वार्षिक राशिफल 2023
वार्षिक राशिफल 2023Raj Express

वार्षिक राशिफल 2023 : विश्व के भौगोलिक कैनवास में महायुद्ध की संभावना

विश्व के अधिकांश राष्ट्रों का अर्थतंत्र, मानव बेकारी, लूटपाट से त्रस्त रहेगा, जो सत्ताधीशों के लिए भी अपशकुन देने वाला रहेगा। अमेरिका का खलनायक वाला भ्रम भी टूटेगा।

राज एक्सप्रेस। इस वर्ष का राजा बुध, मंत्री दैत्य गुरु शुक्राचार्य है। वर्ष का राजा बुध न्याय के देव शनि से दृश्य है। अस्तु यह आतंकवादी ताकतों का विश्व के अधिकांश भू-भाग पर कुप्रभाव पड़ेगा। अंतर्राष्ट्रीय सीमाएं सैन्य संघर्ष के कारण रक्तरंजित होती रहेंगी। विश्व के अधिकांश राष्ट्रों का अर्थतंत्र, मानव बेकारी, लूटपाट से त्रस्त रहेगा, जो सत्ताधीशों के लिए भी अपशकुन देने वाला रहेगा। अमेरिका का खलनायक वाला भ्रम भी टूटेगा। प्राकृतिक प्रकोप यथा भूकंप, भयानक विस्फोट और अग्निकांडों की बहुल्यता के साथ जलप्रलय (सुनामी) अमेरिका, एशिया, यूरोप, अफ्रीका सरीखे महाद्वीपों में विनाश लीला का तांडव तथा जनाक्रोश प्रलयकारी सिद्ध हो सकता है। व्यापार में गिरावट, मंदी की विस्फोटक स्थिति के साथ आर्थिक विनाशलीला तथा अनजानी बीमारियों से जनजीवन बेचैन हो उठेगा। इस वर्ष में दो श्रावण (अधिमास) दुर्भिक्ष तथा सत्ताधीशों की क्रूरता की विनाशलीला हो सकती है। विश्व युद्ध के योग तो नहीं दिख रहे किन्तु महायुद्ध की संभावना से बिलखती मानवता त्राहि-त्राहि कर उठेगी।

मेष : मानसिक कष्ट में आत्मबल बढ़ाएं

यह वर्ष मेष राशि वालों को मिश्रित फल देगा। मानसिक कष्ट के कुयोग बनें तो आत्मबल बढ़ाएं। मेष राशि वाली महिलाओं को संयम से काम लेना चाहिए। संतान सुख, संतान की उन्नति के सुअवसर, परिवार में मांगलिक कार्य, युवा बेरोजगारों को सेवा क्षेत्र में प्रवेश के अवसर प्राप्त होंगे। सेवा क्षेत्र से जुड़े व्यक्तियों के 17 जनवरी 2023 से 17 जून 2023 के मध्य स्थानांतर के अथवा पदोन्नति के सुयोग घटित हो सकते हैं। स्वस्थ के प्रति सजग रहें अन्यथा, लीवर एवं आंखों संबंधी बीमारी से ग्रसित हो सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं से व्यक्ति समर्पित भाव से कर्म करने पर सफलताओं का लुत्फ उठा सकेंगे। यामा में सावधानी! विवाह योग युवा वर्ग दांपत्य जीवन में प्रवेश कर सकते हैं, यदि ग्रहीय अनुकूल बने। व्यापारी समुदाय के लिए यह वर्ष मंदी का रहेगा, किन्तु दूरदृष्टि से अनुभवजन्य वाणिक कार्य करें तो सफलता सुनिश्चित है। कृषक समाज के लिए कमोवेश यह वर्ष उाम फल देगा। सावधान रहें! आपकी राशि पर राहु विराजमान हैं। संतान पक्ष की चिन्ता और शिक्षा पर भारी खर्च, 22 अप्रैल 2023 के बाद शुभत्व की ओर बढ़ेंगे। इस राशि के जातक राशि से पांचवें घर पर गुरु और शनि की संयुक्त दृष्टि उत्कृष्टता प्रदान करेंगे।

