अपने एक अन्य बयान के चलते फिर विवादों में घिरे 'बाबा रामदेव'
अपने एक अन्य बयान के चलते फिर विवादों में घिरे 'बाबा रामदेव'Social Media

अपने एक अन्य बयान के चलते फिर विवादों में घिरे 'बाबा रामदेव'

इस बार बाबा राम देव के बयान में उन्होंने कोरोना वॉरियर माने जाने वाले डॉक्टर पर निशाना साधा है। जिससे काफी बबाल मच गया है। विस्तार से जानिए क्या है मामला...

राज एक्सप्रेस। पिछले कुछ दिनों से योग गुरु बाबा रामदेव एक वीडियो में दिए हुए बयान के चलते सुर्ख़ियों में बने हुए हैं। जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ। वहीं, अब बाबा राम देव का एक बार फिर दूसरे वीडियो में दिए गए बयान के चलते चर्चा में आ गए हैं। इस बार बाबा राम देव के बयान में उन्होंने कोरोना वॉरियर माने जाने वाले डॉक्टर पर निशाना साधा है। जिससे काफी बबाल मच गया है। विस्तार से जानिए क्या है मामला ?

क्या था पुराना मामला ?

दरअसल, तीन दिन पहले योग गुरु बाबा राम देव ने एक बयान दिया था। जिसमें उन्होंने कहा था कि, एलोपैथी ‘मूर्खतापूर्ण विज्ञान’ है। बाबा रामदेव ने यहां तक कह डाला कि एलोपैथी दवाएं लेने के बाद लाखों की संख्या में मरीजों की मौत हुई है। इस बयान का वीडियो काफी वायरल हो रहा था और इस पर बयान के बाद बाबा रामदेव काफी विवादों में घिर गए थे। इस मामले ने इतना तूल पकड़ लिया था कि, बाबा राम देव के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग उठने लगी थी। हालांकि, उसके बाद उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया था। यह मामला कोई भूला भी नहीं था कि, बाबा राम देब का एक और विवादित बयान सामने आ गया है।

क्या है नया विवाद :

बताते चलें, बाबा रामदेव का एक और नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में वह डॉक्टरों का मजाक उड़ाते हुए नजर आरहे हैं। इस वीडियो में बाबा रामदेव ने कहते नजर आरहे है कि, '1 हजार डॉक्टर कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद मर गए'। साथ ही योग गुरु बाबा रामदेव ने एक योग शिविर में एक युवक से हुई बातचीत के दौरान कहा कि, 'डॉक्टर को टर...टर...कहते हुए तंज कसते दिखाई दे रहे हैं।' इसके अलावा वीडियो में बाबा राम देव कह रहे हैं कि, 1 हजार डॉक्टर कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद मर गए। वे कह रहे हैं कि बताइये वे डॉक्टर अपने आप को ही नहीं बचा पाए।

वीडियो बाबा ने कहा :

बाबा रामदेव वीडियो में यह भी कहते नजर आरहे हैं कि, 'डॉक्टर बनना है तो बाबा रामदेव जैसा बनो जिसके पास कोई डिग्री नहीं है और सबका डॉक्टर है। विदआउट एनी डिग्री और डिग्निटी आइ एम आ डॉक्टर!' बताते चलें, इस बयान के बाद इंडियन मेडिकल असोसिएशन ने उत्तराखंड मुख्यमंत्री से कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि, 'डॉक्टरों पर गैर जिम्मेदाराना बयान और उनका मजाक बनाकर एक बार फिर बाबा रामदेव ने अच्छा नहीं किया है।' पूरे मामले पर नाराजगी जताते हुए इंडियन मेडिकल असोसिएशन ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बाबा रामदेव पर कार्रवाई करने की मांग की है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co