Frozen Shoulder
Frozen ShoulderRaj Express

जाम हो रहे कंधों के लिए एक्‍सपर्ट ने बताई एक्‍सरसाइज, मिलेगा झट से आराम

लंबे समय तक एक ही पॉश्‍चर में बैठे रहने से जॉइंटस जाम होने लगते हैं। इससे कंधों में दर्द होता है और ये हिल ढुल भी नहीं पाते। इस स्थिति को फ्रोजन शोल्‍डर कहते हैं।

हाइलाइट्स :

  • कंधों में दर्द आम समस्‍या है।

  • एक ही पोजीशन में बैठे रहने से होता है फ्रोजन शोल्‍डर।

  • शोल्‍डर मूवमेंट करें।

  • बैक एंड फ्रंट स्‍ट्रेचिंग से मिलेगा आराम।

राज एक्सप्रेस। कंधे दर्द होना एक बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम है। इस समस्‍या का सामना रैगुलर वर्कआउट, ड्राइविंग करने वाले या लंबे समय तक एक ही पोजीशन में बैठने वालों को ज्‍यादा करना पड़ता है। इससे जुड़ी एक और समस्‍या है फ्रोजन शोल्‍डर की। इसमें कंधे की मांसपेशियां कठोर होकर सूज जाती हैं, जिससे इन्‍हें हिलाना ढुलाना मुश्किल हो जाता है। कई बार तो हाथ तक उठाने में दिक्‍कत आती है। इस दर्द को मेडिकल टर्म में एडहेसिव कैप्सूलाइटिस कहते हैं। यह दर्द इतना गंभीर होता है कि कंधे को जाम कर देता है। आमतौर पर कंधे की मालिश या आईस पैक लगाकर लोग इसका इलाज कर लेते हैं, लेकिन नेचुरोपैथी और योगा एक्‍सपर्ट डॉ. प्रियंका त्रिवेदी ने कंधे के दर्द को दूर करने के लिए कुछ एक्सरसाइज बताई हैं। जिन्‍हें आप घर या ऑफिस में काम करते हुए भी कर सकते हैं।

शोल्‍डर मूवमेंट

एक्‍सपर्ट बताती हैं कि फ्रोजन शोल्‍डर की समस्या से बचने के लिए सही पॉश्चर में बैठना जरूरी है। कंधों को झुकाकर बैठने से इन पर ज्‍यादा दबाव पड़ता है, जिससे ये सूज जाते हैं। अगर आपको अचानक से कंधे में दर्द होने लगे, तो एक जगह पर बैठे -बैठे ही अपने कंधों को 5 बार आगे और 5 बार पीछे मूव करें। इससे दर्द बहुत जल्‍दी दूर हो जाएगा।

बैक एंड फ्रंट स्‍ट्रेचिंग

इस एक्‍सरसाइज में अपने दोनों कंधों को पहले पीछे और फिर आगे की तरफ स्‍ट्रेच करें। ऐसा आपको 10-10 बार करना है।

शेाल्‍डर प्रेस

कंधों में दर्द से राहत के लिए अपने हाथ से कंधों को प्रेस करें। इसे कंधों को मसाज देना भी कहते हैं। डॉक्‍टर के अनुसार, जब भी आपको फ्रोजन शोल्‍डर की समस्या महसूस हो, तो आप इसे कर सकते हैं। कुछ ही देर में आपको आराम मिल जाएगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co