वृषभ : स्वास्थ्य के लिए परामर्श सुखद रहेगा

आपकी राशि अर्थात राशि स्वामी शुक्र आपके परिवार में मांगलिक कार्य, विवाह संस्कार, नवजात शिशु का आगमन दिनांक 17 जनवरी से 18 जून 2023 के मध्य संतान पक्ष से चिंता रहेगी। संभवत: पढ़ाई अथवा स्वस्थ की दृष्टि से इस राशि के जातक इस वर्ष उदर विकार, हृदय रोग, डायबिटीज जैसी बीमारी के चपेट में आ सकते हैं, ग्रहों की अनुकूलता भी स्वस्थ के प्रति चिकित्सक का समय पर परामर्श सुखद रहेगा। खेल जगत से जुड़े जातक अपने परिश्रम राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में नाम और इनाम रूपी धन कमा सकते हैं। व्यापार में आपको परिवार का सहयोग मिलेगा। वृष राशि के जातक शुक्र ग्रह के अधीन होने के कारण जीवनभर भोग-विलास के साथ पद-प्रतिष्ठा तथा संतान के विवाह के सुयोग बनेंगे। इस वर्ष जनवरी से मार्च तक आपके प्रयासों में रुकावट डाल सकते हैं, किन्तु वर्ष का उारार्ध कैरियर निर्माण की दृष्टि से शुभ फलदायक रहेगा। व्यवसायी वर्ग 17 जनवरी 2023 से 15 जुलाई 2023 के मध्य सफलताओं का कीर्तिमान स्थापित कर सकते हैं, यदि वर्गोाम, स्वक्षेत्री अथवा उच्च के ग्रहों की दशा-अंतर्दशा चल रही हो। तीर्थ स्थान की यात्रा, ईश्वरीय कृपा से अनुग्रहीत कर यशस्वी जीवन के पुण्योदय का वर्ष बनेगा।

मिथुन : सफलताओं के नए आयाम बनेंगे

चन्द्रमा आपकी राशि के लिए धन प्रदायक है। शनि आपकी राशि से नवम में, केतु पंचम में, राहु एकादश लाभ भवन में रहने से इस राशि के जातकों के लिए यह वर्ष स्वर्णिम भविष्य लिखने जा रहा है। अपै्रल के मध्य से गुरु आपके कर्म/राज्य भवन में आने से आपको सफलताओं के नए आयाम बनते नजर आएंगे। व्यवसाय के क्षेत्र से जुड़े इस वर्ष बड़े लाभ की उमीद कर सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष शुभ रहेगा, किन्तु स्वास्थ्य के प्रति सजगता ही आपके स्वस्थ रहने की गारंटी है। मिथुन राशि के जातकों को 17 जनवरी 2022 से शनि के अड़ैया से मुक्ति दिलाएगा। न्यायालयीन प्रकरण हों या कहीं आपका धन रूका हो अथवा धन लाभ के नए साधन मिलेंगे। जीवन साथी की पदोन्नति तथा गुरु राशि से दसम में होने के शासकीय-गैर शासकीय क्षेत्रों से प्रबल धन लाभ। इस राशि से जुड़े व्यक्तियों के लिए जो सर्विस क्षेत्र से जुड़े हों, उन्हें पदवृद्धि तथा स्थानांतरण के सुयोग बनेंगे। प्रतियोगी परीक्षा से युवा वर्ग अपना भाग्य आजमा सकता है क्योंकि देव गुरु, वृहस्पति आपकी राशि से दसम भवन में भ्रमण कर रहे होंगे, कर्मवीर बनें, सर्विस के सुयोग संभव हैं। तनाव पूर्ण बातों से सावधान रहें। अनावश्यक खर्च पर नियंत्रण रखें।

कर्क : कार्य क्षेत्र में मिलेगा सम्मान

शनि का अड़ैया आपकी राशि में प्रवेश करेगा, 17 जनवरी 2023 से आप में से कुछ को दूसरी छमाही में पदोन्नति की स्थिति बनेगी। प्रयास करने पर अच्छी जगह पर पदस्थापना के सुयोग घटित हो जाएंगे। परिवार समाज में वरिष्ठजनों के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे। यह वर्ष कर्क राशि वालों को शानदार और सकारात्मक रहने वाला है। राहु की कृपा से इस राशि के जातकों को रोजगार के अवसर करने में सफलता प्राप्त हो सकती है। कर्क राशि का स्थान हृदय में होता है। इसके कारक ग्रह चन्द्र और मंगल माने गए हैं। जल तत्व प्रधान कर्क राशि का स्वामी चन्द्र और शुक्र बाधक है। इसलिए इस राशि जातक अनावश्यक चिन्ता न करें और यथा संभव प्रसन्न रहें। इस वर्ष कार्य क्षेत्र में समान मिलेगा लेकिन उच्चाधिकारी आपको कोई जिमेदारी भरा काम सौंप सकते हैं व्यापार जगत जुड़ा जातक इस वर्ष उन्नति के उस शिखर को छू सकता है, जिसकी उसने कल्पना न की हो। वाहन खरीदने, भूमि-भवन से जुड़े निर्माण कार्यों में लाभ ही लाभ है। नवीन संपाि खरीदने की योजना बनाएं। साझेदारी में काम करने से बचें। लेन-देन के मामलों में सावधानी आपके लिए हितकारी रहेगी। यह वर्ष अचानक लाभ देने वाला रहेगा।

