Post Delivery Food
Post Delivery FoodSyed Dabeer Hussain - RE

Post Delivery Food : नई मां बनी हैं आप, तो स्‍वस्‍थ रहने के लिए शुरू कर दें इन 5 चीजों का सेवन

बच्‍चे के जन्‍म के दौरान पोषक तत्‍वों में कमी आना सामान्‍य है। इसकी पूर्ति के लिए डिलीवरी के बाद हर नई मां को स्‍वस्‍थ और पौष्टिक खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

हाइलाइट्स :

  • डिलीवरी के बाद हर महिला में पाई जाती है को पोषक तत्‍वों की कमी।

  • पोस्‍टपार्टम फेज में नई मां को पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करना चाहिए।

  • बीज और अखरोट के लड्डू माताओं में दूध का उत्‍पादन बढ़ाते हैं।

  • सौंफ की चाय हाइड्रेशन और लैक्टेशन में मदद करती है।

राज एक्सप्रेस। गर्भावस्‍था की तरह ही पोस्‍ट पार्टम फेज भी महिलाओं के लिए बदलाव का समय है। इस दौरान न केवल उन्‍हें अपना बल्कि नवजात का भी भरपूर ख्‍याल रखना होता है। लेकिन बच्‍चे के जन्‍म के दौरान लगभग हर महिला में पोषक तत्‍वों की कमी पाई जाती है। जिससे शरीर में कमजोरी और थकान का अनुभव होता है। हेल्‍दी फूड काफी हद तक पोषक तत्‍वों की कमी को पूरा कर सकते हैं। यह न केवल उनके बल्कि बच्‍चे की देखभाल के लिए भी जरूरी हैं।

अगर आप भी नई मां बनी हैं , तो आपका स्‍वास्‍थ्‍य आपके लिए प्राथमिकता होना चाहिए। आपको अपने आहार में उन चीजों को शामिल करना चाहिए, जो शारीरिक और मानसिक तौर पर आपको मजबूत बनाएं। यहां हम आपको उन फूड्स के बारे में बता रहे हैं, जो डिलीवरी के बाद फास्‍ट रिकवरी के लिए बहुत फायदेमंद मानी गई हैं।

खिचड़ी

खिचड़ी, चावल और दाल से तैयार की जाती है। वैसे तो किसी व्‍यक्ति को बीमार होने पर खिचड़ी खिलाते हैं, लेकिन यह नई मां के लिए भी किसी हेल्‍दी फूड से कम नहीं है। सबसे अच्‍छी बात ये है कि खिचड़ी आसानी से पच जाती है। आप इस व्यंजन में स्वाद बढ़ाने के लिए जीरा और हींग जैसे मसाले डाल सकते हैं।

बीज और अखरोट के लड्डू

नॉर्मल हो या सिजेरियन , बच्‍चे के जन्‍म के बाद हर मां को बीज और अखरोट के लड्डू जरूर खाने चाहिए। ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली माताओं में दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए खासतौर से इन्‍हें तैयार किया जाता है। ये लड्डू पोषक तत्वों से भरपूर सामग्री के मिश्रण से बनाए जाते हैं। इनमें आमतौर पर मेथी के बीज, सौंफ के बीज, गोंद , घी और सूखी मेवा मिलाई जाती है। इन लड्डुओं के सेवन से न केवल मीठा खाने का शौक पूरा होता है, बल्कि डिलीवरी के बाद शरीर को पोषक तत्वों से भरपूर बनाने के लिए जरूरी पोषक तत्व भी मिल जाते हैं।

मेथी या सौंफ की चाय

डिलीवरी के बाद लगभग सवा महीने तक नई मां को मेथी या सौंफ की चाय का सेवन जरूर करना चाहिए। औषधीय गुणों से भरपूर यह चाय स्‍तनपान बढ़ाने के लिए भी जानी जाती है। बीजों को पानी में उबालकर चाय तैयार करने से स्तन के दूध का उत्पादन बढ़ता है। इसके अलावा हाइड्रेशन और लैक्‍टेशन में भी सपोर्ट मिलता है।

अदरक वाले फूड

डिलीवरी के बाद महिलाओं को पाचन तंत्र खराब होने की शिकायत ज्‍यादा रहती है। कुछ महिलाओं के शरीर में तो सूजन भी आने लगती है। इन दोनाें समस्याओं से जल्‍दी राहत पाने के लिए आहार में अदरक से बनी चीजों को शामिल कर सकते हैं। दाल, सूप, सब्‍जी या किसी ड्रिंक में अदरक का इस्‍तेमाल करने से स्‍वाद तो बढ़ेगा, साथ ही समग्र स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा भी मिलता है।

ड्राई फ्रूट-

बादाम, अखरोट, काजू और खजूर जैसे ड्राई फ्रूट को नई मां को अपने आहार का हिस्‍सा बनाना चाहिए। ऊर्जा, फैट और जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर ये ड्राई फ्रूट्स डिलीवरी के बाद फास्‍ट रिकवरी में बहुत मदद करते हैं। गर्भावस्‍था के दौरान शरीर में होने वाली पोषक तत्‍वों की कमी को पूरा करने का बेहतरीन तरीका है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co