Raj Express
www.rajexpress.co
उपवास में रखे ये सावधानी
उपवास में रखे ये सावधानी|Priyanka Yadav
लाइफस्टाइल

सावधानियां-जो उपवास में भी डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर पेशेंट को रखेंगी स्वस्थ्य

नवरात्रि का त्योहार व्रत-साधना के लिए होता है, इसलिए नवरात्र में बड़ी संख्या में लोग उपवास रखते हैं। लेकिन अगर आप मरीज हो तो ध्यान रखे यह सावधानी

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। नवरात्रि का त्योहार व्रत और साधना के लिए होता है। माता दुर्गा को समर्पित यह त्योहार संपूर्ण भारत में अत्यधिक उत्साह के साथ मनाया जाता है। संस्कृत भाषा के शब्द में नवरात्र का अर्थ होता है- नौ रातें। इन 9 रातों के दौरान देवी के नौ रूपों की पूजा की जाती है। इसलिए नवरात्र में बड़ी संख्या में लोग उपवास रखते हैं। अधिकांश धर्म उपवास को शुद्धिकरण या तपस्या का जरिया मानते हैं। इसलिए इसे बहुत महत्व देते हैं। धार्मिक एवं आध्यात्मिक संदर्भ में भोजन शरीर को पोषण प्रदान करता है और उपवास आत्मा को पोषण प्रदान करता है।

उपवास का प्रभाव-

भारतीय धर्म-संस्कृति में यह मान्यता है कि, धार्मिक साधना के साथ उपवास हमारे शारीरिक और मानसिक संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है। उपवास रखने का निर्णय व्यक्तिगत है, लेकिन डायबिटीज (मधुमेह) से ग्रस्त व्यक्तियों को उपवास का निर्णय धार्मिक दिशा-निर्देशों में दी गई छूट को ध्यान में रखकर और उपवास से जुड़ी स्वास्थ्य से संबंधित जटिलताओं को ध्यान में रखते हुए ही लेना चाहिए, क्योंकि ऐसे लोगों में उपवास के दौरान कई जटिलताएं उत्पन्न हो सकती हैं। जैसे- ब्लड शुगर का कम होना, ब्लड शुगर में वृद्धि।