सिंह : रुके कार्य पकड़ेंगे गति

इस वर्ष ग्रह योग मध्यम है। जुलाई से सितंबर 2023 तक का समय अनिश्चय कारक रह सकता है। यदि आप अविवाहित हैं तो 13 मई 2023 के पश्चात आपको दांपत्य सूत्र में बांध सकता है। स्वस्थ के प्रति सावधानी आवश्यक है। रुके कार्य गति पकड़ेंगे, आमदानी के नए मार्ग खुलेंगे। 22 अप्रैल 2023 से आपको अपने कार्य क्षेत्र में सफलता अवश्य मिलेगी। इस साल आप किसी के साथ साझेदारी में कोई नया व्यापार शुरू कर सकते हैं। आप अपनी वर्तमान स्थितियों से थोड़ा निराश अवश्य होंगे, किन्तु वर्ष के उत्रार्ध अर्थात अक्टूबर 2023 से आने वाला समय आपके लिए अत्यंत प्रभावकारी रहेगा। कैरियर से जुड़ा युवा वर्ग की आकांक्षा की पूर्ति होने के संकेत हैं। आपकी प्रतिमा का उचित मूल्यांकन हो सकेगा। सेवारत जातकों के स्थान परिवर्तन अर्थात तबादला होने के संयोग घटित हो सकते हैं। इसी दौरान गुरु के गोचर के प्रभाव से आप अनुकूल बदलाव कर पाने में सफल होंगे। विदेश यात्रा का भी योग बन रहा है। स्वास्थ्य ठीक रहेगा। महत्वपूर्ण कार्यों में संघर्ष बढ़ सकता है। सामाजिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आर्थिक मामलों में यह वर्ष उाम है। पति-पत्नी के मध्य अधिकांशत: सुख सहयोग बना रहेगा। नौकरी पेशा वालों के लिए यह वर्ष उाम रहेगा। शनि सातवें भाव में लौह पाद से स्त्री पक्ष की चिन्ता देता है किन्तु अन्य ग्रह योगों के प्रभाव से परेशानियां दूर होंगी और लाभ मिलेगा। एक से अधिक स्थानों पर संपाि की खरीद बिक्री लाभदायक रहेगी। आप की विाीय संसाधन की योजना सहजरूप से बनती रहेगी। गोचर के अन्य ग्रहों के प्रभाव से इस वर्ष आप अच्छी प्रगति करेंगे।

कन्या : अनावश्यक विवादों से रहें दूर

कन्या राशि के जातकों के लिए 2023 की शुरुआत उनके व्यवसाय और रोजगार के हिसाब से अनुकूल रहेगी। देवगुरु वृहस्पति आपकी राशि से सप्तम भवन में होने से आपको अपनी जीवन साथी का सहयोग मिलता रहेगा और यदि आप अविवाहित हैं और विवाह योग्य हैं तो यह वर्ष आपको दांपत्य जीवन में प्रवेश करा देगा। इस राशि वाले जातकों को यह वर्ष अत्यंत लाभकारी रहेगा। अनावश्यक विवादों से दूर रहें। स्वस्थ संबंधी परेशानियां आपकी परछाई न बन सकें, इसके लिए नियमित व्यायाम, योगा, सकारात्मक सोच ही रामबाण औषधि का काम करेगा। शनि का आपकी राशि से अष्टम भवन में भ्रमण स्वजनों, मित्रों तथा परिवारजनों से कलह, विवाद एवं वैमनस्यता उचित नहीं। शनि का अड़ैया शत्रु बाधक बन कर कार्यों में अवरोध पैदा करेंगे। मानसिक अशान्ति, यात्रा में हानि अथवा परेशानी के योग हैं। राजकीय अथवा कानूनी कार्यों में बाधा, लेन देन के कार्यों में विवाद, नौकरी पेशा से जुड़े जातकों के स्थानान्तरण की संभावना, आकस्मिक खर्च के कारण व्ययभार बढ़ जाएगा। इस वर्ष ग्रह योग मध्यम है। अप्रैल तक गुरु अष्टम भवन में रहेगा, जो पेट और कब्ज की शिकायत देता है। 13 मई 2023 से धन की प्राप्ति के सुयोग बनेंगे। वाद-विवाद से दूर रहना श्रेयस्कर रहेगा। यदाकदा निर्णय लेने में असमंजस्य की स्थिति बनेगी, किन्तु आत्मबल को गिरने न दें। भगवान श्री गणेश जी के बीज मंत्र "ऊँ गं गणपतये नम:" की एक माला जाप प्रतिदिन करें तो अशुभ भी शुभ में बदल जाएगा। परिवार में मांगलिक कार्य प्रथम पूज्य श्री गणेश जी की आराधना शुभ तथा सुखद रहेगी।

