World Vegan Day
World Vegan DaySocial Media

World Vegan Day : वेजिटेरियन और वीगन में क्या है अंतर, जानिए वीगन डाईट के फायदे

साल 2018 में सामने आई एक रिपोर्ट के अनुसार वीगन डाइट अपनाने और स्वस्थ जीवनशैली का पालन करने से 40% कैंसर के मामलों को रोका जा सकता है।

राज एक्सप्रेस। 1 नवंबर को दुनियाभर में वर्ल्ड वीगन डे मनाया जाता है। इस दिन दुनियाभर में मौजूद शाकाहारी लोग अन्य लोगों को भी शाकाहारी जीवनशैली अपनाने के लिए जागरूक और प्रेरित करते हैं। इस दिन लोगों को शाकाहारी जीवन जीने के फायदे गिनाएं जाते हैं। इसके जरिए पर्यावरण बचाने की मुहीम चलाई जा रही है। वैसे बीते कुछ सालों में कई लोगों ने मांसाहार छोड़कर शाकाहारी जीवनशैली को अपनाया है। कई मशहूर कलाकारों ने भी लोगों से वीगन डाइट फॉलो करने की अपील की है।

वर्ल्ड वीगन डे का इतिहास :

साल 1944 में पहली बार वीगन सोसायटी बनाई गई थी। इसकी 50वीं वर्षगांठ पर यूनाइटेड किंगडम में वीगन सोसायटी के अध्यक्ष ने इसे यादगार बनाने और लोगों में शाकाहारी आहार को बढ़ावा देने के लिए वर्ल्ड वीगन डे मनाने का संकल्प लिया था। इसके लिए 1 नवंबर के दिन को चुना गया था। तभी से हर साल 1 नवंबर को वर्ल्ड वीगन डे मनाया जाता है।

वीगन और वेजिटेरियन में क्या अंतर है :

दरअसल वीगन शब्द ही वेजिटेरियन शब्द से लिया गया है, लेकिन दोनों के बीच थोड़ा अंतर हैं। दरअसल वीगन डाईट में सिर्फ पेड़-पौधों से मिलने वाले फूड शामिल होते हैं, जबकि वेजिटेरियन डाईट में पेड़-पौधों से मिलने वाले फूड के अलावा जानवरों से मिलने वाले फ़ूड जैसे दूध, दही, पनीर, अंडा भी शामिल होता है। यानी वीगन में डेयरी उत्पाद को शामिल नहीं किया गया है।

वीगन डाइट से होने वाले फायदे :

  • वीगन डाइट का मतलब पूरी तरह से शाकाहारी होने से है। इस डाईट से बॉडी को कैलोरी, फाइबर और प्रोटीन तो मिलता है लेकिन फैट जमा नहीं होता। ऐसे में वजन घटाने में वीगन डाइट बहुत फायदेमंद होती है।

  • साल 2018 में सामने आई एक रिपोर्ट के अनुसार वीगन डाइट अपनाने और स्वस्थ जीवनशैली का पालन करने से 40% कैंसर के मामलों को रोका जा सकता है।

  • वीगन डाइट में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन और मिनरल्स होते हैं। इससे हमें थकावट नहीं होती है और शरीर में एनर्जी बनी रहती है।

  • ऑक्सीडेंट्स और ओमेगा 3 के चलते वीगन डाइट डिप्रेशन और एंग्जायटी की समस्या दूर करने में भी कारगार है।

  • वीगन डाइट में ब्लड शुगर बढ़ाने वाले पदार्थ शामिल नहीं होते हैं। ऐसे में वीगन डाइट अपनाने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co