चढ़ाई तो कर ली, ढलान से उतरते वक्‍त मांसपेशियों में हो रहा है दर्द, तो करें ये उपाय

खराब और उबड़ खाबड़ रास्‍ते अक्‍सर मसल्‍स में टेंशन देते हैं, जिससे दर्द होने लगता है। इस स्थिति को DOMS कहते हैं। लंबी चढ़ाई के बाद नीचे उतरते वक्‍त पैरों में दर्द होता है, तो यहां बताए गए उपाय आजमाएं।
मांसपेशियों में दर्द
मांसपेशियों में दर्दRaj Express
Submitted By:

हाइलाइट्स :

  • लंबी चढ़ाई चढ़ने पर होती है मसल सोरनेस की समस्‍या।

  • खराब तरीके से पैदल यात्रा करना है इसकी वजह।

  • प्रोटीन का सेवन बढ़ाएं।

  • ब्रेक लगाकर ना चलें।

राज एक्सप्रेस। कई लोगों को पहाड़ों पर चढ़ाई करना बहुत पसंद होता है। ऊबड़ खाबड़ रास्‍तों को पार करके मंजिल तक पहुंचने का आनंद लेना चाहते हैं। आपने भी देखा होगा कि लोग अब तीर्थस्‍थलों पर भी हेलीकॉप्टर या पिठठू का सहारा लेने के बजाय पैदल चलकर जाना पसंद करते हैं। चढ़ाई तो एक बार को आसान होती है, लेकिन समस्‍या तब आती है तब ढलान से नीचे उतरते हैं। इस दौरान पिंडलियों और जांघों की मांसपेशियों में दर्द होने लगता है। बता दें कि इस स्थिति को डिलेड ऑसेट मसल सोरनेस (DOMS) कहा जाता है। जिसका सामना पैदल यात्रियों को करना पड़ता है। अगर आप भी किसी जगह पर लंबी पैदल यात्रा के दौरान मांसपेशियों में दर्द महसूस करते हैं, तो यहां इससे राहत पाने के लिए तरीके बताए गए हैं।

क्‍यों होता है मांसपेशियों में दर्द

हावर्ड मेडिकल स्‍कूल के अनुसार, ढलान या पहाड़ पर चढ़ने से घुटनों पर दो से तीन गुना ज्‍यादा दबाव पड़ता है। यह मांसपेशियों और घुटनों में दर्द का मुख्‍य कारण है। यह समस्या ज्‍यादातर लंबी पैदल यात्रा के खराब तरीकों, खराब जूते-चप्‍पलों और ज्‍यादा वजन उठाने के कारण होती है।

मांसपेशियों में दर्द को कम करने के तरीके

प्रोटीन का सेवन बढ़ाएं

अगर आपको पता है कि आप किसी ऊंची जगह की चढ़ाई करने जा रहे हैं, तो प्रोटीन का सेवन बढ़ा लें। यह मांसपेशियों के विकास में मदद करता है और मसल को रिपेयर करने में इसकी अहम भूमिका होती है। इसलिए यात्रा से पहले और यात्रा के दौरान अपने आहार में अंडा, पनीर, नट्स और दालों को शामिल कर सकते हैं। इससे शरीर की मांसपेशियां मजबूत रहेंगी।

हाइड्रेटेड रहें

लंबी और ऊंची जगहों पर पैदल यात्रा करके आप डिहाइड्रेट हो सकते हैं। खासतौर से तक जब आप बीच बीच में कैफीन का सेवन करें। इससे मांसपेशी में और घुटनों में दर्द बढ़ सकता है। इसलिए यात्रा के दौरान अच्‍छी मात्रा में पानी पीते रहें।

ब्रेक लगाकर ना चलें

जब आप घाटी या सीढ़ियों से उतर रहे हों, तो पैरों से ब्रेक लगाकर उतरने की कोशिश ना करें। ऐसा करने से घुटनों में झटका लगने की संभावना रहती है।

मैग्नीशियम का सेवन बढ़ाएं

मैग्नीशियम मांसपेशियों के दर्द से राहत दिलाने के लिए बहुत अच्छा विकल्‍प है। इसमें ऐंठन को रोकने और तनाव को कम करने के गुण होते हैं। मांसपेशियों के दर्द को कम करने के लिए मैग्‍नीशियश्‍म का पाउडर या कैप्सूल लिया जा सकता है।

डंडों का उपयोग करें

जर्नल ऑफ स्‍पोर्ट सांइसेस के अनुसार, चढ़ाई पर चढ़ने के लिए डंडों या किसी चीज का सपोर्ट जरूरी है। ये चीजें चोट के जोखिम को 25 फीसदी कम कर देती हैं।

स्‍ट्रेचिंग करें

लंबी चढ़ाई से पहले वॉर्मअप और उतरने के बाद स्‍ट्रेचिंग जरूर करनी चाहिए। इससे मसल्‍स टेशन रिलीज होती है और दर्द भी नहीं होता।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co