Raj Express
www.rajexpress.co
CEO Sundar Pichai Admired
CEO Sundar Pichai Admired |Social Media and Sarafina Nance Twitter
लाइफस्टाइल

सुन्दर पिचाई ने की 0 नंबर लाने वाली लड़की की तारीफ

शायद ही दुनिया में कोई ऐसा स्टूडेंट रहा होगा जिसे 0 नंबर लाने पर किसी ऐसे व्यक्ति से तारीफ सुनने मिली होगी, जो इतनी बड़ी पोजीशन पर हो। जी हाँ, गूगल CEO सुंदर पिचाई ने 0 नंबर लाने वाली लड़की की तारीफ की।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • ज़ीरो (0) मार्क्स आने पर भी हुई तारीफ

  • गूगल के CEO सुंदर पिचाई ने की तारीफ

  • ट्वीटर पर बना काफी चर्चा का विषय

  • क्वांटम फिजिक्स में मिले थे जीरो नंबर

राज एक्सप्रेस। किसी स्टूडेंट के यदि कम मार्क्स भी आ जाते है तो, उसे दुनियाभर की बातें सुनने को मिल जाती है, लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि, किसी स्टूडेंट की ज़ीरो (0) मार्क्स आने पर भी तारीफ हुई हो। शायद ही दुनिया में कोई ऐसा स्टूडेंट रहा होगा जिसे 0 नंबर लाने पर तारीफ सुनने मिली होगी, वो भी किसी ऐसे व्यक्ति से जो इतनी बड़ी पोजीशन पर हो। जैसा की सभी जानते है कि गूगल के CEO सुंदर पिचाई हैं। आपको पढ़ कर हैरानी होगी कि, सुन्दर पिचाई ने एक एक ऐसी स्टूडेंट की तारीफ की जिसके ज़ीरो नंबर आये हैं। ये मामला सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्वीटर पर काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

क्या लिखा तारीफ में :

सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्वीटर जो वाक्या काफी वायरल हो रहा है, उसमें गूगल के CEO सुंदर पिचाई ने सराफिना नेंस नाम की एक लड़की की तारीफ की है, जिसके क्वांटम फिजिक्स में कुछ साल पहले जीरो (0) नंबर आये थे। पिचाई ने सराफिना नेंस के ट्वीट को टैग करते हुए उनकी तारीफ की और अपने ट्वीट में लिखा कि,

"बहुत अच्छे और बहुत ही प्रेरणादायक।"

सुंदर पिचाई, गूगल के CEO

सराफिना नेंस ने बताई अपनी कहानी :

जीरो नंबर लाने वाली सराफिना नेंस ट्वीटर अकाउंट पर अपने ज़ीरो लेन की पूरी कहानी विस्तार से बताई थी, जिसकी तारीफ सुंदर पिचाई ने की। सराफिना नेंस ने बताया कि,

मुझे 4 साल पहले क्वांटम फिजिक्स एग्ज़ाम में ज़ीरो (शून्य) मिला था, उसके बाद मैं अपने प्रोफेसर से मिली। मुझे अपना मेन सब्जेक्ट फिजिक्स बदलना पड़ेगा इस बात का डर था। आज मैं एक टॉप टियर एस्ट्रोफिजिक्स PhD प्रोग्राम का हिस्सा हूं। इसके अलावा दो पेपर भी पब्लिश कर चुकी हूं। STEM सभी के लिए कठिन है, लेकिन ग्रेड का मतलब ये नहीं होता कि, आप इसे कर ही नहीं सकते है।

सराफिना नेंस

लोगों ने किये एक्सपीरियंस शेयर :

हालांकि, सराफिना नेंस और गूगल के CEO सुंदर पिचाई दोनों ने ही यह ट्वीट 21 नवंबर को किया था, लेकिन जब यह मामला प्रकाश में आया तब से इसे काफी बार देखा जा रहा है और यह वायरल हो रहा है। कई लोग इन ट्वीट्स पर अपना एक्सपीरियंस शेयर कर रहे हैं। 21 नवंबर से अब तक इस पर लगभग 80 हजार से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं। साथ ही लगभग 14 हजार से ज्यादा लोग इसे रीट्विट भी कर चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।