पीरियड आने से एक दिन पहले शरीर देने लगता है ये संकेत
पीरियड आने से एक दिन पहले शरीर देने लगता है ये संकेतRaj Express

पीरियड आने से एक दिन पहले शरीर देने लगता है ये संकेत, क्‍या आपने किया है महसूस

पीरियड आने से पहले कुछ महिलाओं को पेट में दर्द और ऐंठन होती है। अगर आपके साथ ऐसा नहीं होता, तो यहां बताए गए अजीब संकेतों पर ध्‍यान दें। यह आपको पीरियड को लेकर सतर्क करेंगे।

हाइलाइट्स :

  • पीरियड क्रैंप पीरियड आने का मुख्‍य संकेत।

  • पीरियड से एक दिन पहले बढ़ जाती है चॉकलेट आइसक्रीम की क्रेविंग।

  • चेहरे पर मुंहासे पीरियड आने का संकेत।

  • पीरियड शुरू होने से पहले होती है थकान।

राज एक्सप्रेस। पीरियड एक नेचुरल प्रोसेस है, जिससे हर महिला को गुजरना पड़ता है। कई महिलाओं के पीरियड नियमित रहते हैं, जबकि कुछ में स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के कारण पीरियड्स में अनियमितता बनी रहती है। जिससे ये महिलाएं कभी श्‍योर नहीं हो पातीं, कि आखिर उनका पीरियड आएगा कब। वैसे तो पीरियड आने से कुछ दिनों पहले ज्‍यादातर महिलाएं पीरियड क्रैम्प का अनुभव करती हैं। यह संकेत होता है कि पीरियड जल्‍द ही आने वाला है। लेकिन कुछ महिलाओं को पीरियड क्रैंप के बिना ही पीरियड शुरू हो जाते हैं, जिसके लिए वे प्रिपेयर नहीं होती और इस स्थिति के दौरान कई समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है। अगर आपको भी बिना किसी दर्द या ऐंठन के पीरियड आता है, तो यहां हम कुछ और संकेतों के बारे में बता रहे हैं, जो बताते हैं कि आपका पीरियड आने वाला है।

कार्ब्‍स की क्रेविंग होना

अगर आपको चॉकलेट, आइसक्रीम या चिप्‍स खाने की बहुत ज्‍यादा इच्‍छा हो, तो समझ लें कि पीरियड अगले दिन आने वाला है। कुछ रिसर्च से पता चलता है कि पीरियड से ठीक पहले शरीर में सेरोटोनिन में गिरावट होती है, जिससे हमारा मूड प्रभावित होता है। सेरोटोनिन को फिर से बढ़ाने के लिए, ऐसे कार्ब्स की जरूरत होती है जिन्हें जल्दी से ग्लूकोज में बदला जा सके। इसलिए इन दिनों हमारा शरीर कार्ब की डिमांड करने लगता है।

चेहरे पर मुंहासे आना

अगर आपको अपनी स्किन में जरा सा भी बदलाव दिखे, तो यह इस बात का संकेत है कि आपका पीरियड आने वाला है। कई लोगों को पीरियड आने से एक सप्‍ताह या एक दो दिन पहले चेहरे पर मुंहासे उभर आते हैं, जो पीरियड खत्म होने तक रहते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हार्मोन में गिरावट के कारण ग्लैंड तैलीय पदार्थ का उत्पादन करती हैं, जिससे पोर्स बंद हो जाते हैं और मुंहासे दिखने लगते हैं। जब आपकी पीरियड डेट नजदीक हो, तो स्‍वस्थ आहार लेने और खूब पानी पीने से ब्रेकआउट को कम करने में मदद मिल सकती है।

मूड में बदलाव

पीरियड डेट के आसपास मूड में बदलाव नजर आने लगे, तो इसका मतलब है कि आपका पीरियड आने वाला है। दरअसल, पीरियड शुरू होने के ठीक पहले एस्‍ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन की मात्रा काफी कम हो जाती है। जिससे मूड स्विंग होता है। इस समय आपको अपने व्‍यवहार में चिड़चिड़ापन, उदासी, नीरसता दिखाई देने लगेगी। अगर ऐसा है, तो आपको पीरियड के लिए प्रिपेयर हो जाना चाहिए।

थकान होना

पीरियड की डेट से पहले अगर आपको बिना ज्‍यादा काम किए ही थकावट महसूस होती है, तो यह पीरियड आने का संकेत है। बता दें कि मेंस्ट्रुअल साइकिल के दौरान एनर्जी लेवल में बदलाव होता रहता है। हाई एस्ट्रोजन लेवल के कारण ओव्‍यूलेशन से ठीक पहले एनर्जी लेवल बहुत ज्‍यादा होता है। लेकिन जब ओव्यूलेशन के बाद एस्ट्रोजन कम हो जाता है, तो प्रोजेस्टेरोन बढ़ जाता है, जिससे नींद के साथ आराम भी मिलता है। जैसे ही आपकी साइकिल के अंत में दोनों हार्मोन कम हो जाते हैं, तो थकान शुरू हो जाती है।

स्‍तनाें में परिवर्तन

कई स्‍टडीज से पता चला है कि मेंस्ट्रुअल साइकिल के दौरान ब्रेस्‍ट हार्मोन बदलाव के प्रति संवेदनशील होते हैं। जब ओव्यूलेशन से पहले एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ता है, तो ब्रेस्‍ट डक्‍ट बढ़ जाती हैं और ओव्यूलेशन के बाद प्रोजेस्टेरोन का स्तर बढ़ता है, तो ब्रेस्ट लोब्यूल बढ़ जाते हैं। अगर आपको ऐसे लक्षण महसूस होते हैं, तो समझ जाइए कि पीरियड अगले दिन आना वाला है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co