मेटास्‍टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसर
मेटास्‍टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसरRaj Express

इस हॉलीवुड एक्‍ट्रेस की हड्डियों में फैल गया है मेटास्‍टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसर, जानें कैसे दिखते हैं लक्षण

बोन मेटास्टेटिक कैंसर में एडवांस स्‍टेज का ब्रेस्‍ट कैंसर ब्रेस्‍ट के अलावा आसपास की हड्डियों में फैल जाता है। हड्डियों में फैक्‍चर और बहुत ज्‍यादा प्‍यास लगना इस बीमारी के मुख्‍य लक्षण हैं।

हाइलाइट्स :

  • शेनन डोहर्टी की हड्डियों में फैल रहा है 4 स्‍टेज ब्रेस्‍ट कैंसर।

  • हड्डियों में दर्द बोन मेटास्टेटिक के लक्षण।

  • बढ़ जाता है रीढ़ की हड्डी में दबाव।

  • मेडिटेशन और योग करने से बेहतर महसूस कर सकते हैं।

राज एक्सप्रेस। अमेरिकी एक्‍ट्रेस शेनन डोहर्टी ने इस महीने खुलासा किया कि एडवांस स्‍टेज का ब्रेस्‍ट कैंसर उनकी हड्डियों तक फैल गया है। पीपुल्स मैगजीन को इंटरव्‍यू देते हुए उन्होंने बताया कि ब्रेस्ट कैंसर का निदान पहली बार 2015 में किया गया था। आठ साल बाद अब मेटास्टेटिस कैंसर हड्डियों में फैलने लगा है।

CDC के अनुसार, हर साल महिलाओं में स्तन कैंसर के लगभग 240,000 मामले और पुरुषों में 2,100 मामले सामने आते हैं। जब स्तन कैंसर स्तन के अलावा अन्‍य हिस्‍सों में फैलता है, तो यह सबसे पहले हड्डियों में पहुंच जाता है। जिसे "बोन मेटास्‍टेटिक " कहते हैं। यह समस्‍या मेटास्टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसर से पीड़ित लगभग 70 प्रतिशत महिलाओं में होती है, यह कैंसर के वापस आने का पहला संकेत है। यहां हम आपको बोन मेटस्‍टेटिक के लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिस पर ध्‍यान देना बहुत जरूरी है।

बोन मेटास्‍टेटिक के लक्षण

हड्डी में दर्द

ब्रेस्‍ट कैंसर के दौरान हड्डी में दर्द बोन मेटास्टेटिक का सबसे आम लक्षण है। दर्द शुरू में आता-जाता रहता है, लेकिन रात में बदतर हो सकता है। अमेरिकन कैंसर सोसायटी के अनुसार, अगर दर्द हड्डी में ट्यूमर के कारण है, तो वह हड्डी कमजोर होकर फ्रैक्चर हो सकती है। अगर इसकी जल्‍द पहचान कर ली जाए, तो इलाज करके इसे जल्‍द ठीक किया जा सकता है।

टूट सकती हैं हड्डियां

मेटास्‍टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसर के कारण हड्डियों में कमजोरी आ जाती है। जिससे इनके फ्रैक्चर होने की संभावना बढ़ जाती है। यदि आपको अचानक, हड्डी में तेज दर्द का अनुभव हो, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए , क्योंकि यह फ्रैक्चर का संकेत हो सकता है।

रीढ़ की हड्डी में दबाव

जब 4 स्‍टेज ब्रेस्‍ट कैंसर रीढ़ की हड्डियों तक फैल जाएं, तो यह रीढ़ की हड्डी पर दबाव बनाने लगता है। जब भी ऐसा हो, तो पैरों में कमजोरी, पेट या पैरों में सुन्नपन, पेशाब करने में कठिनाई या कब्ज महसूस होगा। यदि आपके पास इनमें से कोई भी लक्षण है, तो आपको तुरंत डॉक्टर को बताना चाहिए। यह बोन मेटास्‍टेटिक का संकेत हो सकता है।

बहुत ज्‍यादा प्‍यास लगना

बहुत ज्‍यादा प्‍यास लगना, भूख न लगना और सुस्‍ती हाइपरक्‍लैसीमिया के लक्षण हैं। इसका मतलब यह है कि ब्‍लड में कैल्शियम की मात्रा बहुत ज्यादा है। बोन मेटास्‍टेटिक में ब्‍लड स्‍ट्रीम में कैल्शियम बहने लगता है, जिसका इलाज न किया जाए, तो व्‍यक्ति के कोमा में जाने तक की नौबत आ जाती है। आप या आपका कोई करीबी इन लक्षणों का अनुभव करता है, तो तुरंत डॉक्‍टर से बात करनी चाहिए।

बोन मेटास्‍टेटिक ब्रेस्‍ट कैंसर को मैनेज करने के उपाय

  • हॉट और कोल्‍ड कंप्रेशन का उपयोग करें।

  • मेडिटेशन, फिजिकल थेरेपी और योग जैसी रिलैक्सेशन तकनीक अपनाएं।

बता दें कि हड्डी को स्‍वस्‍थ रखने में मजबूत मांसपेशियों का बहुत योगदान होता है। इसलिए एक्टिव रहें। इससे शारीरिक और मानसिक रूप से आप बेहतर महसूस कर सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co