क्‍या आपने चखा है ये 6 तरह के नींबू का स्‍वाद, सर्दियों में इम्‍यून हेल्‍थ को बनाने के साथ करेंगे वेटलॉस भी

स्‍वाद में खट्टापन लाने के लिए नींबू का इस्तेमाल कई भारतीय सब्‍जी और स्‍नैक्‍स में किया जाता है। सर्दियों में इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही वेटलॉस करने के लिए इनका सेवन बहुत अच्‍छा है।
Lemon Juice
Lemon JuiceRaj Express
Submitted By:

हाइलाइट्स :

  • खट्टे स्‍वाद के लिए जाना जाता है नींबू।

  • नींबू पोषक तत्‍वों का पावरहाउस हैं।

  • यूरिका लेमन इम्‍यूनिटी बूस्‍टर है।

  • रेस्पिरेटरी समस्याओं का इलाज करता है असम नींबू।

राज एक्सप्रेस। भारतीय लोगों को खाने में खट्टा स्‍वाद बेहद पसंद है। नींबू उनकी इसी जरूरत को पूरा करता है। यह फल अपने ताजे और खट्टे स्वाद के लिए ही जाना जाता है। देखने में यह बेशक छोटा है, लेकिन ये विटामिन सी, कैल्शियम, फोलेट और पोटेशियम जैसे पोषक तत्‍वों का पावर हाउस है। इसके सेवन से न केवल इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद मिलती है,बल्कि कई स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ी समस्‍याएं भी ठीक हो सकती हैं। गर्मियों में तो नींबू का सेवन बहुत ज्‍यादा किया जाता है, लेकिन सर्दियां आते ही लोग नींबू खाना बंद कर देते हैं। जबकि ठंडों में इसका सेवन आपको कई बीमारियों से बचा सकता है। ठंडों में नींबू पानी पीने से शरीर में पानी का लेवल मेंटेन रहता है। इसके अलावा सर्दियों में इसके सेवन से वेटलॉस में भी मदद मिलती है। अगर आप नींबू खाने के शौकीन हैं, तो यहां हम आपको भारत में नींबू की सबसे पॉपुलर वैरायटी के बारे में बता रहे हैं, जिनके बारे में आपको जानना चाहिए।

यूरेका नींबू

भारतीय बाजारों में यूरेका नींबू बड़ी आसानी से मिल जाता है। विटामिन सी से भरपूर नींबू की यह किस्‍म सर्दियों में इम्‍यूनिटी बूस्‍ट करने का बेहतरीन विकल्‍प है। इससे पाचन तंत्र में भी सुधार होता है।

कागजी नींबू

कागजी नींबू भारत में मिलने वाली नींबू की अन्‍य वैरायटी है। इसे लाइम या पर्शियन नींबू के नाम से भी जाना जाता है। रंग में हरे और आकार में छोटे होने के साथ यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं। जो पाचन को ठीक रखने के साथ ही वजन घटाने में बहुत मदद करते हैं।

असम नींबू

असम में उगने वाले इस नींबू का आकार अन्‍य नींबू की तुलना में बड़ा होता है। यह अपने एंटीबैक्टीरियल गुणों के लिए मशहूर है। ये नींबू रेस्पिरेटरी समस्याओं का इलाज करने में बहुत फायदेमंद होते है।

खट्टा नींबू

भारतीय क्‍यूजिन में खट्टे नींबू का सबसे ज्‍यादा इस्‍तेमाल किया जाता है। इसके रस की कुछ बूंदें किसी भी व्यंजन या पेय पदार्थ का स्वाद तुरंत बदल सकती हैं। प्रकृति में एसिडिक होने के कारण यह पाचन और डिटॉक्सीफिकेशन में हेल्‍प कर सकता है।

लिस्‍बन नींबू

इम्‍यूनिटी को बूस्‍ट करने के लिए लिस्‍बन नींबू बहुत फायदेमंद है। इस नींबू के छिलके में एक आकर्षक खुशबू होती है। इसलिए इसका उपयोग व्‍यंजन में सुगंध जोड़ने के लिए किया जाता है।

गोंधोराज

गोंधोराज बंगाल में सबसे ज्‍यादा पाया जाता है। इंडियन मार्केट में पता लगाने पर यह आपको मिल सकता है। किसी भी व्यंजन को सुगंध और स्‍वाद देने के लिए इसके केवल एक पतले स्लाइस की जरूरत होती है। सर्दियों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सीमित मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co