हड्डियों की मजबूती के लिए सिर्फ कैल्शियम से नहीं चलेगा काम, ये चीजें भी हैं जरूरी

हड्डियों के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी है, लेकिन सिर्फ कैल्शियम सप्लीमेंट ही हड्डियों को ताकतवर बनाने का एकमात्र साधन नहीं है। इसके साथ रूटीन में कुछ एक्टिविटीज करनी होंगी। तभी हमारी बोन हेल्‍दी बनेंगी।
हड्डियों की मजबूती के लिए सिर्फ कैल्शियम से नहीं चलेगा काम
हड्डियों की मजबूती के लिए सिर्फ कैल्शियम से नहीं चलेगा कामRaj Express
Submitted By:

हाइलाइट्स :

  • हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए जरूरी है कैल्शियम सप्लीमेंट लेना।

  • रोजाना फिजिकल एक्टिविटी करना जरूरी।

  • हड्डियों को लचीला बनाने के लिए योग करें।

  • डांस करने से निचले शरीर पर पड़ता है भार।

राज एक्सप्रेस। वर्तमान में बुजुर्ग हो या बच्‍चा, महिला हो या पुरुष हर किसी के घुटने में दर्द रहता है। जबकि हमारे शरीर का पूरा आधार ही हड्डियों पर टिका हुआ है। ऐसे में अगर हड्डियां ही कमजोर हो जाए, तो शरीर किसी काम का नहीं रहता। इसलिए कहते हैं कि हड्डियों  की मजबूती के लिए कैल्शियम सप्लीमेंट लेना चाहिए। खासतौर से 30 के बाद तो हड्डियों की लंबाई में वृद्धि रुक जाती है। इसलिए इस उम्र के बाद हड्डियों की सेहत का खास ख्‍याल रखना पड़ता है। लेकिन क्‍या आप सिर्फ और सिर्फ कैल्शियम सप्लीमेंट के भरोसे हैं। अगर हां, तो बता दें कि मजबूत हड्डियों के लिए सिर्फ कैल्शियम सप्‍लीमेंट लेने से ही काम नहीं चलेगा।

हड्डियों के निर्माण की प्रक्रिया को तेज करने के लिए फिजिकल एक्टिविटी बहुत जरूरी है। न्यूट्रिशन एक्‍सपर्ट जूही कपूर ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है। इसमें उन्‍हाेंने बताया है कि हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए आप वेट लिफ्टिंग एक्‍सरसाइज और वेट ट्रेनिंग जैसी एक्टिविटीज में शामिल हो सकते हैं। खासतौर से जो लोग रेगुलर कैल्शियम सप्‍लीमेंट ले रहे हैं, उन्‍हें डेली रूटीन में कुछ प्रभावी एक्टिविटीज को भी शामिल करना चाहिए।

क्‍या कहती हैं एक्‍सपर्ट :

एक्सपर्ट के अनुसार, कई लोग  हड्डियों की ताकत बढ़ाने के लिए रोजाना कैल्शियम सप्लीमेंट लेते हैं। लेकिन सिर्फ कैल्शियम सप्लीमेंट से कुछ नहीं होता। आपको रेगुलर फिजिकल एक्टिविटी भी करनी होगी। क्‍योंकि ऐसा करने से हमारी बॉडी में बोन बिल्डिंग का प्रोसेस नेचुरल तरीके से ट्रिगर हो जाता है। वजन उठाने वाली एक्‍सरसाइज करने से हमारी बॉडी महसूस करने लगती है कि हमारी हड्डियों को स्‍ट्रेंथ की जरूरत है। इन एक्टिविटी की वजह से हमारी बॉडी बोन्‍स के ऊपर कैल्शियम और मिनरल्‍स की लेयर बढ़ाने लगती है। ऐसे में बोन बिल्डिंग का यह प्रोसेस फिजिकल वर्कआउट करने से ही ट्रिगर होता है। जबकि सिर्फ कैल्शियम सप्लीमेंट बॉडी को उतना बेनिफिट नहीं पहुंचा पाता।

रोजाना चलें :

यह एक सरल लेकिन प्रभावी एक्‍सरसाइज है। चलने से हड्डियों के ऊपर भार आता है, जिससे ये मजबूत बनती हैं। हड्डियों के संतुलन में सुधार के लिए इस एक्‍सरसाइज को कुछ मिनट ही सही लेकिन जरूर करना चाहिए।

डांस करें :

हड्डियां स्वस्थ, तो हम स्‍वस्‍थ। जी हां, अगर आप वास्तव में हड्डियों के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार करना चाहते हैं, तो डांस करें। ये निचले अंगों पर भार डालती है। बोन डेंसिटी बढ़ाने के लिए यह वर्कआउट करना बहुत जरूरी है।

सीढ़ियां चढ़ना :

सीढ़ियां चढ़ने से हड्डियों को भार उठाने में मदद मिलती है और शरीर के निचले हिस्से की ताकत में सुधार हो सकता है।

रेजिस्टेंस ट्रेनिंग जरूरी :

आर्म कर्ल, लेग प्रेस और स्क्वाट्स जैसी एक्टिविटी बोन हेल्‍थ के लिए बहुत जरूरी हैं। इनके लिए रेजिस्टेंस बैंड या हल्के वजन का उपयोग करने से मांसपेशियों की ताकत और हड्डियों के घनत्व में सुधार होता है।

योग करें :

बढ़ती उम्र में कैल्शियम सप्‍लीमेंट खाने के साथ -साथ योग को अपनी लाइफस्‍टाइल का हिस्‍सा बनाएं। खासतौर से योद्धा मुद्रा और सूर्य नमस्‍कार करने से ही आपको हड्डियों के लचीलेपन और मांसपेशियों की ताकत में सुधार देखने को मिलेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co