तुला :

शनि की अड़ैया से मुक्ति तुला राशि के जातकों के भाग्योदय के लिए यह वर्ष महत्वपूर्ण रहेगा। इस राशि के जातकों के लिए 17 जनवरी 2023 से शनि के अड़ैया से मुक्ति का दिवस होगा। सौभाग्यवर्धक तथा कार्यक्षेत्र में सफलताएं देने वाला रहेगा। स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां आपको परेशान न करें, इसलिए जीवनशैली चुस्त-दुरुस्त बनाये रखें, अनावश्यक विवादों से दूर रहें। सभी पर स्नेहिल दृष्टि बनाये रखें। चेहरे पर मुस्कान, वाणी में माधुर्य आपके स्वास्थ्य का पासपोर्ट बन जाएगा। आपके जीवन में वर्ष के 365 दिन सुखद रहेंगे। 22 अप्रैल 2023 के बाद गुरु का गोचर आपके लिए अधिक अनुकूल रहेगा। पारिवारिक जीवन में आपके रिश्ते-नाते समान देंगे। सेवा क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिए पदोन्नति वेतन में बढ़ोतरी होगी। यदि आप कोई अचल संपत्ती खरीदने या भवन निर्माण की योजना बना रहे हैं तो सुयोग फलदायी रहेंगे। इस राशि से जुड़े जातक यदि वर्ष 2023 के चुनावी समर में उतरने की सोच रहे हों तो किसी योग्य ज्योतिषी से अपनी जन्मकुंडली दिखवा लें। ग्रहीय योग अनुकूल दिखे तो किसी राष्ट्रीय पार्टी के टिकट पर चुनावी शंखनाद करें। अविवाहित जातक दांपत्य जीवन में प्रवेश कर सकते हैं, किन्तु ध्यान रखें आपकी राशि वायु तत्व प्रधान हैं, मेष, सिंह और धनु राशि अग्नि तत्व राशियां हैं। अर्थात अग्नि और वायु से जो कलह पैदा होती है वहां कितने भी गुण मिल जाएं जीवन अशांत ही रहेगा। गृह प्रवेश, जन्मोत्सव, विवाहोत्सव आदि शुभ कार्य आपके परिवार में घटेंगे। अवश्य! यदि आपकी पदोन्नति किसी कारण से रुकी हो, तो पदोन्नत होने के अवसर आपकी तकदीर चमकदार कर दें।

वृश्चिक : भाग्य की देवी रहेगी अनुकूल

इस राशि वाले सावधान रहें, शनि देव जो न्याय के देवता हैं, उनका अड़ैया 17 जनवरी 2023 से आपकी सोच में परिवर्तन ला सकते हैं। अविवाहित युवा वर्ग को दांपत्य सूत्र में बंधने के सुयोग, बेरोजगारी से जूझ रहा युवा समुदाय के अच्छे दिन आने की संभावना से कोई इंकार नहीं कर सकता। पद कोई भी मिले, सरकारी या अर्ध सरकारी अथवा गैर सरकारी उसे स्वीकार करें। भाग्य की देवी अनुकूल रहेगी। राशि से चतुर्थ भवन सुख भवन, आनंदित तो कर ही देगा। वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष उपहार लेकर आया है। कार्य एवं व्यवसाय की दृष्टि से यह वर्ष मध्यम रहेगा। अनावश्यक व्यय, कर्जदार बनाकर चिन्तातुर कर सकता है। गुप्त शत्रु परेशान करने का प्रयास करते नजर आएंगे, किन्तु चिन्तित न हो, न्याय के देव शनि देव का विधि-विधान से पूजन, नीलम रत्न जड़ित अंगूठी धारण करें। शत्रुर्हता योग, निर्भय बना देगा। नए-नए मित्र बनेंगे। स्मरण रहे शनि का अड़ैया स्वर्णवाद से आ रहा है, गोचर के ग्रह योग संघर्षों के बाद सफलता की इबारत ऐसी लिखेंगे कि आप अचंभित रह जाएंगे। यदि आयत-निर्यात से जुड़ा किसी व्यवसाय का ऑफर मिले तो स्वीकार करें, किन्तु छानबीन करके। मंगल इस राशि का स्वामी ग्रह है, भूमि-भवन से संबंधित व्यवसाय भी फलदायी रहेगा।

