महिलाओं को डाइट में शामिल करनी चाहिए रागी
महिलाओं को डाइट में शामिल करनी चाहिए रागीRaj Express

महिलाओं को डाइट में शामिल करनी चाहिए रागी, सद्गुरु ने बताए इसके फायदे

रागी के सेवन से महिलाएं कई बीमारियों से उभर सकती हैं। सद्गुरु के अनुसार, रागी सबसे ज्‍यादा फीमेल फ्रेंडली अनाज है। हर महिला को इसे अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए।

हाइलाइट्स :

  • सद्गुरु के अनुसार, महिलाओं का सुपरफूड है रागी।

  • यह अनाज कैल्शियम और आयरन से भरपूर है।

  • रागी एनीमिया को ठीक करने में मदद करता है।

  • रागी में एजिंग के लक्षणों को कम करने की क्षमता है।

राज एक्सप्रेस। अच्‍छी सेहत के लिए हम गेहूं खाना पसंद करते हैं। हमें लगता है कि ये कई बीमारियों से लड़ सकता है। जबकि ऐसा नहीं है। अगर आप बीमारियों से दूर रहना चाहते हैं, तो भारत देश की धरती पर उगने वाले अनाज मक्‍का, ज्‍वार, बाजरा, रागी बहुत स्‍वास्‍थ्‍यवर्द्धक हैं। आज हम बात करते हैं रागी की। रागी भारतीय द्वारा खाया जाने वाला मोटा अनाज है। इसमें आयरन, एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, अमीनो एसिड और कैल्शियम बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। यह खासतौर से महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है। सद्गुरु ने इंस्‍टाग्राम रील में बताया है कि रागी पोषक तत्‍वों से भरपूर और फीमेल फ्रेंडली अनाज है। यह महिलाओं के लिए बहुत अच्‍छा है। इसमें सभी अनाजों की तुलना में कैल्शियम और आयरन ज्‍यादा होता है। दुनियाभर की महिलाओं में खून की कमी एक बड़ी समस्या है। ऐसे में एनीमिया से उभरने से लेकर एंटी एजिंग तक रागी बहुत लाभकारी है। तो आइए जानते हैं महिलाओं के लिए रागी के फायदों के बारे में।

हड्डियों के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार करे

सद्गुरु के मुताबिक, महिलाओं में हड्डियां कमजोर होना एक बड़ी समस्या है। ऐसे में रागी जबरदस्‍त फायदा पहुंचा सकती है। रागी में जितना कैल्शियम होता है, किसी अनाज में नहीं होता। 100 ग्राम रागी में 344 मिग्रा कैल्शियम होता है। इसके सेवन से महिलाओं में हड्डियों का घनत्‍व बढ़ता है। साथ ही इसमें फास्‍फोरस भी अच्‍छी मात्रा में होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। सुबह के नाश्‍ते में अगर रागी का दलिया बनाकर खाया जाए, तो वीक बोन्‍स और ऑस्टियोपोरोसिस की समस्‍या कभी नहीं होती।

एनीमिया को करे दूर

एनीमिया महिलाओं में होने वाली आम समस्‍या है। और रागी को तो आयरन का पॉवरहाउस कहा जाता है। रागी को अगर अंकुरित करके खाया जाए, तो भरपूर मात्रा में विटामिन सी मिलता है। जिससे हीमोग्लोबिन लेवल में वृद्धि होती है। नियमित रूप से रागी का सेवन करके कोई भी महिला घर में रहकर ही एनीमिया जैसी स्थिति से बाहर आ सकती है।

मिलता है भरपूर पोषण

यह सच है कि पुरूषों के मुकाबले महिलाओं को ठीक से पोषण नहीं मिल पाता। जिससे वह हर वक्‍त कमजोरी और थकान महसूस करती हैं। ऐसे में उन्‍हें दवा के बजाय रागी खाने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि रागी में एलुसिनियन प्रोटीन होता है, जो महिलाओं में पोषण की कमी नहीं होने देता।

एजिंग के लक्षणों को कम करे

बता दें कि रागी एक एंटी एजिंग मिलेट है। जो महिलाएं त्‍वचा की उम्र बढ़ने से रोकना चाहती हैं, उनके लिए रागी बहुत फायदेमंद है। इसके सेवन से चेहरे पर झुर्रियां, झाइयां, डार्क स्‍पॉट और फाइन लाइन्‍स उम्र से पहले नजर नहीं आती। दरअसल, इसमें मेथिओनिन और लाइसिन जैसे अमीनो एसिड होते हैं, जो आपको बढ़ती उम्र में भी जवान दिखाते हैं। वहीं रागी में पाया जाने वाला विटामिन ई त्‍वचा को हेल्दी और ग्लोइंग बनाता है।

मूड बूस्‍टर है रागी

मूड को बूस्‍ट करने और खुश रहने के लिए आप रागी खा सकते हैं। पुरुषों की तुलना में महिलाओं में स्‍ट्रेस लेवल बहुत ज्यादा होता है। ऐसे में किसी भी रूप में इसका सेवन करने से चिंता और तनाव को दूर करने में मदद मिलती है।

वजन घटाए

वजन घटाने को लेकर महिलाएं इंटरनेट पर कई रेसिपीज सर्च करती हैं। ऐसे में रागी का चीला, रोटी, रागी के ढ़ोकले वेटलॉस की बेहतरीन रेसिपी हैं। दरअसल, रागी में फाइबर पाया जाता है, वहीं इसमें भूख कम करने वाला अमीनो एसिड ट्रिप्‍टोफैन होता है, जो तेजी से वजन कम करने में आपकी हेल्प करता है। रागी खाने से पेट लंबे समय तक भरा रहेगा, जिससे आपको भूख नहीं लगेगी और वजन भी कंट्रोल में रहेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co