क्या है लंपी स्किन डिजीज
क्या है लंपी स्किन डिजीजNaval Patel - RE

क्या है लंपी स्किन डिजीज? जानिए इसके लक्षण और बचाव

लंपी वायरस के कारण मवेशियों के शरीर पर गांठदार दाने आ जाते हैं। जो एक जानवर से दूसरे जानवर में फैलता है। कई मामलों में तो यह सक्रमण इतना अधिक फ़ैल जाता है कि जानवर की मौत भी हो जाती है।

राज एक्सप्रेस। बीते कुछ दिनों में देश में लंपी वायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है। इस वायरस का असर देश के लगभग हर राज्य में देखने को मिल रहा है। आज देशभर में लाखों मवेशी इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से कईयों की हालत बेहद ख़राब है तो कईयों की मौत भी हो चुकी है। इस वायरस को रोकने के लिए सरकार कई जरुरी कदम भी उठा रही है। वहीं जानकारों की माने तो अब तक वायरस के लिए एंटीडोज तैयार नहीं हो पाया है। चलिए आपको बताते हैं कि लंपी वायरस क्या है? और इसके लक्षण और बचाव क्या हैं?

क्या है लंपी वायरस?

लंपी वायरस के अंतर्गत मवेशियों के शरीर पर दाने आ जाते हैं। इस डिजीज को गांठदार त्वचा रोग वायरस के रूप में भी जाना जाता है। लंपी वायरस ऐसा रोग है जो एक जानवर से दूसरे जानवर में फैलता है। यानि अगर संक्रमित मवेशी दूसरे मवेशी के सम्पर्क में आ जाए तो उसे भी संक्रमित कर देगा। इस रोग का कारण Capri Poxvirus नामक वायरस बताया जा रहा है, और यह रोग मच्छर और खून चूसने वाले कीड़ों से फैलती है।

लंपी वायरस के लक्षण :

इस रोग से संक्रमित होने पर मवेशियों में बुखार, वजन में कमी, आँखों से पानी, लार आना, शरीर पर दाने आना, दूध कम हो जाना, भूख ना लगना आदि लक्षण देखे गए हैं।

लंपी वायरस से बचाव :

संक्रमित मवेशी को दूसरे मवेशी से दूर रखना जरुरी है। इसके अलावा मच्छरों को इनके पास से भगाने के लिए स्प्रे करते रहें। संक्रमित मवेशियों को गोट पॉक्स वैक्सीन भी लगवाएं, और डॉक्टर की सलाह पर दवाई भी दें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co