Raj Express
www.rajexpress.co
खबर पब्लिश होने तक हो चुके हैं 30.7 हज़ार ट्वीट्स
खबर पब्लिश होने तक हो चुके हैं 30.7 हज़ार ट्वीट्स|ट्विटर
भारत

#GoBackSadistModi: अपने देश के प्रधानमंत्री का विरोध क्यों कर रहा तमिलनाडु?

खबर पब्लिश होने तक हो चुके हैं 30.7 हज़ार ट्वीट्स। आखिर क्यों अपने ही देश में विरोध झेल रहे हैं प्रधानमंत्री?

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। पिछले कुछ समय में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब भी तमिलनाडु गए हैं, ट्विटर पर #GoBackModi ट्रेंड करने लगता है। 11 अक्टूबर को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ होने वाली अहम बैठक के लिए प्रधानमंत्री मोदी तमिलनाडु में हैं। इस बीच ये हैशटेग फिर से ट्रेंड कर रहा था। साथ ही #GoBackSadistModi भी ट्रेंड में है। अंग्रेज़ी, तमिल और चाईनीज़ भाषा में भी लोग इस हैशटेग के साथ ट्वीट कर रहे हैं।

माधव नाम के एक ट्विटर यूज़र के इस ट्वीट के बाद #GoBackModi ट्विटर इंडिया ने हटा लिया लेकिन कुछ ही समय में #GoBackSadistModi ट्रेंड करने लगा।

हालांकि, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने लोगों से दोनों नेताओं का स्वागत करने की अपील की है।

ट्विटर पर ट्रेंड हो रहे इन हैशटेग्स का प्रयोग कर लोग प्रधानमंत्री मोदी का विरोध कर रहे हैं। कुछ लोगों का विरोध हिन्दी भाषा को भारत की एक भाषा बनाने के खिलाफ है, तो कुछ कश्मीर मुद्दे को लेकर मोदी और भाजपा सरकार का विरोध कर रहे हैं।

एक ट्वीट में मोदी को तानाशाह बताते हुए, तानाशाही का विरोध करने की बात है।

लोगों का कहना है कि प्रधानमंत्री ने उनके अधिकारों को छीनने की कोशिश की है। साथ ही उनकी भाषा और संस्कृति को भी वो सम्मान नहीं देते इसलिए तमिलनाडु के लोग उनका विरोध कर रहे हैं।

साल 2018 में ये पहली बार देखा गया था। 2 अप्रैल को जब नरेन्द्र मोदी डिफेंस एक्सपो का उद्घाटन करने के लिए चेन्नई गए थे तब भी ये हैशटेग ट्रेंड में था। तत्कालीन विपक्षीय दलों ने काले झंडों और गुब्बारों को उड़ाकर भी प्रधानमंत्री का विरोध किया था। इसके बाद से जब भी प्रधानमंत्री मोदी तमिलनाडु गए, ये हैशटेग ट्रेंड करने लगा।

इस ही साल जनवरी में जब प्रधानमंत्री मदुरै में एम्स का शिलान्यास करने गए थे तब ये हैशटेग टॉप ट्रेंड था। 30 सितंबर को भी आईआईटी चेन्नई के दीक्षांत समारोह में शामिल होने गए प्रधानमंत्री मोदी के विरोध में ये हैशटेग ट्रेंड में था।

आज ट्रेंड होने वाले #GoBackSadistModi पर खबर पब्लिश होने तक 30.7 हज़ार ट्वीट्स हो चुके हैं। इसमें विपक्षी दल तो शामिल नहीं हैं, न ही किसी तरह का प्रत्यक्ष विरोध प्रदर्शन इस बार देखने को मिला है।

आज सुबह चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग के खिलाफ तिब्बती लोगों ने आईटीसी ग्रैंड होटल के सामने प्रदर्शन किया। इन लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।