अक्षय तृतीया पर सामूहिक विवाह टले
अक्षय तृतीया पर सामूहिक विवाह टले|Social Media
मैडिटेशन एंड स्पिरिचुअलिटी

अक्षय तृतीया पर सामूहिक विवाह टले

कोरोना वायरस का संक्रमण शहर में लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में 1 महीने से चल रहे खरमास के समाप्त होने पर भी 13 अप्रैल से खुल रहे विवाह मुहूर्तो में भी शहनाइयां नहीं बजेंगी।

Krishna Sharma

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस का संक्रमण शहर में लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में 1 महीने से चल रहे खरमास के समाप्त होने पर भी 13 अप्रैल से खुल रहे विवाह मुहूर्तो में भी शहनाइयां नहीं बजेंगी। इस बार 26 अप्रैल को अक्षय तृतीया के मुहूर्त पर होने वाले सामूहिक विवाह समारोह भी टाल दिए गए हैं। सामूहिक आयोजनों पर रोक के कारण मंदिरों में भी सात फेरे नहीं हो सकेंगे।

गौरतलब है कि, केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए 3 महीने की रणनीति बनाई है। जून तक वायरस पर काबू पाने के लिए सिस्टम को लगाया है। इसलिए जून तक किसी भी आयोजन के लिए अनुमति मिलना मुश्किल बताया जा रहा है।

पंडित जगदीश शर्मा ने बताया:

पंडित जगदीश शर्मा ने बताया कि, 14 मार्च से 13 अप्रैल तक खरमास रहेगा, 13 अप्रैल से खुलने वाले विवाह मुहूर्तो में 11 दिसंबर तक कुल 39 शुभ तिथियां हैं, जिनमें 14 से 27 अप्रैल तक 6 दिन 26 अप्रैल को अक्षय तृतीया मई में 16 दिन जून में 8 दिन शुभ मुहूर्त हैं, इसके बाद 1 जुलाई से 25 नवंबर तक चातुर्मास में शादियां बंद रहेंगी। नवंबर में मात्र 2 दिन और दिसंबर में 7 दिन सूक्तियां हैं। अप्रैल से जुलाई तक 30 सूक्तियां हैं। इस दौरान भी महामारी के चलते शादियां होना संभव नहीं है यही वजह है कि, नवंबर तक यानी 8 महीने विवाह के लिए इंतजार करना पड़ सकता है।

कोरोना वायरस के चलते विवाह सम्मेलन को लेकर आयोजक मुश्किल में फंस गए हैं। सामाजिक समितियों को टालने पड़े सामूहिक विवाह पूरे विश्व में जिस तरह से कोरोनावायरस का संक्रमण जारी है। राजधानी भोपाल में भी लगातार कोरोना का कहर जारी है।

शहर में कई सामाजिक संस्थाएं हैं, जो सामूहिक विवाह सम्मेलन कराती हैं, जिनकी तैयारियां भी चल रही हैं, लेकिन सूत्र बताते हैं कि, तैयारियों को लेकर समिति गठित की थी, जो पिछले 2 माह से कार्य कर रही है, लेकिन अब अक्षय तृतीया पर होने वाला सम्मेलन लगभग टाल दिया गया है।

श्री देवी मां वैष्णव जन कल्याण समिति के अध्यक्ष विनोद पलिया ने बताया कि, वर्ष 2006 से प्रतिवर्ष अक्षय तृतीया पर सामूहिक सम्मेलन हो रहे हैं, इस वर्ष भी तैयारियां थी, लेकिन वायरस के चलते संस्था अक्षय तृतीया पर आयोजन नहीं करेगी। इस प्रकार अन्य समाजों ने भी विवाह सम्मेलन नहीं करने का निर्णय किया है।

वहीं ब्राह्मण समाज के रामबाबू शर्मा ने बताया कि, अक्षय तृतीया पर होने वाले आयोजन को स्थगित कर दिया गया है, जो भी आदेश प्रशासन के होंगे वह पूरी तरह से पालन किए जाएंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co