कानों को सेहतमंद रखने के लिए खाएं ये फूड
कानों को सेहतमंद रखने के लिए खाएं ये फूडRaj Express

कानों को रखना है सेहतमंद, तो डाइट में जरूर शामिल करें ये 5 तरह के फूड

आमतौर पर अन्‍य अंगों की तुलना में हम कान की सेहत पर बहुत कम ध्‍यान देते हैं। लेकिन इनकी जितनी ज्‍यादा केयर की जाए, कम है। क्‍योंकि जरा सा भी इंफेक्‍शन आपको कई बीमारियों का शिकार बना सकता है।

हाइलाइट्स :

  • कानों की सेहत का ध्‍यान रखना जरूरी।

  • कान को स्‍वस्‍थ रखते हैं विटामिन और पोषक तत्‍व।

  • केला बनाता है कानों की अच्‍छी सेहत।

  • हरी पत्‍तेदार सब्जियों का करें सेवन।

राज एक्सप्रेस। कहते हैं स्‍वस्‍थ जीवन की शुरुआत स्‍वस्‍थ भोजन से होती है। आप जो भोजन करते हैं, उसका सीधा असर आपके बाहरी और आंतरिक अंगों पर दिखाई देता है। क्‍योंकि भोजन ही अंगों के काम करने की क्षमता बढ़ाता है। हमारे शरीर के हर अंग को स्‍वस्‍थ रहने के लिए अलग -अलग तरह के सप्लीमेंट, पोषक तत्‍वों और विटामिन की जरूरत होती है। किडनी, फेफड़े, आंख, हृदय को स्‍वस्‍थ रखने के लिए हम हेल्दी फूड का सेवन करते हें, लेकिन बहुत कम लोग ऐसे हैं, जो स्‍वस्‍थ कानों के लिए बेहतर आहार के बारे में जानते हैं। अपने कानों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए हम केवल एक तरीका अपनाते हैं, वो है इन्‍‍हें शोर और गंदगी से बचाना। कानों का इनसे बचाव करना भी जरूरी है, लेकिन इनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए अपने डेली डाइट में कुछ खाद्य पदार्थों को प्रायोरिटी के साथ शामिल करने की जरूरत है। यहां बताए गए 5 फूड्स के सेवन से कान को स्‍वस्‍थ रखने में बहुत मदद मिलेगी।

डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट का सेवन ज्यादातर मानसिक सेहत में सुधार के लिए किया जाता है। लेकिन कानों के लिए डार्क चॉकलेट वरदान है। यह जिंक से भरपूर होती है, जो कानों की प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखने के लिए जरूरी है। कुछ स्‍टडीज के अनुसार, डार्क चॉकलेट खाने से कान कभी संक्रमित नहीं होते।

केला

मैग्नीशियम से भरपूर फल केला आपके कानों के लिए बहुत फायदेमंद है। स्‍टडीज में पाया गया है कि मैग्नीशियम की कमी से कान के अंदर की ब्‍लड वेसेल्‍स सिकुड़ जाती हैं, जिससे ऑक्सीजन और ब्‍लड सर्कुलेशन प्रभावित होता है। इससे ईयर इज्‍यूरी का खतरा ज्‍यादा रहता है।

खट्टे फल

संतरे के अलावा कोई भी खट्टा फल कानों की सेहत का खूब ख्याल रखता है। यह फ्री रेडिकल्‍स को नष्‍ट करके सुनने की क्षमता को बेहतर बनाता ही है , साथ ही इनके सेवन से कान में होने वाला संक्रमण ठीक हो जाता है।

हरी पत्‍तेदार सब्जियां

ब्रोकली, पत्तागोभी और पालक जैसी हरे पत्‍तेदार सब्जियों में फोलिक एसिड, विटामिन के और सी, पोटेशियम और मैग्नीशियम पर्याप्त मात्रा में होता है। ब्रोकली में विटामिन की मात्रा अच्छी होती है। ये फ्री रेडिकल्‍स को रेगुलेट करते हैं। अक्‍सर यह फ्री रेडिकल इंटरनल ईयर में जाकर सेंसिटिव टिशू को नुकसान पहुंचा सकते हैं। वहीं इसमें मौजूद फोलिक एसिड कान के भीतर ठीक से ब्‍लड को सर्कुलेट करने में मदद करता है।

दूध से बने प्रोडक्‍ट

कानों को सालों साल स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं, तो दूध या दूध से बने प्रोडक्ट का सेवन जरूर करना चाहिए। बता दें कि दूध विटामिन और मिनरल्स का बेहतरीन सोर्स है। दूध में पाया जाने वाला विटामिन ए, बी डी, ई और के शरीर में ऑक्सीजन को पहुंचाने में मदद करता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कान के भीतर संवेदनशील तरल पदार्थ को बैलेंस करने के लिए बेहद जरूरी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co