Cervical Cancer Awareness Month: महिलाओं ही नहीं पुरुषों के लिए भी जरूरी है HPV वैक्‍सीन, जानें 5 कारण

महिलाओं की तरह एचपीवी वैक्‍सीन पुरुषों के लिए भी बहुत जरूरी है। अगर कोई पुरुष कम उम्र में ही इस वैक्‍सीन को लगवा ले, तो आगे चलकर विभिन्‍न प्रकार के कैंसर की संभावना से बचा जा सकता है।
Cervical Cancer Awareness Month
Cervical Cancer Awareness MonthRaj Express
Submitted By:

हाइलाइट्स :

  • महिलाओं में मौत का दूसरा बड़ा कारण है सवाईकल कैंसर।

  • पुरुषों के लिए भी जरूरी एचपीवी वैक्‍सीन।

  • 9 से 45 तक की उम्र में पुरुष लगवा सकते हैं एचपीवी वैक्सीन।

  • इससे विभिन्‍न प्रकार के कैंसर का खतरा होता है कम।

राज एक्सप्रेस। हर साल जनवरी को सर्वाइकल कैंसर अवेयरनेस मंथ के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य महिलाओं में सर्वाइकल कैंसर के प्रति जागरूकता पैदा करना है, ताकि सही समय पर इलाज किया जा सके। सर्वाइकल कैंसर से बचने के लिए एचपीवी वैक्‍सीन सबसे प्रभावी तरीका है। कई लोग मानते हैं कि एचपीवी केवल महिलाओं के लिए है, लेकिन ऐसा नहीं है। पुरुषों को भी एचपीवी वैक्‍सीन लगवाना जरूरी है। अगर उन्‍हें कम उम्र में या सेक्सुअली एक्टिव होने से पहले वैक्‍सीन लगा दी जाए, तो बॉडी एचपीवी वायरस से लड़ने के लिए तैयार हो जाती है। इससे वे गर्दन, सिर, लिंग, गुदा और ऑरोफरीन्जियल जैसे घातक कैंसर से बच सकते हैं। तो आखिर पुरुषों के लिए क्‍यों जरूरी है एचपीवी वैक्‍सीन, जानतें हैं इसकी 5 वजहें।

लिंग को कैंसर से बचाता है

एचपीवी वैक्‍सीन पुरुषों को प्रभावित करने वाले कैंसर के खतरे को काफी कम कर देता है, जिसमें लिंग, गुदा और ऑरोफरीन्जियल कैंसर शामिल हैं। सही उम्र में टीका लगवाकर, पुरुष खुद को जीवन-घातक स्थितियों से बचा सकते हैं।

यौन स्‍वास्‍थ्‍य की रक्षा करे

ह्यूमन पेपिलोमावायरस एक वायरल इंफेक्‍शन है, जो ज्‍यादातर यौन संबंध बनाने के दौरान फैलता है। ऐसे में सेक्‍सुअल और रिप्रोडक्टिव हेल्थ को बेहतर बनाए रखने के लिए वैक्सीन लगवाना जरूरी हो जाता है। एचपीवी संक्रमण को रोककर, पुरूष जेनिटल वार्ट और कैंसर से संबंधित स्वास्थ्य समस्याओं के खतरे को कम कर सकते हैं।

एचपीवी उपभेदों से बचाव

बता दें कि एचपीवी सिंगल वायरस नहीं है बल्कि कई उपभेदों वाले वायरस का एक परिवार है। इनमें से कुछ कैंसर से जुड़े हैं और कुछ जेनिटल वार्ट से। वैक्‍सीनेशन कराकर पुरुष कई एचपीवी उपभेदों के खिलाफ अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत कर सकते हैं।

वायरस का प्रसार कम होता है

एचपीवी के खिलाफ वैक्सीनेशन न केवल एक पुरुष बल्कि कई लोगों की प्रतिरक्षा में योगदान देता है। वैक्‍सीन लगवाने से वायरस का प्रसार कम हो जाता है। इससे उन लोगों को भी सुरक्षा मिलती है, जिन्होंने वैक्‍सीन नहीं लगवाई है।

लंबे समय तक मिलते हैं फायदे

एचपीवी की बताई गई डोज लेकर व्यक्ति को एचपीवी से संबंधित बीमारियों के खिलाफ सुरक्षा मिल सकती है। इससे व लंबे समय तक शारीरिक और मानसिक रूप से स्‍वस्‍थ रहेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co