वजन घटाना चाहते हैं, तो रोजाना खाएं जौ का डोसा
वजन घटाना चाहते हैं, तो रोजाना खाएं जौ का डोसाRaj Express

वजन घटाना चाहते हैं, तो रोजाना खाएं जौ का डोसा, जानिए रेसिपी

जौ का डोसा वेटलॉस में बहुत फायदेमंद है। इसके रोजाना सेवन से कोलेस्‍ट्रॉल और डायबिटीज जैसी बीमारियों को भी कम करने में मदद मिलती है। एक्‍सपर्ट से जानते हैं इसकी रेसिपी।

हाइलाइट्स :

  • वजन घटाने में फायदेमंद है जौ।

  • जौ के सेवन से मिलता है भरपूर पोषण।

  • कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाता है जौ का डोसा।

  • डायबिटीज कंट्रोल करता है जौ से बना डोसा।

राज एक्सप्रेस। बिजी शेड्यूल के साथ मोटापा कम करना काफी मुश्किल होता है। क्‍योंकि वर्किंग डेज में लोगों को काम से फुर्सत नहीं होती, इसलिए कई लोग चाहकर भी एक्‍सरसाइज या जिमिंग नहीं कर पाते। जैसे-तैसे टाइम निकाल भी लिया, तो इसे रैगुलर रखने में दिक्‍कत आती है, जिससे वेटलॉस जर्नी प्रभावित होती है। अगर आप भी बिना एक्‍सरसाइज और डाइटिंग के मोटापा कम करना चाहते हैं, वो भी स्‍वस्‍थ तरीके से, तो बार्ले डोसा यानी जौ का डाेसा अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। बता दें कि जौ में विटामिन बी, ,आयरन, कैल्शियम, सेलेनियम और मैग्‍नीशियम जैसे जरूरी पोषक तत्‍व होते हैं। इसके अलावा जौ फाइटोकेमिकल्स और एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर है। अगर आप सर्दी के दिनों में रोजाना जौ का डोसा बनाकर खाएं, तो वेटलॉस के साथ ही कोलेस्‍ट्रॉल और डायबिटीज को कंट्रोल करने जैसे फायदे मिल जाएंगे। न्‍यूट्रिशनिस्‍ट जूही कपूर ने जौ के डोसे की एक रेसिपी शेयर की है। जानते हैं वेटलॉस में कैसे फायदेमंद है जौ का डोसा।

क्‍या होते हैं जौ के फायदे

जूही कपूर के अनुसार, जौ में बीटा ग्लूकेन होता है। यह एक ऐसा फाइबर है, जो कोलेस्‍ट्रॉल के साथ बाइंड करके इसे बाहर निकाल फेंकता है। साथ ही एक्‍स्‍ट्रा फाइबर होने की वजह से जब हम फाइबर खाते हैं, तो धीरे-धीरे बॉडी से ग्‍लूकोज रिलीज होता है। स्‍लो ग्‍लूकोज रिलीज की मदद से डायबिटीज भी बड़ी आसानी से कंट्रोल हो जाती है।

जौ का डोसा खाने के लाभ

न्यूट्रिशनिस्ट बताती हैं कि जौ में मौजूद सॉल्‍यूबल फाइबर और बीटा-ग्लूकेन्स ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसके सेवन से फाइबर पाचन तंत्र में एक जेल जैसा पदार्थ बनाता है जिससे ग्लूकोज का एब्जॉर्बशन धीमा हो जाता है, जो ब्‍लड शुगर लेवल को बढ़ने नहीं देता। इसलिए डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए जौ का डोसा बहुत फायदेमंद साबित होता है।

जौ में पाए जाने वाले बीटा-ग्लूकेन एलडीएल कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करता है। बता दें कि एलडीएल कोलेस्ट्रॉल एक तरह का बैड कोलेस्ट्रॉल है। अगर ब्‍लड स्ट्रीम में इसका लेवल बढ़ जाए, तो यह हृदय रोग के लिए खतरा पैदा करता है।

कैसे बनाएं जौ का डोसा

सामग्री

  • 1 कप- जौ

  • आधा कप- उड़द दाल

  • आधा कप- इडली राइस

  • 1 चम्‍मच- मेथी के बीज

बनाने की विधि

ऊपर बताई गई सभी सामग्री को रातभर पानी में भिगोकर रख दें। कम से कम 10 घंटे के लिए फर्मेंट होने के लिए रखें। जब घोल अच्‍छे से फर्मेंट हो जाए, तब आप इससे क्रिस्‍पी, टेस्‍टी और हेल्‍दी डोसे बना सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co