शिशु सुरक्षा दिवस
शिशु सुरक्षा दिवसSyed Dabeer Hussain - RE

शिशु सुरक्षा दिवस : गूंजती रहेगी बच्चे की किलकारी, रखें इन बातों का ध्यान

हम सभी के लिए बहुत जरूरी है कि बच्चे के जन्म के बाद उसकी सही तरीके से देखभाल की जाए, क्योंकि एक जरा सी चूक बच्चे के जीवन पर बुरा प्रभाव डाल सकती है।

राज एक्सप्रेस। हर साल 7 नवंबर का दिन शिशु सुरक्षा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य लोगों में बच्चों की देखभाल और उनकी सुरक्षा को लेकर जागरूकता फैलाना है। इसका कारण यह है कि पूरी दुनिया में हर साल बड़ी संख्या में बच्चे उचित देखभाल और सुरक्षा के अभाव में काल के गाल में समा जाते हैं। ऐसे में हम सभी के लिए बहुत जरुरी है कि बच्चे के जन्म के बाद उसकी सही तरीके से देखभाल की जाए, क्योंकि एक जरा सी चूक बच्चे के जीवन पर बुरा प्रभाव डाल सकती है। तो चलिए शिशु सुरक्षा दिवस के मौके पर हम जानेंगे कि नवजात बच्चे की देखभाल के लिए किन बातों का विशेष ध्यान रखें।

स्तनपान है बहुत जरूरी :

बच्चों के लिए मां का दूध अमृत के समान होता है, लेकिन वर्तमान समय में कई महिलाओं के लिए स्तनपान ना कराना एक फैशन बनता जा रहा है। यह बच्चे के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर की सलाह के अनुसार बच्चे को माँ का दूध पिलाना बहुत जरुरी है।

मालिश करें :

जैतून, बादाम का तेल या बेबी ऑइल से बच्चे की मालिश करें। ऐसा करने से बच्चे के शरीर का सही विकास होता है। हालांकि मालिश हल्के हाथों से करे और इस बात का ध्यान रखें कि बच्चे को चोंट न लग जाए।

साफ-सफाई का रखें विशेष ध्यान :

बच्चे की साफ़-सफाई का विशेष ध्यान रखें। उसे गुनगुने पानी से नहलाएं। नहलाने के लिए ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें, जिससे बच्चे की त्वचा को नुकसान ना पहुंचे। ठंड के दिनों में बच्चे को रोजाना नहलाना जरुरी नहीं है। बच्चे को हमेशा साफ़-सुधरे कपड़े ही पहनाएं।

संतुलित आहार :

बच्चे के जन्म के 6-7 महीने बाद डॉक्टर की सलाह पर उसे जूस, दलिया, शक्कर-नमक का पानी सहित अन्य चीजें दी जा सकती हैं। बच्चे को गाय का दूध पिलाया जा सकता है। बच्चे को खाने में ऐसा आहार दें, जो उसके शरीर के विकास के लिए जरुरी हो।

डॉक्टर को दिखाएं :

बच्चे को समय-समय पर डॉक्टर को दिखाएं। उसके वजन का ध्यान रखें। साथ ही समय-समय पर बच्चों को लगने वाले जरूरी टीके लगाएं। ऐसा ना करना भी बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co