धनु : शनि की क्रोधाग्नि से मिलेगी मुक्ति

धनु राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष स्वर्णिम अवसर लेकर आया है। शनि की क्रोधाग्नि से झूलसे अनेक जातकों को शनि की साढ़े-साती से मुक्ति मिलेगी। अपने कर्म क्षेत्र में अनुपम सुख, लाभ, समान की वृद्धि के सुयोग समय-समय पर दृष्टिगोचर होते रहेंगे। वर्षों से लंबित प्रकरण चाहे वे न्यायालयीन हो अथवा प्रशासनिक, व्यापारिक या बैंकिंग से जुड़े मामले सुलझ जाएंगे। सामाजिक रूप से प्रतिष्ठा बढ़ेगी। स्वस्थ की दृष्टि से यह वर्ष औसत ही रहेगा। अनावश्यक चिन्ताएं स्वास्थ्य को खराब कर सकती हैं। जीवनशैली को व्यवस्थित रखें। किसी प्रतियोगी परीक्षा में समिलित होने पर यदि आपने समर्पित भाव अध्ययन-मनन कर परीक्षा दी हो, तो सफलता के अवसर शत-प्रतिशत मिल सकते हैं। विदेश यात्रा योग बन रहे हैं, फिर चाहे उच्च अध्ययन, व्यापार अथवा पर्यटन की दृष्टि से हो। भाग्य के साथ प्रयास भी आवश्यक है। पुण्य कमाने के लिये तीर्थ यात्रा भी आनंदमयी संतुष्टी प्रदान करेगी। जनवरी से मई 2023 के मध्य नौकरी में पदोन्नति, स्थानांतर के योग घटित हो सकते हैं। ध्यान योग से जुड़े जातक अनवरत योगा की सुखद अनुभूतियों का अहसास करते हुए स्वास्थ्यमय जीवन जिएं।

मकर : सतर्क होकर लें निर्णय

इस राशि के जातकों को शनि की साढ़े-साती का अंतिम चरण 17/01/2023 से प्रारंभ होगा। सामान्यत: शनि की साढ़े-साती का नियम है तीन चरणों में से किसी एक चरण में अत्याधिक लाभ देता है। जिन जातकों की कुंडली में शनि वर्गोाम, उच्च राशि, स्वक्षेत्री होगा वह गत वर्षों की तुलना में शुभ फलदायी रहेगा। इस वर्ष शनि की साढ़े-साती का प्रभाव पैर पर स्वर्ण पाद से रहेगा, जिससे असावधानी की स्थिति हानि और यदि आप सावधान तथा सतर्क होकर निर्णय लेते हैं, तो लाभ ही लाभ है। अनावश्यक विवाद, वाहन चालन में सावधानी के अभाव शारीरिक पीड़ा कष्टकारी रह सकती है। अन्य ग्रहों के प्रभाव से व्यावसायिक क्षेत्र में सफलता मिलेगी। यह वर्ष कई दृष्टियों से भाग्योदय कारक रहेगा। यदि आप सेवाक्षेत्र से जुड़े हैं तो पदोन्नति के सुयोग बन सकते हैं। खेल जगत से जुड़ा युवावर्ग क्रीड़ा क्षेत्र में अपनी प्रतिभा से सफलताओं का राज सूर्य यज्ञ करा सकता है। फिर खेल का क्षेत्र राष्ट्रीय स्तर का हो अथवा अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र आप अपनी जीवंता से राष्ट्र का गौरव बढ़ा सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता की चमत्कारी संभावना के सुयोग ग्रहीय गोचर से बनते नजर आ रहे हैं, किन्तु संकल्पित अध्ययन मनन ही आपके भाल पर सफलता का तिलक लगा सकता है।

