Breast Cancer Awareness Month
Breast Cancer Awareness MonthRaj Express

स्‍तनों में हो रहा है दर्द, तो जानें यह कब नॉर्मल है और कब जाना चाहिए डॉक्‍टर के पास

यह जरूरी नहीं कि ब्रेस्‍ट में पेन की वजह कैंसर ही हो। कई बार टाइट ब्रा पहनने, पीरियड्स, गर्भावस्‍था, स्‍तनपान कराने से भी ऐसा हो सकता है।

हाइलाइट्स :

  • महिलाओं को कई कारणों से हो सकता है ब्रेस्‍ट पेन।

  • कई मामलों में ब्रेस्‍ट पेन कैंसर का संकेत।

  • पीरियड्स, प्रेग्‍नेंसी में ब्रेस्‍ट पेन होना नॉर्मल है।

  • एक स्‍तन में लंबे समय तक दर्द चिंताजनक स्थिति है।

राज एक्सप्रेस। स्‍तनों में अचानक से दर्द होने लगे, तो महिलाएं अक्‍सर डर जाती हैं। दर्द उठते ही सबसे पहले मन में कैंसर का ख्‍याल आता है। क्‍योंकि स्‍तन में दर्द स्‍तन कैंसर के लक्षणों में से एक है। यह बीमारी हर साल लाखों महिलाओं को प्रभावित करती है। ध्‍यान न दिए जाने पर हजारों महिलाओं की मौत भी हो जाती है। वर्तमान में स्‍तन कैंसर की घटनाओं ने सर्वाइकल कैंसर को पीछे छोड़ दिया है और यह महिलाओं में होने वाला सबसे आम प्रकार का कैंसर बन गया है। इसलिए महिलाएं इसे लेकर थोड़ा जागरूक हुई है। इसलिए स्‍तन में होने वाले मामूली से मामूली दर्द पर भी तुरंत ध्‍यान देती हैं। लेकिन यह जरूरी नहीं कि ब्रेस्‍ट में पेन की वजह हर बार कैंसर ही हो। कई बार टाइट ब्रा पहनने, पीरियड्स, गर्भावस्‍था, स्‍तनपान कराने से भी ऐसा हो सकता है। ब्रेस्‍ट कैंसर अवेयरनेस मंथ में हम यहां आपको स्‍तनों में होने वाले अलग-अलग तरह के दर्द के बारे में बता रहे हैं। इसके अलावा जानेंगे कि कब ब्रेस्‍ट पेन नॉर्मल है और कब इसे सीरियसली लेना चाहिए।

कब ब्रेस्‍ट पेन नॉर्मल है

पीरियड्स में

कई महिलाओं को पीरियड आने से पहले ब्रेस्‍ट पेन की शिकायत रहती है। ऐसा हार्मोनल बदलाव के कारण होता है। हर महीने एक ही समय पर होने वाला यह दर्द एकदम नॉर्मल है। घबराने की बात नहीं है। इसे तेज दर्द नहीं माना जा सकता।

गर्भावस्‍था में स्‍तनों में दर्द

स्‍तनों में दर्द होना गभार्वस्‍था का संकेत हो सकता है। कुछ लोगों को यह गर्भावस्‍था के शुरुआती लक्षणों के रूप में भी दिखता है। एक स्‍टडी के अनुसार 76 प्रतिशत गर्भवती महिलाएं पहली तिमाही में ब्रेस्ट पेन का अनुभव करती हैं।

कैफीन से ब्रेस्‍ट पेन

कुछ महिलाओं में कैफीन ब्रेस्‍ट पेन की वजह बन सकता है। इस तरह का दर्द सिवियर पेन की कैटेगरी में नहीं आता। इसलिए चिंता करने की जरूरत नहीं है। अगर आप ज्‍यादा कॉफी का सेवन करती हैं, तो इसे कम कर दें।

ऐसा दर्द हो, तो गंभीर है स्थिति

एक स्‍तन में असुविधा

अगर आपको ऊपर बताए गए कारणों से ब्रेस्ट पेन नहीं है, तो यह चिंता की बात है। आपको इस तरह के दर्द को अवॉइड नहीं करना चाहिए। इसके अलावा य‍दि आपको लगातार एक हफ्ते तक एक स्‍तन में असुविधा बनी हुई है, तो आपको डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए।

लंबे समय तक स्‍तन में दर्द

एक और चिंताजनक संकेत है, जिस पर आपको बहुत ज्‍यादा ध्‍यान देने की जरूरत है, वो है अगर ब्रेस्ट पेन आपको एक सप्ताह से ज्‍यादा समय तक बना रहे , खासतौर से समय के साथ यह बदतर होता जा रहा हो, तो आपको तुरंत टेस्‍ट कराना चाहिए।

इस दर्द की आदत नहीं है

जो दर्द लगातार बना रहता है, उसे सहने की आदत हो जाती है। पर अगर आपको लगे कि स्‍तनों में दर्द कुछ अलग तरह का है, जिसकी आपको आदत नहीं है, तो बिना देर किए डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए।

तो कैसे जानें ब्रेस्‍ट कैंसर का दर्द है

ब्रेस्‍ट कैंसर में होने वाला दर्द केवल निप्पल तक ही सीमित होता है। लेकिन अगर यह दर्द ब्रेस्‍ट के आसपास के हिस्‍से में फैल गया है, तो बहुत तेज दर्द हो सकता है। यह मेटास्टेटिस कैंसर का संकेत है। इसका मतलब है कि महिला का ब्रेस्ट कैंसर एडवांस या लास्‍ट स्‍टेज में पहुंच चुका है।

भले ही ब्रेस्ट पेन हमेशा कैंसर का संकेत नहीं होता, लेकिन आपको इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। हालांकि आपको कभी स्तनों में दर्द हो, तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, ताकि वे इस बारे में जागरूक रहे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co