Raj Express
www.rajexpress.co
WHO साउथ-ईस्ट एशिया
WHO साउथ-ईस्ट एशिया|Syed Dabeer Hussain - RE
भारत

WHO साउथ-ईस्ट एशिया के सदस्य ने आपातकाल व्यवस्था का संकल्प लिया

डब्ल्यूएचओ (WHO) साउथ-ईस्ट एशिया रीजन के सदस्य देश में कई प्रकार की आपदाओं को लेकर संवेदनशील हैं, इसलिये उन्होंने आपातकालीन तैयारियों की क्षमता मजबूत करने का संकल्प लिया है।

Sushil Dev

राज एक्सप्रेस। डब्ल्यूएचओ (WHO) साउथ-ईस्ट एशिया रीजन के सदस्य देश कई प्रकार की आपदाओं को लेकर संवेदनशील हैं, इसलिये उन्होंने आपातकालीन तैयारियों की क्षमता मजबूत करने का संकल्प लिया है, जिसके लिये जोखिम प्रबंधन का विस्तार, निवेश में बढ़त, और बहुक्षेत्रीय योजनाओं का क्रियान्वयन बढ़ाने का काम किया जाएगा। सदस्य देशों ने नई दिल्ली में मंत्रीस्‍तरीय राउंड टेबल पर "दिल्ली डिक्लेरेशन- इमरजेंसी प्रीपेयर्डनेस इन द साउथ-ईस्ट एशिया रीजन को अपनाया और क्षेत्रीय निदेशक डॉ.पूनम खेत्रपाल सिंह ने यह कहकर तैयारियों के महत्व को रेखांकित किया कि, 'देशों की क्षमता मजबूत होने से क्षेत्र के साथ-साथ विश्व भी मजबूत होगा।"

डब्ल्यूएचओ साउथ-ईस्ट एशिया रीजनल कमेटी का 72 वां सत्र:

डब्ल्यूएचओ साउथ-ईस्ट एशिया रीजनल कमेटी के 72वें सत्र में जेनेवा से जुड़ने वाले डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डॉ. टेड्रोस अधानोम घीब्रीयेसुस ने कहा, ‘‘तैयारियों से जीवन और धन की बचत होगी। आपातकालीन तैयारियों पर दिल्ली की घोषणा इस क्षेत्र को सभी लोगों के लिये सुरक्षित बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण चरण है।’’