कुंभ : संपत्ति से जुड़े विवाद सुलझेंगे

कुंभ राशि के जातकों के लिए यह वर्ष व्यवसायिक दृष्टि से अनुकूल रहेगा। मनोवांछित फल पाने के लिए अनुभवी व्यक्तियों से परामर्श ले सकते हैं। जनवरी से जून के मध्य स्थायी संपत्ति से जुड़े पुराने लेन-देन आपसी सहमति से सुलझा सकेंगे। जनवरी से मई 2023 के मध्य पारिवारिक समस्याएं आपको चिंतित कर सकती हैं, किन्तु धैर्य से समस्याओं का निदान सहज प्रतीत होगा। यदि आप अविवाहित हैं तो विवाह के प्रस्ताव आ सकते हैं और इन प्रस्तावों पर अंतिम निर्णय विवेक से लेने पर दांपत्य सूत्र में आपको गृहस्थ जीवन में प्रवेश के सुअवसर सुखद रहेंगे। शुभ ग्रहों के प्रभाव से पारिवारिक, सामाजिक, प्रशासनिक दुविधाएं सहज ही सुलभ होंगी। वर्ष के उत्तरार्ध में ग्रहीय परिवर्तन भूमि, भवन और वाहन से जुड़ी संभावनाएं, परिजनों को अल्हादित कर सकती है। जनवरी से फरवरी से मध्य पित्त विकार, उदर पीड़ा, पेट की तकलीफ, छाले आपको अस्वस्थ्य कर सकते हैं। बुजुर्गों एवं पुराने रोगियों की तकलीफें बढ़ सकती हैं। समय-समय पर उचित चिकित्सीय उपचार आरामदायक होगा। लापरवाही भारी पड़ सकती है। आर्थिक दृष्टि से किये गए प्रयासों में सफलता मिलेगी। कर्ज के भुगतान के प्रयास अनावश्यक खर्चों में कटौती कर लाभदायक रहेंगे।

मीन : उपलधियों से भरा होगा वर्ष

17/01/2023 से मीन राशि पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। राशि स्वामी देव गुरु बृहस्पति अपनी ही राशि में विराजमान है। यह वर्ष मीन राशि वाले जातकों के लिए उपलब्धियों से भरा रहेगा। व्यापार में चहुंमुखी प्रगति प्रदान करेगा। प्रेम विवाह के योग शंकाओं के घेरे में रहेंगे। सत्ता और संगठन के मध्य विरोधाभासी स्थिति बनती दिखाई पड़ सकती है। मीन राशि के जातक आशावादी और निराशावादी दोनों स्वभाव के होते हैं। इस राशि वाले जातक किसी के प्रति जल्दी राय नहीं बनाते। दूसरों पर बोझ बनना इनको पसंद नहीं। जन्मस्थान से दूर रहने पर इनका भाग्य चमकता है। इस राशि के जातक जिद्दी और स्वतंत्र स्वभाव के होते हैं। ये रचनात्मक और कल्पनाशील भी होते हैं। गुरु के प्रभाव से बुद्धिमान और विवेकवान होते हैं। इस राशि की नारियों को गुस्सा नहीं आता। अपवाद स्वरूप कोई गुस्सैल होती हैं। इस वर्ष अविवाहित जातकों के जीवन में दांपत्य सूत्र में बंधने के प्रबल योग नजर आ रहे हैं। मेष, सिंह और धनु लग्न के जातकों से इनकी दिनचर्या कमोवेश अशांत रहेगी। प्रतियोगी परीक्षा में यदि एकाग्रता विषयगत परीक्षा की तैयारी की तो सर्विस योग बन सकते हैं। कड़ी मेहनत का फल ही इनकी सफलता का दस्तावेज बनेगा। सर्विस योग किसी सरकारी, गैरसरकारी अथवा निजी क्षेत्र की किसी कंपनी में नियोजन के सुयोग बनते नजर आ रहे हैं। कार्य क्षेत्र में सफलता एवं समान के साथ पद वृद्धि के संकेत गोचर ग्रहों की स्थिति से बनते नजर आएंगे। 17 जून 2023 से भाग्योदय की एक नई इबारत लिखी जा सकती है। विधानसभा चुनावों में यदि आप ताल ठोकने को आतुर हो तो सफलता के योग घटित हो सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co