवं जवानों की समझाइश के बाद भी परिजन अपनी मांग पर अड़े हुए हैं।

घटना की सूचना पर थानाधिकारी कैलाश चंद मीणा और तहसीलदार महिपाल सिंह राजावत भी मौके पहुंचे और पहले तो शव लेकर गांव पहुंचे बीएसएफ के कमांडेंट से वार्ता की। इसके बाद उनके साथ परिजनों को समझाने की कोशिश की। लेकिन, समाचार लिखे जाने तक परिजन नहीं माने।

गौरतलब है कि 45 वर्षीय बीरबल राम गत 22 मई को त्रिपुरा में फंदे पर झूलता हुआ मिला था। बीएसएफ ने आत्महत्या कर लेने की बात कही थी। लेकिन, आज जैसे ही बीरबल राम का पार्थिव शरीर तड़के चार बजे पैतृक गांव पृथ्वीपुरा पहुंचा, तो परिजन मेडिकल रिपोर्ट की मांग पर अड़ गए। ऐसे में पार्थिव शरीर बीएसएफ के ट्रक में ही रखा है।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co